लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Kanpur: रशियन डांसरों से अभद्रता, विरोध में मिली मौत, गालियों के साथ शुरू हुई थी फायरिंग

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: हिमांशु अवस्थी Updated Sun, 27 Nov 2022 09:06 AM IST
bouncer death case
1 of 6
विज्ञापन
कानपुर में हर्ष फायरिंग में जान गंवाने वाला सादिक अर्थिक संकट से जूझ रहा था। वर्ष 2007 से 2016 के बीच वह सात बार मिस्टर कानपुर (शारीरिक सौष्ठव प्रतियोगिता के विजेता) रहे। इसके बाद वर्ष 2017 में पहली बार मिस्टर यूपी चुने गए थे।

एक-एक रुपये जोड़कर उसने छह साल पहले मीरपुर कैंट में मीनारी मस्जिद के पास गुलजार अल्टिमेट के नाम से जिम खोले। जिम न चलने के वजह से वह दुकान और बिजली का बिल भी नहीं भर पा रहे थे। इसके चलते उन्होंने रात में बाउंसर की नौकरी करना शुरू कर दिया था।

भाई साजिद का कहना था कि पिता की मौत के बाद से वह घर खर्च चला रहे थे। उनकी मौत से पूरा परिवार सड़क पर आ गया। बुजुर्ग मां शमीम फातिमा, पत्नी आश्मा और दो बेटियों आयरा (5) व आरफा (3) का रो-रोकर बुरा हाल है।
bouncer death case
2 of 6
800 रुपये नाइट पर साथियों संग गए थे रॉयल गार्डेन
भाई साजिद ने बताया कि शादी समारोह में देख रेख के लिए मीरपुर के रहने वाले अडवानी (बारबर) नाम के शख्स ने बुक किया था। इसके एवज में उसने प्रति बाउंसर 800 रुपये देने की बात तय हुई थी। भाई की मौत के बाद न तो कोई देखने आया। ना ही कोई मदद की गई।
विज्ञापन
bouncer death case
3 of 6
साथी बाउंसरों के बुलावे पर गए थे सादिक
भाई का कहना है कि रशियन युवतियां जब डांस कर रही थीं, तो बीजेपी नेता व उनके साथी उनके साथ डांस करते हुए फायरिंग कर रहे थे। साथियों के मना करने के बाद भी कोई नहीं मान रहा था। बीजेपी नेता उनसे अभद्रता कर रहे थे। इसके चलते बाउंसर हिमांशु ने सादिक को कॉल कर स्टेज पर बुलाया। सादिक जब वहां पहुंचे तो बीजेपी नेता व उनके साथी भड़क गए थे। गाली गलौज करते हुए फायरिंग शुरू कर दी थी। इसके चलते उसके भाई की मौत हो गई।
bouncer death case
4 of 6
2024 में मिस्टर इंडिया की तैयारी कर रहा था सादिक
भाई साजिद ने कहा कि वह सात बार मिस्टर कानपुर रह चुका है और एक बार मिस्टर यूपी रहा है। वर्तमान में वह सन 2024 में होने वाले मिस्टर इंडिया के लिए तैयारी कर रहा था।
विज्ञापन
विज्ञापन
bouncer death case
5 of 6
शरीर में लगे 57 छर्रे, अधिक खून बहने से मौत
सादिक का पोस्टमार्टम शनिवार शाम को पूरा हो सका। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उसके शरीर में 57 छर्रे लगे जिसमें कुछ छर्रों में अंदरूनी अंगों को नष्ट कर दिया। इससे इंटरनल और एक्सटरनल ब्लीडिंग अत्याधिक हुई। उसी के कारण सादिक की मौत हो गई।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00