नेपाल के नौ जिलों में आम हड़ताल, जनजीवन अस्तव्यस्त

काठमांडू/एजेंसी Updated Tue, 07 Aug 2012 12:00 PM IST
general-strike-in-nine-districts-of-nepal
पूर्वी नेपाल के नौ जिलों में सोमवार को आम हड़ताल से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। इस हड़ताल का आह्वान राष्ट्रीय जनमुक्ति पार्टी ने सरकार पर लिंबूवन स्वायत्तशासी राज्य बनाने की मांग को लेकर दबाव बनाने की रणनीति के तहत किया।

खबरों के अनुसार हड़ताल से तापेलजंग, पंचथर, लाम, झापा, सुनसारी, मोरांग, धनकुटा, तेहरथुम और शंकुवासभा जिलों में जनजीवन ठहर गया। इन शहरों के बाजार बंद रहे और सड़कों पर भी सन्नटा पसरा रहा। नेपाल न्यूज डॉल काम की रिपोर्ट के अनुसार सड़कों पर सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े वाहन ही दिखाई दे रहे थे।

भट्टराई से इस्तीफे की मांग
नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष सुशील कोइराला ने देश के राजनीतिक संकट को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री बाबूराम भट्टराई से इस्तीफा मांगा है। कोइराला ने कहा कि उनकी पार्टी के नेतृत्व में राष्ट्रीय आम सहमति की सरकार बने तो भंग की गई संविधान सभा को बहाल किए जाने पर उनका दल हो सकता है।

अपने आवास पत्रकारों से बात करते हुए कोइराला सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी के जिलाध्यक्षों की हाल की बैठक में संविधान सभा की बहाली पर रजामंदी नहीं बनी थी पर अगर नेपाली कांग्रेस के नेतृत्व में आम सहमति की सरकार बनती है तो इस पर विचार किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि जब तक नेपाली कांग्रेस के नेतृत्व में सरकार नहीं बनेगी तब तक देश में जारी राजनीति संकट का अंत नहीं होगा। इसके लिए माहौल बनाने के लिए पीएम पद से भट्टराई के इस्तीफा जरूरी है। उन्होंने कहा कि पीएम पद से भट्टराई को हटाने के लिए नेपाली कांग्रेस हर हथकंडे को अपनाएगी, फिर चाहे राष्ट्रपति से इसके लिए अपील करनी पड़े या सड़कों पर उतरना पड़े।

Spotlight

Most Read

Other Archives

शहरियों ने कटा दी नाक, सिर्फ 58.89 फीसदी मतदान

बिंदकी समेत अन्य ने की पूरी मेहनत, रहे अव्वल हथगाम ने इस बार भी बाजी मारी, पांच फीसदी उछला

30 नवंबर 2017

Other Archives

35 घायल

28 नवंबर 2017

Related Videos

दावोस में 'क्रिस्टल अवॉर्ड' मिलने के बाद सुपरस्टार शाहरुख खान ने रखी 'तीन तलाक' पर अपनी राय

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls