लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Two terrorists arrested from Thana Verowal area of TarnTaran

Punjab News: शौर्यचक्र विजेता बलविंदर हत्याकांड का आरोपी दो साथियों समेत गिरफ्तार, असलहा बरामद

अमर उजाला ब्यूरो/संवाद न्यूज एजेंसी, चंडीगढ़/तरनतारन Published by: निवेदिता वर्मा Updated Tue, 09 Aug 2022 02:37 PM IST
सार

आतंकवाद से लोहा लेने वाले शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह भिखीविंड की 16 अक्तूबर, 2020 को गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। सरकार ने इस मामले की जांच एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) को सौंप दी थी।

तरनतारन मे आतंकियों से बरामद हथियार।
तरनतारन मे आतंकियों से बरामद हथियार। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह संधू के हत्यारों को हथियार मुहैया कराने वाले गुरविंदर सिंह उर्फ बाबा उर्फ राजा को पुलिस ने उसके दो साथियों अमृतसर निवासी संदीप सिंह उर्फ काला और गुरप्रीत सिंह उर्फ रंधावा के साथ गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से एक हथगोला, आरडीएक्स-आईईडी, .30 बोर की दो पिस्तौल, मैगजीन, 13 कारतूस, 635 ग्राम हेरोइन, 100 ग्राम अफीम, 36.90 लाख रुपये और एक लांसर कार बरामद की गई है।



पुलिस का दावा है कि विस्फोटक सामग्री का इस्तेमाल स्वतंत्रता दिवस के दौरान पंजाब की शांति व्यवस्था बिगाड़ने के लिए किया जाना था। पंजाब के कार्यवाहक डीजीपी गौरव यादव ने मंगलवार को बताया कि आरोपी गुरविंदर भगोड़ा था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी भी उसकी तलाश कर रही थी। गुरविंदर ने बलविंदर सिंह संधू की हत्या में अहम भूमिका निभाई थी। 


गुरविंदर कुख्यात गैंगस्टर सुखप्रीत सिंह उर्फ हैरी चट्ठा और सुखमीतपाल सिंह उर्फ सुख भिखारीवाल का करीबी है, जो बलविंदर सिंह संधू की हत्या के मुख्य आरोपी हैं। फिरोजपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक जसकरण सिंह ने मंगलवार को प्रेसवार्ता में बताया कि सूचना मिली थी कि गुरविंदर अपने सहयोगी संदीप के साथ सफेद रंग की लांसर कार में श्री खडूर साहिब जा रहा है। तरनतारन पुलिस ने नाकेबंदी कर उसे कार समेत दबोच लिया। 

ड्रोन के जरिये पाक से भेजा गया विस्फोटक
आईजीपी जसकरण सिंह ने बताया कि गुरविंदर बाबा से पूछताछ के बाद गुरप्रीत सिंह उर्फ रंधावा को गिरफ्तार किया, जिसकी निशानदेही पर बटाला थानाक्षेत्र से एक हथगोला, एक आरडीएक्स-आईईडी और 33 लाख रुपये की ड्रग मनी बरामद की गई। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि बरामद विस्फोटक, हथियार और ड्रग्स, ड्रोन के जरिये पाकिस्तान से भेजे गए थे। तरनतारन के एसएसपी रणजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि इसकी गिरफ्तारी से सीमा पार तस्करी मॉड्यूल का और खुलासा होने की उम्मीद है।

दो साल पहले हुई थी हत्या 
आतंकवाद से लोहा लेने वाले शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह भिखीविंड की 16 अक्तूबर, 2020 को गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। सरकार ने इस मामले की जांच एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) को सौंप दी थी। जांच में सामने आया था कि हत्या के तार खालिस्तान मूवमेंट से जुड़े हैं और पाकिस्तान में आईएसआई की शह पर काम कर रहे खालिस्तान समर्थकों ने इसे अंजाम दिया है। 

इस मामले में एनआईए ने आरोपी गुरजीत सिंह, सुखजीत सिंह भूरा निवासी गुरदासपुर, इंद्रजीत सिंह निवासी गांव रैशियाना, सुखराज सिंह उर्फ सुक्खा उर्फ लखनपाल निवासी गुरदासपुर, सुखमीतपाल सिंह उर्फ सुक्ख भिखारीवाल, लवप्रीत सिंह, हरपिंदर सिंह, आकाशदीप सिंह धारीवाल, जगदीप सिंह लुधियाना, रविंदर सिंह रवि लुधियाना के विरुद्ध आरोप पत्र दायर किया, जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00