कड़ी सुरक्षा के बीच 26 विस सीटों पर वोटिंग समाप्त

नई दिल्ली/एजेंसी Updated Tue, 12 Jun 2012 12:00 PM IST
Voting-for-Andhra-by-polls-begin-amid-tight-security
ख़बर सुनें
आंध्र प्रदेश सहित देश के आठ राज्यों में 26 विधानसभा और एक लोकसभा सीट के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच वोटिंग खत्म हो गई। सुबह 11 बजे तक 25 फीसदी वोटिंग की सूचना है। वोटिंग शाम पांच बजे तक चलेगी। इन 26 सीटों में आंध्र प्रदेश की 18 सीटों पर कांग्रेस और जगन मोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस के बीच होने वाली मुख्य लड़ाई को काफी अहम माना जा रहा है। इन उपचुनावों के नतीजे 15 जून को आएंगे।
आंध्रप्रदेश में विधानसभा का सेमीफाइनल
आंध्र प्रदेश के 12 जिलों के 18 विधानसभा क्षेत्रों में 5,413 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। निर्वाचन आयोग ने निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान की व्यवस्था की है। चुनाव में करीब 46 लाख मतदाता 255 उम्मीदवारों का राजनीतिक भविष्य तय करेंगे। इनमें से 13 उम्मीदवार नेल्लोर की लोकसभा सीट पर अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

आंध्र प्रदेश में 2014 में होने वाले विधानसभा चुनावों का सेमीफाइनल माने जा रहे इन उपचुनावों में दिवंगत मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी के बेटे जगनमोहन रेड्डी की लोकप्रियता की परीक्षा होनी है। उनकी पार्टी सभी 18 सीटों पर मैदान में है। वाईएसआर कांग्रेस के लिये यह उपचुनाव अहम इसलिये भी हैं क्योंकि उसने इन सीटों पर पहले जीत कर आये 17 विधायकों को टिकट दिए हैं। कांग्रेस पार्टी छोड़ने पर अयोग्य करार दिए गए इन विधायकों की जीत कांग्रेस की लिए बड़ा खतरा हो सकती है।

राज्य में कांग्रेस के पास सत्ता में बने रहने के लिये मामूली बहुमत है। राज्य की 294 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के पास 151 विधायकों का समर्थन है जोकि 148 के जादुई आंकड़े के मुकाबले बहुत बड़ा नहीं है। आंध्र प्रदेश में जिन 18 सीटों पर उपचुनाव होना है उनमें से एक सीट ही तेलंगाना इलाके में है।

यूपी के मांट सीट पर त्रिकोणीय मुकाबला
उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले की मांट विधानसभा सीट राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) नेता जयंत चौधरी के इस्तीफे से खाली हुई है। इस सीट पर रालोद के उम्मीदवार योगेश चौधरी और समाजवादी पार्टी (सपा) के संजय लाठर व तृणमूल कांग्रेस के श्याम सुंदर शर्मा के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इस उप-चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं। कांग्रेस रालोद उम्मीदवार का समर्थन कर रही है।

पुडुकोट्टई में एआईएडीएमके की साख दांव पर
तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से करीब 350 किलोमीटर दूर पुडुकोट्टई में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के विधायक एस.पी. मुथुकुमारम की अप्रैल में एक सड़क दुर्घटना में मौत हो जाने के बाद यहां उप-चुनाव कराना आवश्यक हो गया था। इस उप-चुनाव में सत्तारूढ़ ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) व देसैया मुरुकोप्पु द्रविड़ कड़गम (डीएमडीके) के बीच सीधी टक्कर है। द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) और अन्य पार्टियों ने चुनाव का बहिष्कार किया है।

झारखंड में सुबोध कांत के भाई मैदान में
इसके अलावा मध्यप्रदेश की माहेश्वर(सु), त्रिपुरा की नलचर (सु), पश्चिम बांगल की दासुपर और बंकुरा, महाराष्ट्र की कैज और झारखंड की हटिया विधानसभा सीट पर भी वोटिंग चल रहे हैं। हटिया में केंद्रीय पर्यटन मंत्री सुबोध कांत सहाय के भाई सुनील कुमार सहाय चुनावी मैदान में हैं।

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कि कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स और सोशल मीडिया साइट्स के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज़ नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज़ हटा सकते हैं और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डेटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy और Privacy Policy के बारे में और पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen