जेल से छूटकर अपना पद संभाले बीबी जागीर

Jalandhar Updated Mon, 04 Jun 2012 12:00 PM IST
कपूरथला। कस्बा बेगोवाल में रविवार को संत बाबा प्रेम सिंह मुराले वाले की 62वीं बरसी श्रद्धापूर्वक मनाई गई। इस दौरान एक जून से रखे अखंड पाठ के भोग डाले गए। समागम में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के अलावा मंत्रिगण, एमएलए, शिरोमणि अकाली दल कमेटी के सदस्य अज्ञैर सांसद शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री बादल ने कहा कि वह हर वर्ष बाबा प्रेम सिंह की बरसी में शामिल होते आए हैं, लेकिन इस बार डेरे की सेवादार बीबी जागीर कौर का बरसी में शामिल न होने का उनको दुख है। वह वाहेगुरु से अरदास करते हैं कि बीबी जागीर कौर जल्द जेल से बाहर आए और अपना मंत्री पद व डेरे की सेवा करें।
मुख्यमंत्री ने संत बाबा प्रेम सिंह का गुणगान करते हुए कहा कि उन्होंने न केवल धार्मिक सेवा की, बल्कि सामाजिक व राजनीति में भी हिस्सा लिया। उन्होंने जहां लाखों लोगों को गुरबाणी से जोड़ा, वहीं शिक्षा का भी प्रसार किया। उन्होंने पाकिस्तान में दो स्कूल खोले और उसके बाद उन्होंने यहां आकर भी तीन स्कूल खोले। इसी के साथ वह राजनीति से जुड़े और दो बार एमएलए चुने गए। उन्होंने कहा कि बीबी जागीर के नहीं होते हुए मैं हलका इंचार्ज हूं। अगर जनता को कोई भी तकलीफ हो तो वह मुझे बताए मैं उसे हल करूंगा। उन्होंने कहा कि गांवों में साफ सुथरा पानी मुहैया कराया जाएगा। दरिया के पानी को जल्द प्रदूषण मुक्त किया जाएगा। वहीं अगले दो वर्षों में सीवरेज प्लांट लगाकर गंदे पानी को साफ कर किसानों को दिया जाएगा।
स्कूलों की दशा सुधारेंगे
मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही सूबे में स्कूलों की कमी और टीचरों की कमी को पूरा किया जाएगा। इसके अलावा स्कूलों में फर्नीचर आदि की कमी भी जल्द दूर की जाएगी। इसके लिए अफसरों की ड्यूटी लगाई जा रही है, जो जगह जगह जाकर सर्वे करने के बाद सरकार को रिपोर्ट भेजेंगे।
कस्बों में खुलेंगे स्किल सेंटर
बेरोजगारी की समस्या पर मुख्यमंत्री बादल ने कहा कि इससे निपटने को जल्द ही कस्बों में स्किल सेंटर खोले जाएंगे, जहां 12वीं पास बच्चों को प्रशिक्षण देकर रोजगार दिया जाएगा। कांग्रेस पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि खेतीबाड़ी जो पहले कमाई वाला धंधा था, वह अब केंद्र की गलत नीतियों के कारण अब लाभदायक धंधा नहीं रहा। खेती की आमदन भी केंद्र सरकार पर निर्भर है, क्योंकि भाव वह निर्धारित करती है। इसके साथ डीजल व खाद के भाव भी वही निर्धारित करती है। इस समय अनाज सड़ रहा है, लेकिन केंद्र सरकार गोदाम बनाने की इजाजत नहीं दे रही। उन्होंने किसानों को कहा कि वह अपना फसली चक्र बदलें। इस मौके पर बलवंत सिंह रामूवालिया, डा.रत्न सिंह, अजीत सिंह कोहाड़, स्वर्ण सिंह फिल्लौर, सर्बजीत सिंह मक्कड़, जरनैल सिंह डोगरावाला, सुरिन्द्र सिंह भुल्लेवाल, प्रीतम सिंह नरंगपुरी, स्वर्ण सिंह जोश, भूपिंदर सिंह, सर्बजीत सिंह, मनजीत सिंह दसूहा आदि उपस्थित थे।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

लेडी खली कविता ने खोला राज, बताया कैसे पहुंची WWE तक

WWE में पहुंचनेवाली पहली भारतीय महिला कविता देवी ने अपने इंटरव्यू में की कई अहम मुद्दों पर खुलकर बात। कविता ने बताया कि उन्हें द ग्रेट खली से कितना सपोर्ट मिला और उन्हें ट्रेनिंग के कितने कड़े शेड्यूल से होकर गुजरना पड़ा।

21 अक्टूबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper