बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

'चॉकलेट' से चर्चिल को मारना चाहते थे नाजी

लंदन/एजेंसी Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
nazi-plot-to-kill-churchill-through-explosive-chocolate
ख़बर सुनें
खुफिया दस्तावेजों में खुलासा हुआ है कि नाजियों ने विस्फोटक चॉकलेट के जरिए तत्कालीन ब्रिटिश प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल को मार डालने की योजना बनाई थी। खुफिया एजेंसी एमआई-5 के अधिकारियों के बीच युद्ध के समय खुफिया दस्तावेजों के आदान-प्रदान में यह बात कही गई थी कि नाजी ब्रिटेन को जीतना चाहते हैं और इस कड़ी में वे तत्कालीन प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल को विस्फोटक चॉकलेट से घातक हमला कर मौत के घाट उतार देना चाहते हैं।
विज्ञापन


डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक एडोल्फ हिटलर के बम निर्माताओं ने चॉकलेट की पतली परत के साथ विस्फोटक उपकरण लगा दिया था और फिर इसे महंगे दिखने वाले काले एवं सुनहरे कागज में पैक कर दिया था। नाजियों ने उस समय ब्रिटेन में काम कर रहे खुफिया एजेंटों को यह जिम्मेदारी सौंपी थी कि वे सावधानी से ‘पीटर्स ब्रांड’ नाम की इस चॉकलेट को ट्रे में अन्य चीजों के साथ उस आहार कक्ष में पहुंचा दें जिसका इस्तेमाल द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान युद्ध मंत्रिमंडल द्वारा किया जाता था।


इस घातक मिश्रण में इतना विस्फोटक था कि यह कई मीटर के दायरे में मौजूद किसी भी व्यक्ति की जान ले सकता था। लेकिन हिटलर की इस योजना को ब्रिटिश जासूसों ने विफल कर दिया, जिन्हें इस बारे में पता लग गया था और यह सूचना एमआई-5 के वरिष्ठतम अधिकारी लॉर्ड विक्टर रॉथचिल्ड के पास पहुंची। रॉथचिल्ड ने तुरंत अपनी यूनिट के एक प्रतिभाशाली चित्रकार को एक पत्र भेजा और उससे कहा कि वह इस चॉकलेट की बड़ी-बड़ी तस्वीरें बनाए तथा इनके जरिए लोगों से सावधान रहने को कहे।

उन्होंने चित्रकार लॉरेंस फिश को यह पत्र चार मई 1943 को लिखा था और यह पार्लियामेंट स्ट्रीट, मध्य लंदन स्थित उनके खुफिया बंकर से लिखा गया था। यह पत्र फिश की पत्रकार पत्नी जीन ब्रे को वर्ष 2009 में अपने चित्रकार पति की मौत के बाद उनके सामान से मिला।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us