रिहायशी इलाके मेें मार्केट व गेस्ट हाउस बनाने का विरोध

Jalandhar Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
जालंधर। फगवाड़ा गेट के रिहायशी इलाके में मार्केट व गेस्ट हाउस बनाने के विरोध मेें फगवाड़ा गेट रेजीडेंट वेलफेयर सोसाइटी ने नगर निगम की संयुक्त आयुक्त ने ज्ञापन दिया है। इस पर संयुक्त आयुक्त अनुपम क्लेर ने मामले की जांच करने के आदेश दिए है। वहीं सोसाइटी ने नगर निगम को कार्रवाई न करने की सूरत में हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने की चेतावनी दी है। फगवाड़ा गेट रेजीडेंट वेलफेयर सोसाइटी के प्रधान मलविंदर पाल सिंह, महासचिव सीएम चोपड़ा और हरिंदर चड्ढा ने कहा कि फगवाड़ा गेट में ईके 212 नंबर प्लाट कुछ प्रापर्टी डीलरों ने खरीदा था। इसकी रजिस्ट्री गुरमीत सिंह नाम के व्यक्ति की पत्नी के नाम पर है। उन्होंने आरोप लगाया कि इन प्रापर्टी डीलरों ने रिहायशी बिल्डिंग गिरा दी है। अब मार्केट और गेस्ट हाउस को बिना नगर निगम की मंजूरी के बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस इमारत के बन जाने से आसपास के लोगों को काफी परेशानी होगी। इसलिए नगर निगम को बिना देरी किए इस पर कार्रवाई करनी चाहिए।
उन्होंने आरोप लगाया कि इस संबंधी नगर निगम ने जानकारी होने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की है। इस कारण इमारत का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। निवासियों ने कहा कि अगर जल्द ही नगर निगम ने इमारत के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की तो हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाएगा। इसके साथ ही नगर निगम की पूरी कार्यप्रणाली को भी हाईकोर्ट में रखा जाएगा। वहीं संयुक्त कमिश्नर अनुपम क्लेर ने फगवाड़ा गेट रेजीडेंट वेलफेयर सोसाइटी को जल्द मामले की जांच करने के बाद कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि मेयर सुनील ज्योति ने बिना आज्ञा निर्माण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। अगर यह निर्माण अवैध पाया गया तो उसी दिन कार्रवाई की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

लेडी खली कविता ने खोला राज, बताया कैसे पहुंची WWE तक

WWE में पहुंचनेवाली पहली भारतीय महिला कविता देवी ने अपने इंटरव्यू में की कई अहम मुद्दों पर खुलकर बात। कविता ने बताया कि उन्हें द ग्रेट खली से कितना सपोर्ट मिला और उन्हें ट्रेनिंग के कितने कड़े शेड्यूल से होकर गुजरना पड़ा।

21 अक्टूबर 2017