गुंडागर्दी के खिलाफ दिखाई एकजुटता

Bathinda Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
फरीदकोट। बहुचर्चित छात्रा अपहरण कांड को लेकर शुक्रवार को जिला फरीदकोट के लोगों ने एकजुटता का परिचय दिया। इस मामले को लेकर पिछले 19 दिन से संघर्षशील गुंडागर्दी विरोधी एक्शन कमेटी के बंद का जिले भर में असर दिखा और हर शहर व कस्बे में विभिन्न संगठनों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया।
फरीदकोट के मिनी सचिवालय में आयोजित विशाल रोष धरने में शामिल 100 से भी अधिक संगठनों के हजारों कार्यकर्ताओं ने एक मत से पंजाब में राजनीतिक शह पर बढ़ती गुंडागर्दी पर चिंता जताई।
पंजाब स्टेट लीगल अथारिटी की सदस्य व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री लक्ष्मी कांता चावला ने कहा कि पंजाब जैसे हालात कभी बिहार व उड़ीसा में भी देखने को नहीं मिले। आतंकवाद के समय जब आतंकवादियों ने पंजाब की बहन बेटियों की इज्जत पर हाथ डाला था, उस समय ही उनका अंत हुआ। लोग जागृत हो चुके हैं और गुंडों को भी आतंक की तरह जड़ से खत्म किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब मध्यप्रदेश के किसान अपने हक के लिए दिल्ली की तरफ पैदल मार्च कर सकतें है तो फरीदकोट की बेटी के लिए चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री व राजपाल आवास तक भी पहुंचा जा सकता है। एक महिला होने के नाते ही फरीदकोट की सांसद परमजीत कौर गुलशन को कदम उठाने चाहिए थे, लेकिन उनकी चुप्पी से वह खुद ही शक के दायरे में आ रही हैं।
सीपीआई के पूर्व विधायक हरदेव अर्शी ने कहा कि अपहरण कांड के तार बड़े नेताओं से जुड़े हुए हैं और ऐसी स्थिति में छात्रा की जान पर भी खतरा बना हुआ है। सीपीआई के प्रांतीय सचिव बंत सिंह बराड़ ने कहा कि फरीदकोट की घटना ने पंजाब के हर आम आदमी को सोचने के लिए मजबूर कर दिया है।
शिअद विधायक दीप मल्होत्रा ने कहा कि फरीदकोट का प्रतिनिधि होने के नाते यहां की गुंडागर्दी के खिलाफ वह जनता के साथ हैं। रोष धरने में सीपीआई नेता डा.जोगिंदर दयाल, सीटू नेता कामेरड रधूनाथ, कांग्रेस के पूर्व शिक्षा मंत्री अवतार सिंह बराड़, यूथ कांग्रेस नेता सुखविंदर सिंह डैनी, वीना शर्मा, पूर्व भाजपा सांसद गुरचरण कौर, लोक जन शक्ति पार्टी के किरणजीत सिंह गहरी, एलआईसी कर्मचारी नेता वीके वासूदेव, लोक मोर्चा के जगमेल सिंह, जनवादी स्त्री सभा की सुरिंदर कौर, टीएसयू नेता मिठ्ठू सिंह, स्वतंत्रता सेनानी अमरजीत सुखीजा, खेत मजदूर नेता दर्शन सिंह सेवेवाला, गुरतेज सिंह हरीनौ, पीएसएफ नेता बलजीत सिंह, पंजाब स्टूडेंट यूनियन के प्रांतीय सचिव राजिंदर सिंह, अमन दियोल, कर्मचारी नेता अमरजीत परमार, भाकियू नेता जोगिंदर सिंह उगराहा, नैब सिंह भगतूआना समेत एक्शन कमेटी के सदस्य एसएस संधू, रूलदु सिंह औलख, अशोक कौशल, जगतार सिंह विरदी, सुखविंदर सिंह सुक्खी, सतीश वधवा, दलीप सिंह, दविंदर सिंह, भूपिंदर सिंह संगतपूरा, शीला मनंचदा, आशा रानी ने भी संबोधित किया।
पंजाब स्टूडेंट यूनियन व भारत नौजवान सभा की अगुवाई में विभिन्न स्कूलों व कालेजों के हजारों छात्र छात्राएं भी नेहरू स्टेडियम से रोष मार्च के रूप में धरने में शामिल हुए। मिनी सचिवालय में धरने के बाद एक्शन कमेटी की तरफ से भाई घनैया चौक में चक्का जाम भी किया गया।

कोटकपूरा व जैतो में रोष प्रदर्शन
कोटकपूरा/जैतो/सादिक। छात्रा अपहरण कांड के खिलाफ जिला बंद का फरीदकोट के अलावा जिले के बाकी शहरों व कस्बों में भी व्यापक असर देखने को मिला। चैंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्री समेत शहर के तमाम समाजसेवी संस्थाओं व राजनीतिक पार्टियों ने बंद को भरपूर समर्थन दिया। बंद के दौरान ढोढा चौक में गुंडागर्दी के खिलाफ रोष धरना भी दिया गया। इस मौके पर कृष्ण सिंगला, रमन मनंचदा, दविंदर नीटू, श्याल लाल मैंगी, भूषण मित्तल, नरेश मित्तल, राम शरण दास भठेजा, हर्ष अरोड़ा, मनोहर सिंह कालड़ा, कमल गर्ग, भाजपा नेता आशु गर्ग, प्रदीप शर्मा, स्वर्ण सिंह पीटर, अश्विनी कुमार, बसपा नेता नरिन्द्र राठौर ने भी विचार रखे।
धरने के बाद लाल बत्ती चौक में करीब एक घंटे तक चक्का जाम रखा गया। जैतो शहर में बंद का व्यापक असर रहा। बंद के दौरान शहर की सामाजिक संस्थाओं ने चौक नंबर एक में रोष धरना भी दिया। इस मौके पर बलवीर सिंह गिरी, हरचरण सिंह, करता राम सेवक, जसबीर जस्सी, जगतार सिंह, तेजा सिंह, पवन बांसल, तरसेम बांसल, सुनील गर्ग, मेजर सिंह, हरनेक सिंह, मुकेश गोयल आदि ने विचार रखे।

सीबीआई से जांच करवाने की मांग
फरीदकोट। छात्रा अपहरण कांड को लेकर मिनी सचिवालय में विशाल रोष धरने में एक्शन कमेटी ने सीबीआई से जांच करवाने की मांग रखी। कमेटी सदस्य जगतार सिंह विरदी ने जनता के सामने पांच प्रस्ताव रखे। इन प्रस्तावों में छात्रा को जल्द बरामद करके आरोपियों को गिरफ्तार करने, आरोपियों को भगोड़ा करार देकर उनकी जायदाद जब्त करने, आरोपियों की मदद करने वाले राजनेताओं के नाम उजागर करने, मामले में लापरवाही दिखाने व आरोपियों की मदद करने वाले पुलिस अधिकारियों को बर्खास्त करने समेत सीबीआई को जांच सौंपने की मांग रखी गई, जिसे धरनाकारियों ने हाथ उठाकर स्वीकृति दी।
एक्शन कमेटी के एक अन्य सदस्य सुखविंदर सिंह सुक्खी ने अगले कार्यक्रम की घोषणा करते हुए कहा कि थाना कोतवाली के आगे दिया जा रहा रोष धरना जारी रहेगा और शनिवार से गांवों में झंडा मार्च निकाले जाएंगे। साथ ही 24 अक्तूबर को दशहरा पर्व पर रावण, मेघनाथ व कुभकर्ण की जगह गुंडागर्दी के पुतले फूंक कर रोष प्रदर्शन किया जाएगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Meerut

भाभी के साथ पति को आपत्तिजनक हालत देख... उड़े पत्नी के होश, उठाया ये बड़ा कदम

एक महिला मायके से सुसराल पहुंची तो उसने अपने पति को भाभी के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया और उसके होश उड़ गए। फिर महिला ने ये बड़ा कदम उठाया।

20 मई 2018

Related Videos

देश-दुनिया की खबरों का राउंड-अप हर रोज शाम 05 बजे

मध्य प्रदेश में गोहत्या के शक में भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर मार डाला और पेट्रोल की कीमत जा सकती है 90 रुपये प्रति लीटर तक, साथ ही देश-दुनिया की और भी खबरें अमर उजाला टीवी पर।

20 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen