बंसल से पंजाब को बड़े प्रोजेक्ट पूरे होने की आस

Firozpur Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
फिरोजपुर। संसदीय मामलों के मंत्री पवन कुमार बंसल के रेलमंत्री बनने से रेलवे से संबंधित पंजाब में रुके कई बड़े प्रोजेक्टों को हरी झंडी मिलने की संभावना जागी है। फिरोजपुर से अमृतसर के बीच नई रेल पटरी बिछाने के फाइनल सर्वे की फाइल बाहर निकलने की उम्मीद है। इतिहास रहा है कि जिस राज्य का रेल मंत्री बना है, उसने अपने क्षेत्र का ही विकास करवाया है। अब पंजाब की किस्मत जागी है। इससे पहले किसी रेल मंत्री ने पंजाब को कोई बड़ा प्रोजेक्ट नहीं दिया है।
बंसल के रेल मंत्री बनने से पंजाब के लोगों में खुशी है। बंसल लुधियाना और चंडीगढ़ के बीच बिछाई जा रही रेल पटरी पर 2013 में ट्रेन चलाने की घोषणा कर सकते हैं। साथ ही फिरोजपुर और दिल्ली के बीच जनशताब्दी ट्रेन चलने की भी उम्मीद है। फिरोजपुर से ऐसी कोई ट्रेन नहीं है जो सुबह दिल्ली जाकर शाम को वापस लौट सके। इसके अलावा फाजिल्का से हरिद्वार और चंडीगढ़ तक नई ट्रेन चलाए जाने की भी उम्मीद है। रेल डिवीजन फिरोजपुर के अधिकारियों का कहना है कि बंसल के रेलमंत्री बनने से लोगों की मांग पर रेल मंत्रालय भेजे जाने वाले प्रपोजलों को भी हरी झंडी मिलेगी। अधिकारियों का कहना है कि उनकी तरफ से कई बार रेल मंत्रालय को फिरोजपुर से दिल्ली जनशताब्दी चलाने का प्रपोजल भेजा गया, जिसे स्वीकार नहीं किया गया। रेल अधिकारियों का कहना है कि फिरोजपुर से अमृतसर के बीच नई रेल पटरी बिछाना और लुधियाना-चंडीगढ़ के बीच ट्रेन चलाना दोनों बड़े प्रोजेक्ट हैं। जो अब रेलमंत्री पवन कुमार बंसल ही मुकम्मल करवा सकते हैं। पंजाब का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट फिरोजपुर-अमृतसर के बीच रेल पटरी बिछना है। इसके बिछने से राजस्थान, पंजाब और जम्मू-कश्मीर एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे और व्यापार में भी बढ़ोतरी होगी। इसके अलावा जीरा तहसील को भी रेलमार्ग से जोड़ने की प्रपोजल भेजने की तैयारी हो रही है।

बाक्स
फिरोजपुर-अमृतसर के बीच नई रेल पटरी बिछाने का फाइनल सर्वे हो चुका है। मल्लांवाला से पट्टी और फिर अमृतसर तक ट्रैक बिछना तय हुआ था। इस प्रोजेक्ट के लिए 400 करोड़ रुपये का बजट तय किया गया था। रेल डिवीजन फिरोजपुर के अधिकारियों ने नक्शे और जमीन खरीदने के अलावा अन्य सभी कार्य की योजना बना ली थी। लेकिन रेल मंत्रालय ने किसी कारण इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। इस प्रोजेक्ट के लिए उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल, अमृतसर के सांसद नवजोत सिंह सिद्धू व पंजाब के कई और सांसद तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव से मिले थे। इन सभी नेताओं को लालू प्रसाद ने आश्वासन दिया था कि इस प्रोजेक्ट को रेल बजट में हरी झंडी दी जाएगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं। तब से लेकर अब तक इस संबंधी किसी रेलमंत्री ने इस पर ध्यान नहीं दिया। इस रेल पटरी के बिछने से अमृतसर आने वाले टूरिस्ट फिरोजपुर भी आ सकेंगे। यहां पर शहीद भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव की समाधि के अलावा कई ऐतिहासिक इमारतें हैं। इसके अलावा पंजाब, राजस्थान और जम्मू-कश्मीर रेल मार्ग से जुड़ जाएंगे। व्यापार में बढ़ोतरी होगी। बेरोजगार नौजवानों को रोजगार मिलेगा।

Spotlight

Most Read

Jammu

महबूबा की PM और पाक से अपील, बोलीं- कश्मीर को अखाड़ा नहीं, दोस्ती का पुल बनाएं

जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने आज पुलिस कांस्टेबलों की पासिंग आउट परेड को संबोधित किया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

‘पद्मावत’ के घूमर में दीपिका की कमर को बिना दोबारा शूट किए ऐसे छिपाया गया

फिल्म ‘पद्मावत’ पर जितना बवाल हुआ है बीते कुछ वक्त में शायद की किसी फिल्म में इतना बवाल नहीं हुआ होगा। सेंसर बोर्ड ने फिल्म में कुछ बदलाव किए हैं। फिल्म के गाने ‘घूमर’ में भी दीपिका की कमर को लेकर आपत्ति जताई गई।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper