बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

करंट से टस्कर की मौत

ब्यूरो/चंपावत Updated Thu, 02 Apr 2015 10:49 PM IST
विज्ञापन
Tusker from current death

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
हल्द्वानी वन प्रभाग के शारदा रेंज की ककराली बीट के आमबाग गांव की सीमा पर एक हाथी मृत मिला। उसकी मौत ग्रामीणों द्वारा वन्यजीवों से फसल बचाने को लगाए गए करंट लगने से होना बताई जा रही है। विभाग ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी हाथी की मौत करंट से होने की पुष्टि हुई है। पशु चिकित्साधिकारी डीके शर्मा ने बताया कि मृत हाथी नर था और उसकी उम्र करीब 7 से 8 साल रही होगी।
विज्ञापन


बृहस्पतिवार सुबह आमबाग गांव के अंतिम छोर में ककराली बीट के जंगल में गांव की सीमा पर एक हाथी मृत पड़ा मिला। सूचना पर वन क्षेत्राधिकारी ख्याली राम, उप प्रभागीय वनाधिकारी प्रकाश आर्या और कोतवाल कमल राम आर्या फौरन मौके पर पहुंचे। उन्होंने मृत हाथी के पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सा विभाग की टीम बुलाई। उप प्रभागीय वनाधिकारी प्रकाश चंद्र आर्या ने बताया कि हाथी की मौत करंट लगने से हुई है। उनका मानना है कि वन्यजीवों से फसल बचाने को आसपास के ग्रामीणों द्वारा ही जंगल और खेत के बीच तारबाड़ में करंट लगाया गया होगा, जिसकी चपेट में आने से ही हाथी की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि घटना की छानबीन शुरू कर दी गई है। करंट लगाने वाले का पता लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जल्द ही विभाग की एक टीम गठित कर जंगल से लगे गांवों की सीमा पर करंट लगाने वालों की धरपकड़ की जाएगी।


डीएफओ भी पहुंचे घटना स्थल पर

टनकपुर। हाथी की मौत की सूचना पर हल्द्वानी वन प्रभाग के डीएफओ चंद्रशेखर सनवाल भी यहां पहुंचे। उन्होंने घटना स्थल का निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया। डीएफओ ने वन अधिकारियों को करंट लगाने वाले व्यक्ति का पता लगाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us