विज्ञापन

संदिग्धावस्था में युवक की मौत

ब्यूरो, अमर उजाला फर्रुखाबाद Updated Mon, 01 Dec 2014 11:48 PM IST
man;s death in suspisious conditions
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बाजार जाने के लिए निकले युवक का शव घर से कुछ दूरी पर मिला। शरीर पर चोट के तमाम निशान हैं। परिजन धारदार हथियार से हत्या किए जाने का आरोप लगाते हुए तीन लोगोें के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है। हालांकि मौत का कारण सड़क दुर्घटना बता रही है।
विज्ञापन
थाना क्षेत्र के गांव गंडुआ निवासी 32 वर्षीय बलवीर राजपूत पुत्र ब्रजनंदन लाल रविवार शाम बाइक से बाजार जाने के लिए निकला था। देर रात तक वापस न आने पर परिजनों ने खोजबीन की।
इस दौरान उसका शव गांव से कुछ दूरी पर दुंदी नगला की पुलिया के पास पड़ा मिला। उसके शरीर, गले और सिर में चोटों के निशान थे। परिजनों का आरोप है कि धारदार हथियार से वार कर हत्या की गई है।
सूचना पर रात करीब दो बजे पुलिस मौके पर पहुंचे। मृतक के भाई शीशराम की तहरीर पर पुलिस ने गंगइया निवासी बाबूराम, उसके पुत्र रतनपाल और गंडुआ निवासी मोहन के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही मृत्यु का कारण स्पष्ट हो सकेगा। पुलिस ने आरोपी बाबूराम को हिरासत में ले लिया है।
दुर्घटना बता रही है पुलिस  
हालांकि कोतवाल एके सिंह का कहना है कि बाइक की लाइट टूटी मिली है। ऐसे में आशंका है कि किसी वाहन की चपेट में आने से उसकी मौत हुई है। कोतवाली पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान हिरासत में लिए गए बाबू राम ने बताया कि वह बाइक से गांव जा रहा था। बाइक को बलबीर चला रहा था।
 सामने से आए वाहन की तेज रोशनी में उसके वाहन से बलवीर के वाहन में टक्कर लग गई, जिससे बलवीर की मौत हो गई।

परिजनों का यह है आरोप
मृतक की पत्नी सुहागश्री व पुत्री सजीवन ने बताया कि रविवार को गंगइया निवासी बाबूराम के नाती अंकुर को बाइक से टक्कर लग गई थी। इस पर बलवीर ने बाजार में अंकुर का इलाज करा दिया था। शाम को बाबूराम, मोहन और बलवीर बाइक से फिर बाजार गए।
इस बीच इन लोगों ने ने बलवीर की हत्या कर दी। उसने आरोप लगाया कि जब बाबूराम के बेटे महेंद्र ने फोन कर बलवीर का शव दुंदी नगला के पास पड़ा होने की जानकारी दी तो वे लोग मौके पर पहुंचे। इस दौरान शव के पास ही बाबूराम के जूते पड़े थे। कुछ दूरी पर पर्स पड़ा था ।
 इसमें रुपये, उसके कागज और फटे फोटो  पड़े थे। घटना के बाद बाबूराम ने बाइक को पास के गांव सूखा नगला में एक घर में छुपा दिया। इसे पुलिस ने बरामद कर लिया।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

गर्भवती को जलाकर मार डाला, कोर्ट ने पति, सास-ससुर को सुनाई बड़ी सजा

दहेज के लिए गर्भवती को जलाकर हत्या करने के मामले में फर्रुखाबाद जिला जज अरुण कुमार मिश्र ने पति, सास, ससुर को उम्रकैद की सजा सुनाई है।

21 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

‘मौत के कुएं’ ने ली दो सगे भाईयों की जान, गांव में कोहराम

कानपुर देहात में कुएं में उतरे दो सगे भाइयों की मौत से हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि गांव के सालों पुराने कुएं से जहरीली गैस निकल रही थी जो दोनों भाईयों की मौत की वजह बनी।  

7 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree