लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Himachal Weather: आनी में बादल फटा, मलबे में दबने से नानी-दोहती की मौत, ट्रेन पर गिरा पेड़, 170 सड़कें बंद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शिमला Published by: अरविन्द ठाकुर Updated Thu, 11 Aug 2022 05:48 PM IST
रामपुर में मलबे में दबी गाड़ियां।
1 of 6
विज्ञापन
हिमाचल प्रदेश में बुधवार रात से जारी बारिश से भारी तबाही हुई है। प्रदेशभर में एक नेशनल हाईवे समेत 170 सड़कें अवरूद्ध हैं। 873 बिजली ट्रांसफार्मर ठप और 14 जलापूर्ति योजनाएं प्रभावित चल रही हैं। मंडी और कुल्लू जिले में बारिश से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। कुल्लू जिले के आनी में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। शिल्ली पंचायत के खदेड़ गांव में बादल फटने से रिहायशी मकान भूस्खलन की चपेट में आ गया। 62 वर्षीय महिला चबेलू देवी और उनकी दोहती प्रितिका (16) की मलबे में दबकर मौत हो गई है। प्रितिका 11 वीं कक्षा की छात्रा थी। ग्रामीणों के अनुसार चबेलू देवी घर में अपनी दोहती के साथ सोई हुई थी। बादल फटने के बाद घर की दीवार तोड़कर मलबा अंदर आ घुसा। दोनों मलबे में दब गईं। जानकारी मिलते ही ग्रामीण किशोरी लाल ने तुरंत पंचायत प्रधान और आनी प्रशासन को इसकी सूचना दी। ग्रामीणों ने मौके पर राहत और बचाव कार्य शुरू किया। दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद मलबे से बाहर निकाला तो दोनों की मौत हो चुकी थी। एसडीएम नरेश वर्मा ने बताया कि सड़कें अवरूद्ध होने के कारण प्रशासन की टीम को पैदल सफर करना पड़ा जिसमें काफी समय लग गया। करीब डेढ़ बजे पुलिस दल मौके पर पहुंचा। बीएमओ आनी डॉ. भागवत मेहता ने बताया कि शवों का पोस्टमॉर्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है।
भंगरोटू प्राइमरी स्कूल में घुसा पानी।
2 of 6
वहीं, च्वाई क्षेत्र में भी बारिश ने गुगरा खड्ड में तबाही मचा दी। गुगरा में तीन गाडियां,  एक बाइक और चिलिंग प्लांट बाढ़ की चपेट में आ गए। जाबन पंचायत के निगाडी कैंची में जगह-जगह भूस्खलन हुआ है। बागवानों के सेब के बगीचे क्षतिग्रस्त हुए हैं। जगह-जगह रास्ते टूट गए हैं। आनी बाजार के साथ बहती देउरी खड्ड ने तांडव मचा दिया। आनी के पुराने बस स्टैंड में दस दुकानें खड्ड में ताश के पत्ते की तरह बह गईं। नगर पंचायत पार्षद शशि मल्होत्रा ने बताया कि पंचायत द्वारा बनाई दस दुकानों में दो होटल, पांच सब्जी की दुकानें, दो गारमेंट्स की दुकानें और एक विद्युत उपकरणों की दुकान थी। खड्ड में दुकानें बहने से भारी नुकसान हुआ है। वहीं खड्ड के कटाव से ओल्ड बस स्टेंड और मुख्य पुल को भी खतरा हो गया है। एसडीएम नरेश वर्मा ने बताया कि वे स्वयं प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। क्षेत्र में हुए नुकसान की रिपोर्ट तैयार की जा रही है। मृतकों के परिजनों को 15-15 हजार रुपये और दस प्रभावित दुकानदारों को पांच-पांच हजार की फौरी राहत दी गई है। 
विज्ञापन
himachal weather update: cloudburst in anni kullu two women killed nh and other roads blocked due to landslide
3 of 6
रामपुर बुशहर की इंदिरा मार्किट रामपुर में नाले में पानी आने से कई गाड़िया मलबे में दब गई हैं। मंडी- कुल्लू राष्ट्रीय राजमार्ग पर 7 मील के पास तथा वाया कटौला मार्ग कमांद के पास पहाड़ से पत्थर गिरने के कारण बंद हो गया है। यहां जीप पर पत्थर गिरे हैं। घटना में किसी को कोई चोट नहीं आई है। समय रहते सब गाड़ियों से बाहर निकल गए। मंडी पठानकोट एनएच उरला के पास दो घंटे बंद रहा। भारी बारिश से सुंदरनगर की बीबीएमबी कॉलोनी जलमग्न हो गई है। चांबी पंचायत के जंगम बाग में सुबह 4:30 बजे में निर्माणाधीन भवन का मलबा एक मकान पर गिरने से उसमें परिवार के 9 लोग फंस गए। 8 लोग किसी तरह बाहर निकलने में सफल रहे लेकिन एक महिला को बाहर निकालने के लिए प्रशासन को 4 जीसीबी मशीनें लगानी पड़ीं। मलबा हटा कर महिला को सुरक्षित निकाल लिया गया है। मंडी जालंधर वाया धर्मपुर नेशनल हाईवे लौंगनी के पास बंद है। ब्यास समेत सभी नदी-नाले उफान पर है। वहीं बीएसएल परियोजना की पुंघ टनल के पास सुबह नाले में मलबा गिरने से सारा पानी बीएसएल जलाशय की ओर आ गया जिससे पुंघ टनल का क्षेत्र झरने में बदल गया।
himachal weather update: cloudburst in anni kullu two women killed nh and other roads blocked due to landslide
4 of 6
यहां पर साथ ही स्थित बीएसएल परियोजना की सुरक्षा गार्द की रिहायश में भी पानी तीन फीट तक भर गया। यहां रह रहे पुलिस कर्मियों को भागकर अपनी जान बचानी पड़ी। इसके साथ ही सटे कल्याण गो सदन में भी सुबह चार बजे निर्माणाधीन फोरलेन की तरफ से पानी आ घुसा। जिसके कारण गोसदन के शैडों में जहां मवेशी बांधे जाते हैं तीन-चार फीट पानी भर गया। किसी तरह से मवेशियों को बाहर निकालने का कार्य कर खुले शेड में पानी के बीच ही बांधना पड़ा। बारिश के कारण यहां पर लाखों रुपयों का चारा भी खराब हो गया है। डीएवी सुंदरनगर स्कूल को जाने वाली सड़क पर भी तीन-तीन फीट पानी आ गया। जिसके कारण स्कूल में आज अवकाश कर दिया गया है। डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने बताया कि बचाव कार्य जारी है। भारी बारिश हुई है। नुकसान का आकलन किया जा रहा है। जानी नुकसान की कोई सूचना नहीं है  लोग सावधानी से बाहर निकलें और नदीं-नालों के पास जाने से परहेज करें। नालों में बाढ़ आने से मनाली-लेह मार्ग अवरूद्ध हो गया है। वहीं पत्थर गिरने से ग्रांफू-काजा मार्ग भी बंद है। बारिश से जिला कुल्लू और लाहौल में जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। भूस्खलन से 25 से ज्यादा सड़कें बंद हैं
विज्ञापन
विज्ञापन
himachal weather update: cloudburst in anni kullu two women killed nh and other roads blocked due to landslide
5 of 6
कहां कितनी बारिश (मिमी में)
सुंदरनगर 141.8 मिमी
जवाली 101 मिमी
नेरी (हमीरपुर) 102 मिमी
गोहर 90 मिमी
मंडी 69.8 मिमी
पांवटा साहिब 97.6 मिमी
सराहन 94.5 मिमी
रेणुका 68  मिमी
भराड़ी 85.5 मिमी
नादौन 67 मिमी
गुलेर 75.4  मिमी
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00