विज्ञापन

कौटिल्य समूह हथियार डालने को तैयार

अमर उजाला ब्यूरो/कपिलवस्तु Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
kautilya-groups-ready-to-surrender
विज्ञापन
ख़बर सुनें
नेपाल में सशस्त्र संघर्ष कर रहे संयुक्त जन तांत्रिक तराई मुक्ति मोर्चा कौटिल्य समूह ने सरकार के समक्ष हथियार डालने पर सहमति जता दी है। ये नेपाल का भूमिगत संगठन है। मधेशियों के लिए यह संगठन लड़ाई लड़ता रहा और इसके पास अच्छी खासी संख्या में लड़ाके भी थे। हालांकि राजशाही खत्म होने के बाद इस संगठन पर हथियार सौंपने का लगातार दबाव नेपाली सरकार की तरफ से बन रहा था। अभी तीसरे चरण की वार्ता में यह निर्णय लिया गया है। अब सरकार इस संगठन के लोगों पर दर्ज मुकदमे वापस भी ले सकती है। इसे बड़ा प्रयास माना जा रहा है।
विज्ञापन
लुंबिनी के एक होटल में संयुक्त जन तांत्रिक तराई मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष संजय गुप्ता से शांति मंत्री टोप बहादुर राय माझी के बीच वार्ता हुई। इसमें संजय गुप्त ने शांति मंत्री को विश्वास दिलाया कि संयुक्त जन तांत्रिक तराई मुक्ति मोर्चा शांति पूर्ण राजनीति में सक्रिय रहेगी। सरकार और मोर्चा के बीच हुए पांच सूत्रीय समझौते के तहत मोर्चा के उन कार्यकर्ताओं नेताओं की सूची भी सरकार को सौंपी जाएगी, जिन पर राजनैतिक कारणों से मुकदमे दर्ज कर उन्हें जेल में बंद किया गया है।

सभी सदस्यों को सुरक्षा का आश्वासन
सरकार ने उन्हें छोड़ने का आश्वासन दिया है। सरकार और संयुक्त जन तांत्रिक कौटिल्य समूह की यह तीसरी वार्ता है। पिछले वर्ष जनवरी और जुलाई माह में हेटौड़ा में दूसरे चरण की वार्ता हुई थी। इन दोनों वार्ता के बावजूद अपने को असुरक्षित महसूस करते हुए संजय गुप्ता स्वघोषित निर्वासित जीवन व्यतीत कर रहे थे। सरकारी वार्ता के संयोजक शांति मंत्री ने वार्ता अवधि पर वार्ता के सभी सदस्यों को सुरक्षा मुहैया कराने का आश्वासन दिया है।

वादाखिलाफी पर दोबारा उठाएंगे हथियार
सरकार के साथ सहमति पर हस्ताक्षर के बाद मोर्चा के संयोजक संजय गुप्ता ने कहा कि जिस संघीयता और गणतंत्र के लिए शांति वार्ता करने आए हैं। यदि भविष्य में उन पर खतरा नजर आया तो फिर से हथियार उठाने में देरी नहीं करेंगे। कौटिल्य उपनाम से पहचान बनाए संजय गुप्ता के साथ इस वार्ता टोली में रविदत्त मिश्रा उर्फ राजगुरु और सत्य नरायन शाह मौजूद रहे। इसी तरह सरकारी वार्ता के टोली के शांति मंत्री टोप बहादुर राय माझी के अलावा इसी मंत्रालय के सचिव और उपसचिव मौजूद रहे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Campus Archives

इस दिन से होंगी यूजी परीक्षाएं, विवि ने बनाए 154 केंद्र

प्रदेश विश्वविद्यालय की यूजी डिग्री कोर्स बीए, बीएससी और बी-कॉम की सेमेस्टर अंत परीक्षाएं बीस अक्तूबर से शुरू होगी।

16 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

पटाखों के शोर में नहीं सुनाई दी ट्रेन की आवाज, 61 लोगों की दर्दनाक मौत

पंजाब के #अमृतसर में बड़ा रेल हादसा हुआ है। रावण दहन देख रहे लोगों पर मौत बनकर ट्रेन दौड़ गई। ट्रेन हादसा #अमृतसर के जौड़ा फाटक पर हुआ।

19 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree