लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Ankita Murder Case: एम्स में हुआ अंकिता का पोस्टमार्टम, श्रीनगर पहुंचा शव, भारी पुलिस फोर्स तैनात

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: रेनू सकलानी Updated Sat, 24 Sep 2022 07:32 PM IST
अंकिता हत्याकांड
1 of 5
विज्ञापन
ऋषिकेश एम्स में अंकिता भंडारी का पोस्टमार्टम हो गया है। तीन डॉक्टरों के पैनल ने अंकिता का पोस्टमार्टम किया। अंकिता का शव देर शाम ऋषिकेश से श्रीनगर पहुंच गया है। यहां भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है। अलकनंदा किनारे अंकिता का अंतिम संस्कार होगा। एसडीएम अजय वीर सिंह ने बताया कि घाट पर दाह संस्कार के इंतजाम कर दिए गए हैं। 

अंकिता की हत्या को लेकर लोगों का आक्रोश थम नहीं रहा है। ऋषिकेश एम्स के बाहर भारी संख्या मौजूद लोगों ने अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग की। लोगों ने यहां एंबुलेंस को रोकने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस ने बमुश्किल लोगों को पीछे हटाना पड़ा। 

वहीं पार्टी से निष्कासित किए जाने के बाद विनोद आर्य ने कहा कि जांच में किसी तरह का कोई व्यवधान न हो इसलिए इस्तीफा दे दिया। प्रदेशभर में अंकिता के लिए इंसाफ की मांग उठी तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी मामले में सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि इस घटना ने सभी को पीड़ा पहुंचाई है। उत्तराखंड की बेटी को इंसाफ जरूर मिलेगा।
अंकिता हत्याकांड को लेकर लोगों का आक्रोश।
2 of 5
अंकिता की हत्या के मुकदमे की जांच (विवेचना) के लिए पुलिस मुख्यालय ने चार सदस्यीय एसआईटी गठित कर दी है। एसआईटी की प्रभारी डीआईजी कानून व्यवस्था पी रेनूका देवी होंगी। जबकि, इसमें एसपी रेखा यादव, एएसपी कोटद्वार शेखर सुयाल और मुकदमे का विवेचक सदस्य बनाए गए हैं। एसआईटी ने शनिवार को घटनास्थल और जहां से अंकिता का शव मिला वहां जाकर जांच भी शुरू कर दी है। इस मामले में पुलिस एक माह के भीतर चार्जशीट दाखिल करेगी। 
विज्ञापन
अंकिता हत्याकांड को लेकर लोगों का आक्रोश।
3 of 5
पौड़ी ब्लॉक के श्रीकोट निवासी एक रिजॉर्ट की रिसेप्सनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या के बाद से पूरे प्रदेश में गुस्से का माहौल है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पुलिस और प्रशासन रिजॉर्ट पर भी बुल्डोजर चला चुका है। अंकिता की हत्या के तीनों आरोपी न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजे जा चुके हैं। चारों ओर गम और गुस्से का माहौल देखकर पुलिस भी इस मामले में कोई कोताही नहीं बरतना चाहती है। डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि इस मामले में की जल्द से जल्द विवेचना पूरी की जाएगी। 
अंकिता हत्याकांड
4 of 5
इसके लिए एक डीआईजी पी रेनुका देवी के नेतृत्व में चार सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी को बारीकी से जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। डीजीपी ने बताया कि एसआईटी ही अब आगे साक्ष्यों का संकलन करेगी। ताकि, मुकदमे की विवेचना में कोई तथ्य न छूटे, जिसका आरोपियों को लाभ मिल सके। एसआईटी को एक माह के भीतर विवेचना पूरी कर चार्जशीट दाखिल करने के निर्देश दिए गए हैं। इन्हीं निर्देशों के क्रम में शनिवार को एसआईटी ने चीला नहर किनारे घटनास्थल, शव मिलने के स्थान चीला पॉवर हाउस और रिजॉर्ट वाले स्थान पर जाकर साक्ष्य जुटाए हैं।

ये भी पढ़ें...Ankita Murder Case: पकड़े जाने पर भी कम नहीं हुई बीजेपी नेता के बेटे की हेकड़ी, चेहरे पर नहीं कोई डर
विज्ञापन
विज्ञापन
अंकिता हत्याकांड में लोगों ने रिजॉर्ट में की तोड़फोड़
5 of 5
शुरुआती जांच में पता चला है कि रिजॉर्ट के बाहर वाले सारे सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हुए हैं। ऐसे में एसआईटी को वहां से आने जाने की फुटेज नहीं मिल सकी है। इसके लिए एसआईटी इस स्थान के आसपास के सीसीटीवी चेक करेगी। ताकि, पुलिस की विवेचना को बल मिल सके कि अंकिता तीनों आरोपियों के साथ ही वहां से निकली थी।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00