जेल में वार्डन का काम करेगा रोबोट

विनीता वशिष्ठ Updated Sat, 21 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
robot will function as jail warden

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
जेल के खुंखार कैदियों की निगरानी के लिए कड़क जेलर या वार्डन की जरूरत नहीं रहेगी। दक्षिण कोरिया के पोहांग शहर की जेल में अब रोबोट कैदियों निगरानी कर रहे हैं। दक्षिण कोरियाई शोधकर्ताओं के संगठन 'एशियन फ़ोरम फॉर कोरक्शनंस' ने जेलों में परीक्षण के लिए पांच फुट उंचे तीन रोबोट बनाए हैं। ये रोबोट चार पहियों पर चलते हैं और कैमरों व सेंसर प्रणाली से लैस हैं। इनकी मदद से वो कैदियों में हिंसा और आत्महत्या जैसी मनोवृत्तियों और व्यवहार का पता लगा पाते हैं। यानी अब कैदियों को सहनशील बनाने का काम भी रोबोट पर छोड़ दिया गया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us