लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

UP: आठ अक्तूबर तक भारी बारिश के आसार, कई जिलों में येलो अलर्ट

अमर उजाला नेटवर्क, लखनऊ Published by: विजय पुंडीर Updated Thu, 06 Oct 2022 09:37 AM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
1 of 5
विज्ञापन
विजयदशमी के दिन बुधवार को हुई भारी बरसात थमने वाली नहीं। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि यह सिलसिला अभी आठ अक्तूबर तक जारी रह सकता है। नौ अक्तूबर से राहत मिलेगी। इस दौरान मौसम विभाग ने प्रदेश के अलर्ट जारी किया है। जारी चेतावनी के मुताबिक प्रदेश में कहीं भारी तो कहीं अत्य़धिक भारी बारिश के आसार बन रहे हैं।
प्रतीकात्मक तस्वीर
2 of 5
वहीं, बुधवार को लखनऊ में सुबह से जारी बारिश का दौर खबर लिखे जाने तक जारी रहा। सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र में 61.4 डिग्री बरसात रिकॉर्ड हुई है। जून से 30 सितंबर तक की बात करें तो इतनी बारिश एक दिन में कभी नहीं हुई। इस सीजन में मानसूनी बारिश भी 60 मिमी से नीचे ही दर्ज हुई है।
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
3 of 5
आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक कम दबाव के क्षेभ का सक्रिय होना, पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता व टर्फ लाइन का मध्य उत्तर प्रदेश से होकर गुजरने जैसे तीन कारणों का असर है कि बारिश हो रही है।
प्रतीकात्मक तस्वीर
4 of 5
इन जिलों व आसपास के इलाकों के लिए येलो अलर्ट
बरेली, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी. फरुर्खाबाद, कानपुर देहात, कन्नौज, जालौन, झांसी, महोबा, बांदा, रामपुर नगर, उन्नाव, सीतापुर लखनऊ, बाराबंकी, रायबरेली, कौशांबी, बंदायू, प्रयागराज, प्रतापगढ़, जौनपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, अयोध्या, बस्ती, अंबेडकरनगर, सिद्धार्थ नगर, सोनभद्र, कबीरनगर, गोरखपुर, गाजीपुर, बलिया, कुशीनगर, देवरिया, महाराजगंज व इन जिलों के आसपास के इलाकों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
बारिश से फसल को हुआ नुकसान
5 of 5
बाराबंकी में बरसात से फसलों को नुकसान
अक्टूबर के पहले सप्ताह में बिगड़े मौसम ने किसानों की नींद उड़ा दी है। जिले में बुधवार भोर शुरू हुई बरसात पूरा दिन होती रही। बरसात से कई जगहों पर खेतों में कटी पड़ी धान की फसल डूब गई है तो जो फसल परिपक्व हो रही थी वह भी खेतों में बिछ गई है। सब्जियों की फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। उप कृषि निदेशक श्रवण कुमार ने बताया कि अक्टूबर के महीने में धान की फसल भी तैयार होने वाली होती है। इस समय खेती को पानी की आवश्यकता नहीं होती मगर बरसात के कारण फसलों को  नुकसान पहुंचा है। बरसात के कारण शहर से लेकर गांव तक जल भराव हो गया है। शहर के दशहराबाग खलरिया, मखदुमपुर लक्ष्मणपुरी कॉलोनी बाल विहार कॉलोनी कार्तिक विहार कॉलोनी व लखपेड़ाबाग में कई जगहों पर सड़कों पर पानी भरने से आवागमन प्रभावित हुआ। बुधवार को पूरे जिले में दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन होने के दौरान बरसात होने से पुलिस प्रशासन को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग ने बृहस्पतिवार को भी बरसात की संभावना जताई है ।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00