लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

अक्षय संग काम कर चुका ये एक्टर हुआ पाई-पाई का मोहताज, फिल्में छोड़ करनी पड़ रही गार्ड की नौकरी

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: shrilata biswas Updated Tue, 19 Mar 2019 09:32 AM IST
savi sidhu
1 of 6
विज्ञापन
बॉलीवुड और ग्लैमर की दुनिया में काम करने के लिए हर साल लाखों की संख्या में मुंबई पहुंचते हैं। उनमें से कई सक्सेसफुल होते हैं तो कईयों को लंबे समय तक संघर्ष करते रहना पड़ता है। ऐसे ही एक एक्टर सवी सिद्धू इन दिनों चर्चा में हैं, जिन्हें अब अपना घर चलाने के लिए सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करनी पड़ रही है। 
patiyala house
2 of 6
सवी सिद्धू ने अपने करियर की शुरुआत अनुराग कश्यप के साथ फिल्म पांच से की हालांकि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर रिलीज नहीं हो सकी। इसके बाद उन्होंने अनुराग की ही फिल्म गुलाल और ब्लैक फ्राइडे, अक्षय कुमार के साथ पटियाला हाउस में काम किया। सवी के पास काम की कमी नहीं रही, उन्होंने यशराज बैनर और सुभाष घई की फिल्मों में किरदार निभाए लेकिन फिर उनकी जिंदगी में ऐसा दौर आया जब उन्हें इंडस्ट्री छोड़नी पड़ी। अब उन्हें अपने घर का खर्च निकालने के लिए गार्ड की नौकरी करनी पड़ रही है।
विज्ञापन
savi sidhu
3 of 6
सवी ने बताया कि उन्हें बचपन से ही फिल्मों में एक्टिंग का शौक था। शुरुआती पढ़ाई लखनऊ से पूरी करने के बाद वो चंडीगढ़ चले गए जहां से ग्रेजुएशन किया। पढ़ाई के दौरान ही उन्हें मॉडलिंग का ऑफर मिला। इसके बाद वो लॉ की डिग्री के लिए लखनऊ वापस आए, साथ ही सवी थिएटर करने लगे। उनके भाई की नौकरी एयर इंडिया में लग गई तो मुंबई आना आसान हो गया। मुंबई पहुंचकर उन्होंने प्रोड्यूसर्स से मिलना शुरू किया।
savi sidhu
4 of 6
एक वेबसाइट को इंटरव्यू में सवी ने बताया कि 'कई बड़े डायरेक्टर के साथ काम किया। मुंबई में जहां लोगों को काम नहीं मिलता वहीं मुझे कभी काम की कमी नहीं रही। मुझे ही छोड़ना पड़ा सब। मेरी हेल्थ प्रॉब्लम बढ़ने लगी। इस वजह से मैंने फिल्मों से दूरी बना ली। मेरे पास पैसे की कमी होने लगी। मेरी जिंदगी का सबसे मुश्किल दौर तब था जब मेरी पत्नी की मौत हो गई। उसके बाद मेरे माता-पिता की मौत हो गई। फिर मेरे सास-ससुर ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया। मेरे घर में 7-8 लोगों के अचानक इस तरह मौत होने से मैं बिल्कुल अकेला रह गया।' अपनी आप बीती बताते-बताते सवr रो पड़ते हैं।'
विज्ञापन
विज्ञापन
savi sidhu
5 of 6
सवी आगे बताते हैं कि 'सिक्योरिटी गार्ड की जॉब 12 घंटे की होती है। सुबह 8 बजे से लेकर रात के 8 बजे तक। काफी मुश्किल होता है। घर पहुंचकर मैं ही खाना बनाता हूं और सारे काम करता हूं। सुबह जल्दी उठकर फिर यहां आना होता है।' प्रोड्यूसर्स से मिलने के सवाल पर सवी कहते हैं कि 'अभी तो इतने पैसे नहीं है कि बस का किराया देकर किसी प्रोड्यूसर-डायरेक्टर से मिल सकूं।' 
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00