PM मुद्दे पर सोनिया ने दिखाए तल्ख तेवर

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Updated Mon, 04 Jun 2012 12:00 PM IST
Sonia-Opposition,-civil-society-levelling-‘baseless’-allegations
ख़बर सुनें
कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में अध्यक्ष सोनिया गांधी काफी तल्ख तेवर में दिखीं। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का बचाव करते हुए उन्होंने विपक्षी नेताओं पर साजिश रचने का आरोप लगाया। सोनिया का कहना है कि विपक्ष और कांग्रेस विरोधी एक साजिश के तहत प्रधानमंत्री, यूपीए सरकार, संगठन और सहयोगियों पर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। सोनिया ने वहां मौजूद लोगों से कहा कि सरकार और पार्टी के स्तर पर इसका डटकर मुकाबला करना होगा।
सोनिया का संबोधन
‘आज की बैठक में आप सबका स्वागत है। आज हमारे सामने कई चुनौतियां हैं। लोकतंत्र में विरोध करना विपक्ष का अधिकार है लेकिन जिस तरीके से आजकल एक साजिश के तहत विपक्षी दल और कुछ कांग्रेस विरोधी तत्व प्रधानमंत्री जी, यूपीए सरकार, संगठन और हमारे अन्य साथियों पर मनमाने ढंग से बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं वह बहुत अफसोस की बात है। इसका हमें पार्टी और सरकार स्तर पर डटकर मुकाबला करना है।

इसके साथ ही कुछ ऐसी चुनौतियां हैं जिनका संबंध आम आदमी की जिंदगी से है। आर्थिक समस्याएं हैं। सारी दुनिया एक मुश्किल के दौर से गुजर रही है। हमें उसका सामना करना है और हम कर भी रहे हैं। अभी 22 मई को यूपीए सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के तीन साल पूरे किए हैं। हमने जनता के सामने जो रिपोर्ट पेश की है वह कठिनाइयों के बावजूद कामयाबी का दस्तावेज है।

इसमें कोई शक नहीं कि नीतियां बनाना एक बात है लेकिन वे लागू किस तरह होती हैं इसे देखना ज्यादा जरूरी होता है। जाहिर है कि ज्यातादर नीतियों के लागू होने में राज्यों की बड़ी भूमिका होती है। इनमें गैरकांग्रेसी सरकारें उस रूप में सहयोग नहीं करतीं जैसा कि लोकतंत्र में सभी राज्य सरकारों से अपेक्षा की जाती है। फिर में हम अपनी तरफ से कोई कमी नहीं आने दे रहे।

आने वाले समय में कई राज्यों में चुनाव होने हैं। 2014 में लोकसभा चुनाव होंगे, हमें अभी से उसकी तैयारी करनी है। हर स्तर पर संगठन को मजबूत करना है लेकिन सबसे जरूरी यह है कि हम सब एकजुट होकर काम करें। हम जितनी शक्ति गुटबाजी, फिजूल की बातों और फिजूल के कामों में खर्च करते हैं उससे आधी अगर पार्टी को मजबूत करने में लगाएं तो हमारी ताकत दो गुना बढ़ जाएगी।

हमारे बारे में लोगों की जो राय बनेगी, लोगों के मन में जैसी शक्ल उभरेगी, वे पार्टी के साथ वैसा ही सलूक करेंगे। जब राजनीतिक मूल्यांकन होता है तो व्यक्ति के रूप में नहीं संगठन के रूप में एक कांग्रेस जन के रूप में हमारा इम्तहान होता है। इसें गहराई से न समझना बहुत बड़ी भूल है। यह सबके लिए एक सावधानी की बात है, एक चेतावनी और चुनौती है।

जहां तक मेरी दृष्टि का प्रश्न है, मुझे देशवासियों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावना और आंतरिक शक्ति पर पूरा भरोसा है। हमारे कार्यकर्ता किसी भी चुनौती का सामना कर सकते हैं। शर्त केवल यह है कि हम अपने राजनीतिक खेल में उसका मनोबल न तोड़ें।

पिछले 126 साल में कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं की इसी आंतरिक शक्ति और भावना के बल पर हर चुनौती का सामना किया है और इतिहास बनाया है। हम अगर इस शक्ति को अपनी असली पूंजी मानकर अपने कदम बढ़ाएंगे तो हम किसी भी मंजिल तक पहुंच सकते हैं। देशवासियों का समर्थन भी मिलेगा। हमें कामयाब होना ही है’।

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen