चीन ने तोड़ा अमेरिका का वर्चस्व

धर्मेंद्र आर्य Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
china broke america dominance

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
चीन को वर्ष 2008 में ओलंपिक की मेजबानी करने का मौका मिला। इससे चीन ने साबित कर दिया कि वह किसी भी क्षेत्र में अन्य किसी भी विकसित राष्ट्र की तुलना में कम नहीं है। 2008 में आयोजित बीजिंग ओलंपिक को अभी तक का सबसे श्रेष्ठ आयोजन माना जाता है।
विज्ञापन



चीन ने पंद्रह दिनों तक चले इन ओलंपिक खेलों में अपनी शानदार मेजबानी से दर्शकों का दिल तो जीता ही, इसके साथ ही सबसे ज़्यादा स्वर्ण पदक जीत कर भी इतिहास भी बनाया। चीन के खिलाड़ियों ने 51 स्वर्ण, 21 रजत और 28 कांस्य सहित कुल 100 पदक जीतकर इतिहास रचा। ओलंपिक की पदक तालिका में चीन ने टॉप पर कब्जा जमाया और अमरीका दूसरे स्थान पर रहा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us