विज्ञापन
विज्ञापन

नहीं सुलझी फ्लैट नंबर 702 में हुई हत्या की गुत्थी 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, प्रयागराज Updated Sat, 20 Apr 2019 12:49 AM IST
No murder case in flat number 702
- फोटो : amar ujala
ख़बर सुनें
नैनी के मानस विहार अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 702 में राहुल मिश्रा की हत्या के मामले की गुत्थी अभी सुलझी नहीं है। इस मामले में सुमित्रा और उसके पति राजधर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। राजधर के वकील गुरुवार को एसएसपी से मिले और बताया कि सुमित्रा और राजधर के बीच अनबन चल रही थी, उसी कारण सुुमित्रा ने राजधर को फंसाया है। उन्होंने इस मामले की जांच की मांग की है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
प्रतापगढ़ के रहने वाले वाले राहुल मिश्रा की लाश नौ अप्रैल को नैनी के मानस विहार अपार्टमेंट में मिली थी। अपार्टमेंट का फ्लैट नंबर 702 खाली पड़ा था। राहुल के मामा कुलदीप तिवारी का आरोप था कि इसी कमरे से फेंककर राहुल की जान ली गई। राहुल रात में इसी अपार्टमेंट में रहने वाली सुमित्रा से मिलने गया था। उसी समय पति राजधर आ गए। दोनों में हाथापाई हुई और राहुल की सातवीं मंजिल से फेंककर हत्या कर दी गई। कुलदीप की तहरीर पर सुमित्रा, राजधर और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।

पुलिस ने सुमित्रा को अगले दिन गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। उधर राजधर अभी तक नहीं पकड़ा गया। राजधर के वकील गुरुवार को एसएसपी से मिले और बताया कि राजधर जब वहां पहुंचा तो सुमित्रा उससे झगड़ने लगी और उसे भगा दिया। राजधर और सुमित्रा के बीच संबंध अच्छे नहीं थे, जिसके कारण वह घर में नहीं रहता था। राजधर ने तेज आवाज में पुलिस बुलाने की बात की थी। इसके बाद वहां से चला गया। दस मिनट बाद सुमित्रा ने उसके मोबाइल पर फोन कर बताया कि राहुल फ्लैट नंबर 702 से कूद गया है। वह तुरंत मानस विहार पहुंचा और राहुल को लादकर एसआरएन अस्पताल ले गया। अगर उसे मारना होता तो वह क्यों राहुल को अस्पताल ले जाता। सुमित्रा ने उसे फंसाने के लिए बयान दिया क्योंकि अच्छे संबंध न होने की वजह राजधर उसके साथ नहीं रहता था। प्रार्थनापत्र में पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की गई है। 

Recommended

अभिरुचि- एक अनूठी पहल अब पढ़ाई नहीं बनेगी बोझ
Invertis university

अभिरुचि- एक अनूठी पहल अब पढ़ाई नहीं बनेगी बोझ

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019
Astrology

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

राज्यपाल सत्यपाल मलिक का उमर अब्दुल्ला पर गुस्सा, सफाई में कहा-गलती से बोल दिया ऐसा

जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भ्रष्ट नेताओं पर दिए अपने बयान को लेकर अब सफाई देते हुए कहा कि उन्हें एक संवैधानिक पद पर होते हुए ऐसा नहीं बोलना चाहिए था। उन्होंने कहा कि उनके वक्तव्य को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया।

22 जुलाई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree