विज्ञापन

पाकिस्तान में रुके भारी बमबारी: बिलावल

वाशिंगटन/एजेंसी Updated Sun, 27 May 2012 12:00 PM IST
Stop-heavy-bombing-in-Pakistan-Bilawal
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पाकिस्तान में सत्ताधारी पीपीपी के प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा है कि उनके मुल्क पर भारी बमबारी (कारपेट बाम्बिंग) रुकनी चाहिए और ड्रोन हमले आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को क्षति पहुंचा रहे हैं।
विज्ञापन
अमेरिकी ड्रोन हमले को खत्म करने का आह्वान करते हुए बिलावल ने कहा कि ये हमले पाकिस्तान की संप्रभुता और अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन हैं।

बिलावल ने एमएसएनबीसी न्यूज को दिए साक्षात्कार में कहा कि पाकिस्तान में ड्रोन हमलों के जरिए भारी बमबारी से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को नुकसान होगा। यह हमारी संप्रभुता का घोर उल्लंघन है और इसे खत्म किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि यह अमेरिकी युद्ध शक्ति अधिनियम और अंतरराष्ट्रीय कानून का भी उल्लंघन है। अमेरिका एक ऊंचाई पर पहुंचकर पूरी दुनिया के लिए मिसाल था और मैं आशा करता हूं कि वह फिर से उसी रुतबे को हासिल करे।

बिलावल ने अमेरिका की उस दलील को मानने से इनकार कर दिया कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में ड्रोन हमला प्रमुख हथियार है। विलावल ने कहा कि ड्रोन हमलों में बड़े आतंकियों की मौत नहीं हो रही है। इसने बड़े पैमाने पर नागरिकों को क्षति पहुंचाई है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान आपसी मतभेदों को दूर करने प्रयास कर रहे हैं।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

कच्चे तेल के भंडार की संभावना पर लगाया जीपीएस

गंगा के तराई वाले इलाकों में कच्चे तेल के भंडार की तलाश कर रही ऑयल एंड नेचुरल गैस कमीशन (ओएनजीसी) की टीम ने तीन दिन में पांच किमी के दायरे में दो स्थानों पर डीप बोरिंग करने के बाद बांगरमऊ के अलेलखेड़ा गांव के पास अपना जीपीएस सिस्टम स्थापित किया।

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

चेहरे पर मां सी दमक और बातों में पिता सा कॉन्फीडेंस, सारा ने ऐसे किया पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस का सामना

सैफ अली खान और अमृता सिंह की बेटी सारा अली खान अपनी डेब्यू फिल्म को लेकर दर्शकों के सामने आने के लिए तैयार हैं। सारा ने अपनी पहली ही प्रेस कॉन्फ्रेंस में जिस तरह खुलकर सवालों के जवाब दिए, उससे फिल्म इंडस्ट्री काफी प्रभावित हुई है।

14 नवंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree