जजों पर लगे पक्षपात के आरोप

धर्मेंद्र आर्य Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
judges accused of biasness

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
1908 में लंदन में पहली बार ओलंपिक खेल आयोजित हुए। लंदन में ही पहली बार खिलाड़ियों ने अपने देश के झंडे के साथ स्टेडियम में मार्च पास्ट किया। इस आयोजन में अमरीकी खिलाड़ियों ने जजों पर आरोप लगाया कि वे अपने देश का पक्ष ले रहे हैं।
विज्ञापन



1950 के दशक में सोवियत संघ और अमेरिका के इन खेलों में हिस्सा लेने के साथ ही ओलंपिक की ख्याति भी फैलने लगी। यहीं से इन खेलों में राजनीति की घुसपैठ शुरू हुई। सोवियत संघ और अमेरिका ने ओलंपिक खेलों को खुद को आगे दिखाने का माध्यम बना लिया। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉन एफ. केनेडी ने एक बार कहा था कि अंतरिक्ष यान और ओलंपिक स्वर्ण पदक ही किसी देश की प्रतिष्ठा का प्रतीक होते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us