विज्ञापन

69 फाइनेंस कंपनियों के रजिस्ट्रेशन खत्म

ब्यूरो/अमर उजाला, संजय त्रिपाठी Updated Tue, 27 Feb 2018 02:18 PM IST
nbfc companies registration cancelled.
विज्ञापन
ख़बर सुनें
वित्तीय अनियमितताओं और नियम-कानून के पालन में शिथिलता बरतने पर भारतीय रिजर्व बैंक के कानपुर मुख्यालय ने 69 नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनीज (एनबीएफसी) के रजिस्ट्रेशन खारिज कर दिए हैं। इनमें कानपुर की 18 कंपनियों के अलावा प्रदेश और उत्तराखंड के लगभग सभी प्रमुख जिलों की कंपनियों के नाम शामिल हैं। आरबीआई ने लोगों को इन कंपनियों में किसी प्रकार का वित्तीय लेनदेन न करने की सलाह दी है।
विज्ञापन
कानपुर स्थित मुख्यालय के कार्य क्षेत्र में यूपी के अलावा उत्तराखंड भी आता है। कंपनियों की जारी सूची में कानपुर की डेढ़ दर्जन कंपनियों के नाम शामिल हैं। इसके साथ ही बरेली, आगरा, झांसी, बिजनौर, मेरठ, इलाहाबाद, पीलीभीत, मुजफ्फरनगर, लखनऊ, नोएडा, महाराजपुर, सोनभद्र, फैजाबाद, लखीमपुर खीरी, मथुरा, बनारस, भदोई, एटा, सिद्धार्थनगर के अलावा उत्तराखंड की राजधानी देहरादून, मंसूरी, नैनीताल की कंपनियों के नाम शामिल हैं।

आरबीआई सूत्रों के मुताबिक अरसे बाद इतनी बड़ी कार्रवाई रिजर्व बैंक के कानपुर मुख्यालय से हुई है। यह कार्रवाई इन कंपनियों द्वारा नियमों की अनदेखी और रिजर्व बैंक को उपलब्ध कराई गई सूचना में हेरफेर के चलते की गई है। सूची जारी करने के पीछे आरबीआई अफसरों ने लोगों को सतर्क रहने की बात कही है। माना जा रहा है कि जल्द ही कई और कंपनियों पर इसी तरह गाज गिर सकती है।

ये नाम हैं कानपुर की कंपनियों के
कैलाश मोटर्स फाइनेंस लि., कुंभ फाइनेंस लि., एसीएमई इनवेस्टमेंट लि., धारा इनवेस्टमेंट एंड फाइनेंसिंग कंपनी लि., गुडलक लोन एंड लीजिंग लि., एचएन ट्रेड इंटरनेशनल लि., जानकी हायर लीजिंग एंड फाइनेंस प्रा. लि., मेघा एग्रो प्रोडक्ट्स लि., माइक्रो फिन सिक्योरिटीज प्रा. लि., ऑर्बिट कंसलटेंट्स प्रा. लि., सिद्धार्थ कैपफिन प्राइवेट लि., ठाकुरजी लीजिंग एंड फाइनेंस लि., गिन्नी फिलामेंट्स लि. में समामेलित अभिनव इनवेस्टमेंट प्रा. लि., गणेश सिंथेटिक प्रा. लि. और गुडवर्थ मर्चेंट्स प्रा. लि., सूर्या कॉमर्शियल लि. में सम्मिलत पद्मश्री प्रोजेक्ट्स लि. और प्रूडेंशियल मर्चेंट्स एंड ट्रेडर्स लि., कनेडिया ऑर्गेनिक्स एंड कार्ग प्रा. लि. में सम्मिलत टिप्सी ट्रेडिंग एंड फाइनेंस लि.

आरबीआई के नियम-कानून और समय-समय पर जारी होने वाले दिशानिर्देश के पालन न करने की दशा में रजिस्ट्रेशन खारिज करने का प्रावधान है। इसी के तहत समय-समय पर यह कार्रवाई की जाती है। लोग इन कंपनियों के नाम जानें इसलिए यह सूची जारी की गई है। लोगों से अनुरोध है कि इन कंपनियों से किसी प्रकार का वित्तीय लेनदेन न करें।
डॉ. पीके कर, महाप्रबंधक (डिपार्टमेंट ऑफ नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनीज)

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

घबराएं नहीं, पुलिस को बताएं, जेल में होंगे अपराधी

अमर उजाला के नारी गरिमा के साझा संकल्प ‘अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स’ के तहत स्कूली बच्चों के मन से पुलिस का डर निकालने और उन्हें उनके अधिकारों व पुलिस कार्यप्रणाली की जानकारी दी।

21 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree