उपहार और मौके की नजाकत समझें

विनीता वशिष्ठ Updated Tue, 01 May 2012 12:00 PM IST
The fragility of the gift and the opportunity to understand
ख़बर सुनें
हर मौका उपहार देने का मौका है बर्शते उपहार मौके की नजाकत समझे। कुछ मौकों जैसे जन्मदिन और शादी ब्याह में सफेद फूल, काले कपड़े और जानवर की खाल से बने उपहार में पसंद नहीं किए जाते। किसी ने आपको घर बुलाया हो तो खाली जाने की बजाय मिठाई ले जाएं वरना मेजबान की भृकुटि तन जाएंगी।
भारतीयों को पसंद ना आने वाली इन बातों में आप ऐसी कौन सी बात जोड़ना चाहेंगे, जो पसंद नहीं की जाती?

Recommended

Spotlight

Related Videos

24 घंटे में शहादत का बदला समेत 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETINS - सुबह 7 बजे, सुबह 9 बजे, 11 बजे, दोपहर 1 बजे, दोपहर 3 बजे, शाम 5 बजे और शाम 7 बजे।

14 अगस्त 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree