कपूरथला में बारिश से दावों की पोल खुली

Jalandhar Updated Thu, 23 Aug 2012 12:00 PM IST
कपूरथला। बुधवार सुबह झमाझम हुई बरसात ने नगर काउंसिल के दावों की पोल खोल कर रख दी। आठ घंटे की बारिश में नगर की विभिन्न गलियां, सड़कें और बाजारों में पानी भर गया। बारिश में कोटू चौक, अमृतसर रोड, शिव मंदिर चौक, कायम पूरा, भगत सिंह गली, मोहब्बत नगर के कई इलाकों, पुरानी दाना मंडी समेत नगर के विभिन्न क्षेत्रों में जलभराव जैसी स्थिति पैदा हो गई। लंबे समय से साफ-सफाई न होने के कारण नालों के बीच का बदबूदार कूड़ा बरसात ने सड़कों पर बिखेर दिया। अमृतसर रोड स्थित गौशाला के नजदीक तो स्थिति ऐसी थी कि बड़े नाले कि गंदगी सड़क पर आने से बदबू के कारण सांस ले पाना दूभर हो रहा था। अजय कुमार, अशोक कुमार, पवन सिंह का कहना है कि इस रोड से गुजरते निकासी नाले कि गत कई वर्षों से सफाई नहीं हुई है, जिस कारण थोड़ी सी बरसात होने पर ही यह नाला ओवरफ्लो हो जाता है। ऐसी ही स्थिति नगर के विभिन्न अंदरूनी भागों की है ।

पालीथिन लिफाफों से बंद होते हैं सीवरेज : काउंसिल अध्यक्ष
नगर काउंसिल अध्यक्ष परमजीत सिंह के मुताबिक समय-समय पर सीवरेज तथा निकासी नालों की सफाई करवाई जाती है। आम पब्लिक की ओर से पालीथिन लिफाफे सीवरेज और नालों में फेंकने के कारण ये बंद हो जाते हैं, जिस कारण समस्या आती है। नगर काउंसिल की संबंधित शाखा को इस समस्या के समाधान के निर्देश दिए गए हैं।

जमा पानी में मच्छरों की भरमार
कपूरथला। इलाके के लोगों राम सिंह, अजीत सिंह, पवन कुमार, प्रदीप सिंह, विजय कुमार, हरप्रीत सिंह, अमन कुमार ने बताया कि शहर की सड़कें खस्ताहाल होने के कारण बारिश के दिनों में सड़कों पर पड़े गड्ढों में पानी खड़ा हो जाता है। इस पर मच्छर पनपने से वे किसी भी समय डेंगू व मलेरिया जैसी बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से न तो अब तक नालियों व गड्ढों में काला तेल डालने का काम शुरू किया है और न ही नगर काउंसिल ने फोगिंग स्प्रे करवाई है। इस कारण शहर में बीमारियां फैलने का खतरा बना हुआ है। शहरवासियों ने जिला प्रशासन से इस बारे में उचित कदम उठाने की अपील की है।


बारिश से किसानों के चेहरों पर रौनक लौटी
कपूरथला। झमाझम बारिश होने से किसानों के चेहरों पर रौनक लौट आई है। सुबह करीब 7 बजे बारिश की फुहारें पड़ीं तो यह दोपहर तक पड़ती रहीं। मानसून में देरी और भीषण गरमी की वजह से धान के पौधे मुरझा रहे थे, जिन्हें बारिश से राहत मिली। जिले में करीब दो लाख 52 हजार हेक्टेयर रकबे पर धान की रोपाई की जाती है। जिला खेतीबाड़ी अधिकारी मनोहर सिंह गिल ने कहा कि इस बारिश का घीया, करेला, तौरियां, भिंडी, मटर आदि सब्जियों की फसल को भी फायदा होगा।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

लेडी खली कविता ने खोला राज, बताया कैसे पहुंची WWE तक

WWE में पहुंचनेवाली पहली भारतीय महिला कविता देवी ने अपने इंटरव्यू में की कई अहम मुद्दों पर खुलकर बात। कविता ने बताया कि उन्हें द ग्रेट खली से कितना सपोर्ट मिला और उन्हें ट्रेनिंग के कितने कड़े शेड्यूल से होकर गुजरना पड़ा।

21 अक्टूबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper