विज्ञापन

जब सुषमा फंसी बेमेल रिश्ते में

- अनुराधा गोयल Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
sushma trapped in mismatched relationship
विज्ञापन
ख़बर सुनें
कुछ लोग बेमेल रिश्तों में बुरी तरह फंसने के बाद भी अपनी इच्छाशक्ति और काउन्सिलिंग की मदद से उबरने में भी कामयाब रहे हैं। 42 साल की सुषमा (काल्पनिक नाम) एक गर्ल्स पीजी की संचालक है। ज्वॉइंट फैमिली में रहने वाली सुषमा के पति अविनाश (काल्पनिक नाम) का कपडों का बिजनेस है। सुषमा का 19 साल का बेटा है अलमोल। सुषमा अपने परिवार में बहुत खुश हैं। सुषमा की एक कमजोरी है यदि सुषमा की कोई तारीफ कर दें तो वो जरूरत से ज्यादा उसके प्रति विनम्र हो जाती है।
विज्ञापन
मजाक-मजाक में सुषमा की तारीफ करने वाला 30 साल का विजय(काल्पनिक नाम) सुषमा से काफी घुलने-मिलने लगा है। विजय सुषमा के मकान मालिक का बेटा है। विजय अकसर सुषमा की तारीफ कर देता है तो सुषमा भी खुश होकर कभी उसे गिफ्ट देने लगी है तो कभी उसे अपने यहां खाना खिलाने लगी है। इसी सिलसिले के दौरान सुषमा कब विजय से इतना प्रभावित हो गई की सुषमा को अंदाजा भी नहीं रहा। अब सुषमा विजय के साथ रहना चाहती है और अपना घर-बार, पति-बच्चे सबको छोड़ना चाहती। सुषमा किसी भी तरह से सबसे छुटकारा पा विजय के साथ रहने के ख्वाब देख रही है।


सुषमा फिलहाल काउन्सलर के संपर्क में है और इसके चलते सुषमा को अपनी लाइफ की उझलनों से निकलने में बहुत मदद भी मिली है। सुषमा इन सब चीजों से अंजान थी कि भविष्य में वो अपने इस बेमेल रिश्ते को डवलप कर काफी कुछ खो सकती थी। लेकिन अब सुषमा को समझ में आ गया है कि बेमेल रिश्तों की उम्र बहुत लंबी नहीं होती।



सवाल- आपकी नजर में बेमेल रिश्ता या अफेयर कहां तक सही है?

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

कुएं में गिरकर किशोर की मौत के बाद बवाल

सदर तहसील परिसर स्थित सूखे कुएं में गिरकर किशोर की मौत हो गई। करीब एक घंटे तक फायर ब्रिगेड की टीम किशोर को निकालने में आनाकानी करती रही।

19 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बुधवार को इस शुभ योग में करें कोई भी काम, नहीं आएगी अड़चन

बुधवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र और बन रहा है कौन सा योग? दिन के किस पहर करें शुभ काम? जानिए यहां और देखिए पंचांग बुधवार 19 सितंबर 2018।

18 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree