विज्ञापन

आमिर के नौहों पर छलकी आंखें

ब्ययूराो, अमर उजाला हरदाोई Updated Tue, 02 Dec 2014 12:41 AM IST
Aamir on nohe stream eyes
विज्ञापन
ख़बर सुनें
दिल्ली से आए सैयद अमीर हसन अमिर को सुनने पिहानी समेत आसपास के इलाकों से भारी संख्या में लोग जुटे। आमिर ने मंच पर आते ही अपना प्रसिद्ध नौहा, मां मैं प्यास हूं मां शुरू किया तो मातमदारों की आंखें छलक पड़ीं। इसके अलावा उन्होंने ‘चक्कियां पीस के ऐ लाल तुझे पाला है’ और ‘अलम देखो, अलम की शान देखो’ आदि नौहे पेश कर जंगे करबला की मंजरकशी की। आमिर जब पढ़ रहे थे तो मौजूद लोग रो रहे थे। जितनी देर वह माइक पर रहे, मातमदारों के हलक से सिसकियां निकलती रहीं। इसके अलावा यहां पर अंजुमन सज्जादिया महमूदाबाद ने नौहा, हर दौर में लहराएगा अलम अब्बास का, के साथ मातम किया।
विज्ञापन
कार्यक्रम में अंजुमन हैदरिया करबन (उन्नाव), तुल्लाबे जामिया अबूतालिब (सीतापुर) व रौनके अजा पिहानी ने भी मर्सिये पढ़कर मातम किया। इससे पहले मसजिदे मोहम्मदी से अंजुमन सज्जादिया (पियाबाग) ने अलम का जुलूस बरामद किया। प्रमुख मार्गों से भ्रमण के दौरान जुलूस में सैयदे सज्जाद की शबीहे ताबूत शामिल हुई। इसे अकीदतमंदों ने बोसे दिए। मसजिद में बरपा हुई मजलिस में शिया जामा मसजिद पिहानी के इमाम मौलाना फरमान अली ने कहा कि कामयाब जिंदगी वही है जो अल्लाह, रसूल और अहले बैत के बताए रास्ते के मुताबिक गुजर रही है। हमें चाहिए कि रसूल से वाबस्तगी के लिए अहले बैत का दामन थामें।
उन्होंने इमाम हुसैन के भाई हजरत अब्बास अलमदार की शहादत और प्यासी भतीजी बीबी सकीना की बेबसी को बयान कर अजादारों की आंखें नम कर दीं। भ्रमण के बाद देर शाम मसजिद पहुंच कर जुलूस का समापन हो गया। कार्यक्रम में कमर, मौलाना फरमान अली, शबीह हसन, आमिर व तौहीद आदि ने व्यवस्थाएं देखीं।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

कुएं में गिरकर किशोर की मौत के बाद बवाल

सदर तहसील परिसर स्थित सूखे कुएं में गिरकर किशोर की मौत हो गई। करीब एक घंटे तक फायर ब्रिगेड की टीम किशोर को निकालने में आनाकानी करती रही।

19 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

‘मौत के कुएं’ ने ली दो सगे भाईयों की जान, गांव में कोहराम

कानपुर देहात में कुएं में उतरे दो सगे भाइयों की मौत से हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि गांव के सालों पुराने कुएं से जहरीली गैस निकल रही थी जो दोनों भाईयों की मौत की वजह बनी।  

7 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree