बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

वाशिंग मशीन

विनीता वशिष्ठ Updated Wed, 30 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
Washing Machines

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
कपडे़ ज्यादा हों, तभी मशीन चलाएं। कम कपड़ों को धोते समय भी मशीन उतनी ही बिजली खाती है जितनी ज्यादा कपड़ों को धोते समय। जहां तक संभव हो सके, कपड़े ठंडे पानी में धोएं। वाशिंग मशीन में पानी गर्म करने से काफी बिजली बर्बाद होती है। ड्रायर को एक बार चलाकर कपड़ों को हवा में सुखा दें।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us