नेपाल में नकली करेंसी बरामद, 3 गिरफ्तार

काठमांडू/एजेंसी Updated Tue, 07 Aug 2012 12:00 PM IST
3-arrested-in-nepal-with-fake-indian-currency
नेपाल के रास्ते भारत को होने वाली नकली नोटों की तस्करी का एक नया मामला सामने आया है। नेपाल में पकड़े गए तीन लोगों के पास से 29 लाख रुपये के नकली भारतीय नोट बरामद हुए हैं। इनमें से दो पाकिस्तान के नागरिक हैं। भारतीय करेंसी रैकेट से जुड़े इन लोगों से कुछ अहम जानकारी हाथ लगने की भी उम्मीद है।

नेपाल पुलिस की एक विशेष टीम को इन्हें गिरफ्तार करने में सफलता मिली। पकड़े गए लोगों में मोहम्मद मिनुल्ला और सोहेल मोहम्मद पाकिस्तानी नागरिक हैं जबकि नकली नोटों का कारोबार करने वाला तीसरा शख्स बशीर मियां दक्षिण नेपाल के बारा जिले का रहने वाला है। तीनों को राजधानी के एक होटल से गिरफ्तार किया गया। इनके पास से कुल 29,50,000 रुपये की फेस वैल्यू वाली जाली करेंसी बरामद हुई है।

काठमांडू मेट्रोपालिटन पुलिस के प्रमुख जय बहादुर चंद ने बताया कि नेपाल के स्थल मार्ग के जरिए नकली नोटों की तस्करी भारत की जा रही थी। नकली नोटों के इन तस्करों को पुलिस की हिरासत में भेज दिया गया है और पूछताछ की जा रही है। यह पहली घटना नहीं है जब नेपाल में नकली भारतीय करेंसी के तस्कर पकड़े गए हैं। इससे पहले पाक से आने वाले विमानों से उतरे यात्रियों के पास से कई बार नकली भारतीय करेंसी बरामद कीी जा चुकी है।

जाली नोटों का कारोबार
प्रिंटिंग के ठिकाने : बांग्लादेश, पाकिस्तान और मलयेशिया
ट्रांजिट केंद्र : श्रीलंका, पाकिस्तान, थाइलैंड, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात और मलयेशिया
भारत में प्रवेश का रास्ता :
नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा से पहुंचते हैं अधिकतर नकली नोट।
सीमा पर सैन्य बलों की चौकसी के बाद अब समझौता एक्सप्रेस ट्रेन और बस से सफर के जरिए भी नोट लाए जा रहे हैं।
नेपाल से सोनौली बढ़नी व रुपईडिहा सीमा व वीरगंज से रक्सौल व मोतिहारी वाया गोरखपुर होश तथा देश के अन्य हिस्सों में पहुंचती है।

अन्य फैक्ट
नकली भारतीय नोट का धंधा करने वाले लोग 60 हजार रुपये के बदले में एक लाख रुपये की जाली करेंसी बेचते आ रहे हैं।
देश की खुफिया एजेंसियों के पास पुख्ता सबूत हैं कि भारतीय करेंसी को तैयार करवाने के लिए आईएसआई विदेशों से भारतीय करेंसी का कागज आयात करती रही है।

नकली नोट सप्लाई के तरीके
मनी एक्सचेंज काउंटरों से
कसीनो में नकली नोटों की सप्लाई
नेटवर्क से जुड़े बिजनेस हाउसों में नोटों का इस्तेमाल

बड़ा समस्या
देश में लगभग तीन से चार प्रतिशत करेंसी नोट जाली है। (आरबीआई)
2010 में 31 मई तक देश में पांच करोड़ 62 लाख 38 हजार 409 रूपये मूल्य के जाली नोट पकड़े गए।
हाल के दिनों में देश में नकली नोटों के चलन में 400 फीसदी की वृद्धि हुई है।
2010-11 में 35 करोड़ रुपये मूल्य के नकली नोट के 4,23,539 मामले पकड़े गए।
2009-10 में नकली नोट के कुल 1,27,781 मामले पकड़े गए थे।
(स्रोत : केंद्रीय वित्त मंत्रालय के फायनेंसियल इंटेलीजेंस यूनिट की ओर से तैयार रिपोर्ट)

कानून
भारतीय दंड संहिता की धारा 489ए के अनुसार करेंसी से छेड़छाड़ और नकली करेंसी छापने के आरोप में दस साल से ले कर उम्र कैद तक की सजा हो सकती है। इसी तरह 489बी के तहत जाली करेंसी को असली बता कर चलाने के आरोप में भी दस साल से उम्र कैद तक की सजा भुगतनी पड़ सकती है। धारा 489सी (गैर इरादतन जाली नोट हासिल करना) के आरोपी को जमानत दी जा सकती है। 489डी के तहत नकली नोट छापने की मशीन के साथ गिरफ्तार होने पर उम्रकैद की सजा हो सकती है।

Spotlight

Most Read

Other Archives

शहरियों ने कटा दी नाक, सिर्फ 58.89 फीसदी मतदान

बिंदकी समेत अन्य ने की पूरी मेहनत, रहे अव्वल हथगाम ने इस बार भी बाजी मारी, पांच फीसदी उछला

30 नवंबर 2017

Other Archives

35 घायल

28 नवंबर 2017

Related Videos

बॉलीवुड की टॉप हीरोइनों ने करवाई प्लास्टिक सर्जरी, बताइए कौन है सबसे हसीन ?

बॉलीवुड में कुछ सालों से प्लास्टिक सर्जरी करवा कर फीचर्स को और शार्प और सुंदर करने का चलन चल पड़ा है।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper