विज्ञापन
विज्ञापन

पत्नी ने प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर रची पति की मौत की साजिश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नारनौंद Updated Sun, 29 Sep 2019 12:25 AM IST
डेमो
डेमो - फोटो : डेमो
ख़बर सुनें
बास तहसील के गांव पुट्ठी के जुई फीडर से शनिवार को एक युवक का शव मिला। युवक के शव को ढूंढते-ढूंढते उसके परिजन पुट्ठी जुई फीडर नहर पर पहुंचे तो उन्होंने 25 वर्षिय रिम्पी भाटिया का शव दिखाई दिया।
विज्ञापन
जिसके बाद उन्होंने सफीदों पुलिस को फोन कर सूचना दी तो सफीदों पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को नहर से निकालकर अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए हांसी के सामान्य अस्पताल में भिजवा दिया लेकिन डॉक्टरों ने शव की हालात को देखते हुए उसे अग्रोहा के मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के लिए रैफर कर दिया। जहां पर शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के हवाले कर दिया गया। 

क्या है पूरा मामला

परिजनों द्वारा पुलिस को दी जानकारी के अनुसार 24 सितम्बर की रात से ही रिपीं भाटिया घर से लापता हो गया था। उन्होंने इसकी शिकायत सफीदों पुलिस को दी। परिजनों के अनुसार रिंपी भाटिया और उसकी पत्नी पायल में अकसर झगड़ा होता रहता था। 25 सितम्बर को सुबह दस बजे पायल भी घर से गायब हो गई। उसके बाद दोनों का कोई अता-पता नहीं चल रहा था। पुलिस ने दोनों के गुमशुदगी होने का मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी।

पुलिस जांच में मामला प्रेम प्रसंग का लगा तो पुलिस ने शक के आधार पर सफीदों निवासी परमजीत उर्फ करण को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो मामला हत्या का निकला। परमजीत ने पूछताछ में बताया कि रिंपी की पत्नी पायल ने ही उसकी हत्या करवाई है। उसने अपने दोस्त हैप्पी को पानीपत हत्या करने के लिए बुला लिया था। 

रिंपी की पत्नी से फोन पर संपर्क होने के बाद रिंपी की पत्नी पायल 24 सितम्बर की रात्रि किसी से मिलवाने की बात कहकर उसे बाइक पर लेकर घर से करीब तीन किलोमीटर दूर ले गई। जहां पर उरलाना के पास पत्नी और उसके प्रेमी परमजीत व दोस्त हैप्पी ने मिलकर ईंटों से वारकर हत्या कर दी और शव को बुटाना नहर फेंक दिया। सफीदों पुलिस ने मृतक रिंपी की पत्नी पायल, उसके प्रेमी परमजीत उर्फ करण और पानीपत निवासी परमजीत के दोस्त हैप्पी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

दो दिन से शव का तलाश रही थी पुलिस :

रिंपी की हत्या होने की आशंका पर पुलिस पिछने दो दिनों से उरलाना के पास शव को तलाश कर रही थी। शव पांच दिन बाद बास तहसील के गांव पुट्ठी से जुई फीडर नहर से शव बरामद हुआ। रिंपी की मां शांति ने बताया कि उसकी शादी करीब छह साल पहले हांसी में की थी। 

इसके बाद पायल को दो लड़किया हुई। पायल द्वारा अज्ञात युवकों से फोन पर बात करने को लेकर पति-पत्नी में अकसर झगड़ा होता रहता था। परमजीत पायल के पड़ोस में अपने मामा के घर आता-जाता रहता था। इससे दोनों के बीच काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। 

सफीदों थाना प्रभारी, धर्मबीर सिंह ने बताया कि पुलिस ने मृतक की पत्नी पायल, प्रेमी परमजीत व पानीपत निवासी उसके दोस्त हैप्पी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है। शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। जल्द ही आरोपी पुलिस गिरफ्त में होंगे।
विज्ञापन

Recommended

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण
NIINE

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

समस्तीपुर से प्रिंस राज और सतारा से दादासाहेब पाटिल जीते

बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट पर लोजपा प्रत्याशी प्रिंस राज ने कांग्रेस के डॉ अशोक कुमार को 1,02,090 वोटों से मात दी। इस सीट से 2014 में राम विलास पासवान के भाई रामचंद्र पासवान ने जीत दर्ज की थी। उनके निधन के बाद इस सीट पर उपचुनाव हो रहे हैं। 

24 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे ने 22 नवंबर को बुलाई विधायकों की बैठक

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर पेंच अभी भी फंसा हुआ है। वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 22 नवंबर को पार्टी विधायकों की बैठक बुलाई है।

19 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election