विज्ञापन

गुस्साए शिवसैनिकों की नारेबाजी

ब्ययूराो, अमर उजाला हरदाोई Updated Tue, 02 Dec 2014 12:37 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
शिवसेना के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राज्य सचिव अवनीश श्रीवास्तव ने कहा कि पिहानी क्षेत्र में हरद्वारी लाल गौतम के परिवार को गांव के दबंगों द्वारा लगातार प्रताड़ित करने, पुलिस द्वारा उत्पीड़ित कराने से उसे गांव छोड़ने को विवश होना पड़ा है, जो छह दिनों से परिवार के साथ भटक रहा है। उन्होंने बताया कि पीड़ित हरद्वारी लाल अलीगढ़ में मजदूरी करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले पीड़ित की जमीन को दबंगों ने षड्यंत्र रच कर हथियाने का प्रयास किया, फिर दबंगों द्वारा स्थानीय पुलिस का हस्तक्षेप कराकर पीड़ित की भूमि को आधा भाग विपक्षी को दिलवा दिया। यही नहीं 23 नवंबर को विपक्षी रामबक्स ने पुन: गाली गलौज व झगड़ा किया उसके साथ दबंगों ने भी मारपीट की।
विज्ञापन
इससे उनके भाई शिशुपाल के भी गंभीर चोटें आई हैं, पर राजनीतिक दबाव के चलते क्रास केस बनाने के लिए पीड़ित और परिजनों के विरुद्ध भी झूठी एनसीआर दर्ज करा दी गई। यही नहीं इसके बाद दूसरी एनसीआर भी इनके विरुद्ध दर्ज करा दी गई। इस दौरान शिवसेना पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने एक ज्ञापन जिलाधिकारी रमेश मिश्र को सौंपा, जिसमें उक्त के अलावा किसी उच्च अधिकारी से पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच कराकर पीड़ित को न्याय एवं दोषियों पर कार्रवाई कराने की मांग की। इस मौके पर ओम प्रकाश, सरोज तिवारी, आशुतोष कुमार राठौर, दिनेश कुमार, शिशुपाल और श्रीराम आदि मौजूद थे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

मरीजों को एक्सरे के लिए करना पड़ा घंटों इंतजार

डिजिटल एक्सरे मशीन खराब होने से सोमवार को मरीजों को एक्सरे के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा।

13 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

मध्यप्रदेश चुनावः अखबार बेचने वाले बच्चे ने खोली नेताओं की पोल

सत्ता का सेमीफाइनल के तहत अमर उजाला डॉट कॉम का चुनावी रथ राजनीतिक हालातों का जायजा लेने मध्यप्रदेश पहुंचा हुआ है। लोगों से राय लेने के दौरान हमने एक बच्चे से भी कुछ जानना चाहा। आइए देखते हैं बच्चे ने नेताओं के लिए क्या कहा...

12 नवंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree