विज्ञापन

जिला प्रधान के बेटे और अकाली दल के 14 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज

Panchkula bureau Updated Wed, 12 Sep 2018 12:47 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विज्ञापन
गुरदासपुर के मिनी सचिवालय में सोमवार को हुए झगड़े के बाद जिला अकाली दल के 14 लोगों के खिलाफ थाना सिटी पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। मामला पुलिस कर्मचारी एएसआई धर्मजीत सिंह के बयान पर दर्ज किया गया है। मामले में कांग्रेस और अकाली दोनों पक्षों की ओर से कोई शिकायत नहीं दी गई है। इस केस के बाद अकाली दल के जिला प्रधान गुरबचन सिंह बब्बेहाली की अध्यक्षता में एसएसपी को मांगपत्र देने पहुंचे।

उन्होंने वीडियो दिखाकर उन कांग्रेसियों के खिलाफ मामला दर्ज के लिए कहा जिन्होंने वहां झगड़ा किया और तीन अकालियों की पगड़ी उतारी थी। एसएसपी के वहां मौजूद ने होने कारण एसपी (डी) को मांग पत्र दिया गया। एसएसपी स्वर्णदीप सिंह ने कहा कि पुलिस ने फिलहाल एएसआई के बयान पर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है जो ज्यादा आक्रामक थे। बाकी लोगों के खिलाफ जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि पुलिस को मांगपत्र मिल गया है। इसके आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
 
इन लोगों पर दर्ज किया गया मामला
इस केस में जिला प्रधान के बेटे अमरजोत सिंह बब्बेहाली, नगर सुधार ट्रस्ट के पूर्व चेयरमैन सतीश कुमार थानेवाल सहित दिलप्रीत सिंह गांव दाखला, किंदा बब्बेहाली, कश्मीर सिंह, किरपाल सिंह, अवतार सिंह सरपंच काला नंगल, जागीर सिंह भुंभली, हरबरिंदर सिंह गांव पाहड़ा, बब्बू निवासी जीवनवाल, हरप्रीत सिंह बबरी, सुच्चा सिंह हेमराजपुर, महिंदर सिंह सिधवां और लाली निवासी मुस्तफापुर पर मामला दर्ज किया गया है।
 
क्या सिर्फ अकाली ही आपस में लड़े : बब्बेहाली
जिला प्रधान गुरबचन सिंह बब्बेहाली, बटाला के विधायक लखबीर सिंह लोधीनंगल, जगरूप सिंह सेखवां ने पुलिस प्रशासन, एसडीएम गुरदासपुर की कार्यप्रणाली पर कई सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि जिस तरह पुलिस ने केवल एकतरफा मामला दर्ज किया है उससे साबित होता है कि पुलिस कांग्रेस के हाथों की कठपुतली है। हमेशा दो गुटों में लड़ाई होती है। केवल अकाली दल पर मामला दर्ज किया गया है इससे पता लगता है कि वहां केवल अकाली ही आपस में भिड़े। वह अपने साथियों सहित एसडीएम के कार्यालय में नामांकन पत्रों की जांच करवाने के लिए गए लेकिन वहां विधायक का भाई और पिता क्यों आए।
 
उन्होंने कहा कि वह उक्त लोगों की जमानत करवाएं या नहीं इसके बारे में निर्णय अकाली दल प्रधान सुखबीर बादल करेंगे। यदि गिरफ्तारी दी जानी होगी तो लगभग 10 हजार वर्कर के साथ गिरफ्तारी देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इन लोगों के खिलाफ इसलिए केस दर्ज किया गया है ताकि यह चुनाव प्रचार में हिस्सा न ले सके। इस दौरान घोषणा की गई कि अकाली दल जिला परिषद व ब्लाक समिति चुनाव में हलके अनुसार चुनाव का बहिष्कार करेगी। गुरदासपुर, डेरा बाबा नानक और फतेहगढ़ चूड़ियां ब्लॉक में बहिष्कार किया जाएगा। बटाला, कादियां और श्रीहरगोबिंदपुर ब्लॉक में चुनाव होगा।


 
 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

पंजाबः अमृतसर में गिरा ओवरब्रिज, मलबे के नीचे से निकाले गए 11 लोग, मची अफरातफरी

पंजाब के अमृतसर में सोमवार देर रात बहुत बड़ा हादसा हो गया। यहां एक ओवरब्रिज गिर गया और मलबे के नीचे एक कार समेत कई मजदूर दब गए।

25 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

सुखबीर सिंह बादल को हुआ है मुंह का जुलाब: नवजोत सिंह सिद्धू

सुखबीर सिंह बादल और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच करतारपुर गलियारे के मुद्दे पर जुबानी जंग तेज हो गई है। नाराज सिद्धू ने कहा कि सुखबीर सिंह बादल को हुआ है मुंह का जुलाब हुआ है उसमें मेरा कोई दोष नहीं है।

19 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree