लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

मूसेवाला का 'कातिल': 19 साल उम्र, 10वीं में हुआ फेल, मोबाइल चोरी से अपराध की दुनिया में उतरा, अब खेलता है खूनी खेल

संवाद न्यूज एजेंसी, सोनीपत (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Tue, 05 Jul 2022 04:57 PM IST
अंकित सेरसा की फोटो।
1 of 5
विज्ञापन
पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के आरोप में गिरफ्तार शॉर्प शूटर अंकित सेरसा छोटी सी उम्र में ही जुर्म की दुनिया का बड़ा नाम बन गया। दिल्ली की क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़ा गांव सेरसा का अंकित मूसेवाला की हत्या में प्रयुक्त हुई बोलेरो गाड़ी में फतेहाबाद के एक पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी में कैद हुआ था। जिसके बाद पुलिस अलर्ट पर थी। उसके साथी प्रियव्रत की गिरफ्तारी के बाद पता लगा था कि अंकित सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के प्रमुख शूटर में से एक था। महज 19 वर्ष के अंकित ने मोबाइल चोरी में नाम आने के बाद अपराध की दुनिया में कदम रखा और लॉरेंस बिश्नोई का शॉर्प शूटर बना गया। पंजाब में 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। सिद्धू मूसेवाला की हत्या में लॉरेंस बिश्नोई का नाम आते ही सोनीपत से तार जुड़ने की प्रबल संभावना बन गई थी। पंजाब पुलिस की जांच में सामने आया था कि वारदात में इस्तेमाल हुई बोलेरो गाड़ी फतेहाबाद में देखी गई। 
अंकित सेरसा का घर।
2 of 5
बीसला के पेट्रोल पंप पर गाड़ी में तेल डलवाने के दौरान गाड़ी में गढ़ी सिसाना का कुख्यात बदमाश प्रियव्रत फौजी व सेरसा के अंकित दिखाई दिया था। इसके बाद गत दिनों प्रियव्रत को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया तो पुलिस ने दावा किया था कि हत्या के बाद से प्रियव्रत व अंकित एक साथ थे। हालांकि बाद में वह उससे दूर हो गया था। पुलिस ने उसके मूसेवाला हत्याकांड में संलिप्त होने की पुष्टि कर दी थी। अब उसे दिल्ली के कश्मीरी गेट स्थित बस अड्डे के पास से हथियारों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। 

बुआ के घर गया तो मोबाइल चोरी में आया नाम 
बताया गया है कि अंकित सेरसा बचपन से ही काफी शरारती था। पढ़ाई में भी उसका मन नहीं लगता था। वह दसवीं कक्षा में फेल होने पर एक फैक्टरी मे काम के लिए गया था लेकिन तभी लॉकडाउन लग गया। वह अपने घर बैठ गया। उसके बाद वह अपनी बुआ के घर गया तो वहां उस पर मोबाइल चोरी का आरोप लगा। उसके बाद से वह अपराध की दुनिया में उतर गया। 
विज्ञापन
सिद्धू मूसेवाला
3 of 5
छह भाई-बहनों में सबसे छोटा है अंकित 
अंकित अपने छह भाई-बहनों में सबसे छोटा है। उसकी चार बहनें व एक बड़ा भाई है। तीन बहनों की शादी हो चुकी है। उसके माता-पिता फैक्टरी में नौकरी कर परिवार का गुजर-बसर करते हैं। माता-पिता व भाई फिलहाल दिल्ली पुलिस के पास गए हैं। अन्य ने मीडिया से दूरी बना ली है। पड़ोसी भी कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं हैं। 

हत्या का एकमात्र मुकदमा, सबसे नजदीक से गोली मारने का आरोप 
सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में नामजद अंकित पर हत्या का यह पहला मुकदमा है। बताया जा रहा है कि उसने सबसे नजदीक जाकर सिद्धू मूसेवाला पर फायर किए थे। उसका एक फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें व हाथ में अत्याधुनिक पिस्तौल पकड़े हुए है और अपने सामने गोलियों से अंग्रेजी में मूसेवाला लिख रखा है। 
सिद्धू मूसेवाला।
4 of 5
राजस्थान में हत्या की कोशिश के दो मुकदमे दर्ज 
नाबालिग रहते मोबाइल चोरी में नाम आने के बाद अपराध की दुनिया में आए महज 19 वर्ष के अंकित ने बालिग होते ही राजस्थान में अपराध को अंजाम दिया। उसके खिलाफ राजस्थान में हत्या की कोशिश के दो मुकदमे दर्ज हैं। उसकी तलाश करते हुए राजस्थान पुलिस भी सोनीपत आई थी, लेकिन तब तक वह घर से भाग चुका था। 

तीन माह से परिवार से है पूरी तरह दूर 
बताया जा रहा है कि अंकित ने अपने परिवार से तीन माह से संपर्क नहीं किया है। वह पहले भी कई-कई दिन घर से दूर रहता था लेकिन पिछले तीन माह से पूरी तरह से परिवार से दूरी बना ली थी। मोबाइल तक से कोई संपर्क नहीं किया है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
सिद्धू मूसेवाला।
5 of 5
परिवार बेदखल करने की कर रहा था तैयारी
अंकित का परिवार उसे घर से बेदखल करने की तैयारी कर रहा था। परिवार के सदस्यों ने इसके लिए शपथ पत्र भी तैयार करा लिया था। हालांकि परिवार के सदस्य उसे बेदखल कर पाते इससे पहले ही परिवार के पास उसकी गिरफ्तारी की सूचना आ गई। 

आरोपी के घर के बाहर दिल्ली पुलिस ने चस्पा रखा था नोटिस 
आरोपी अंकित के घर के बाहर दिल्ली पुलिस ने पहले ही नोटिस चस्पा रखा था। दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम ने उसके घर के बाहर सेक्शन 41ए सीआरपीसी का नोटिस लगा रखा था। उसके खिलाफ अवैध शस्त्र अधिनियम के तहत नोटिस चस्पा किया गया था।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00