अब कानपुर में पंजीकृत होंगी LLP फर्म

Market Updated Sat, 23 Jun 2012 12:00 PM IST
LLP-firms-are-now-registered-in-Kanpur
ख़बर सुनें
लिमिटेड लाइबिलिटी पार्टनरशिप (एलएलपी) फर्मों का पंजीकरण अब सभी प्रदेशों में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के यहां होगा। इस संबंध में कंपनी मामलों के मंत्रालय ने 11 जून को आदेश जारी कर दिया है। कानपुर में पंजीकरण होना शुरू भी हो गया हैं। इससे पहले एलएलपी के लिए दिल्ली की दौड़ लगानी पड़ती थी। एलएलपी का चलन अभी शहर के लिए नया है। इसमें सभी पार्टनरों की स्थिति व जिम्मेदारी स्पष्ट होती है।
अबतक दिल्ली को लगानी होती थी दौड़
अभी तक एलएलपी का पंजीकरण दिल्ली स्थित रजिस्ट्रार कार्यालय में होता था। पंजीकरण के बाद हर छोटे-छोटे कार्य के लिए दिल्ली की दौड़ लगानी पड़ती थी। अब इनके पंजीकरण व इनसे जुड़े सभी कार्य संबंधित प्रदेशों में स्थित रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) कार्यालय में होंगे।

कानपुर के लिए यह फैसला काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यूपी-उत्तराखंड के लिए आरओसी कार्यालय शहर में स्थित है। आरओसी एसपी कुमार ने इस आदेश की पुष्टि करते हुए बताया कि एलएलपी के लिए लोग आवेदन कर सकते हैं। सारी प्रक्रिया ऑनलाइन है। पंजीकरण के बाद सर्टिफिकेट भी ऑनलाइन ही जारी कर दिया जाता है।

क्या है एलएलपी
एक प्रकार की साझेदारी व्यवस्था के तहत कार्य करने की व्यवस्था है। इसमें साझेदारों की जिम्मेदारी उतनी ही होती है, जितना आपसी एग्रीमेंट में तय कर लिया जाता है। अन्य साझेदारी फर्मों की तरह इसमें एक साझेदार की गलती या भुगतान आदि के लिए दूसरे साझीदारों को भुगतना नहीं पड़ता।

Spotlight

Related Videos

घाटी में तैनात हुए आतंकियों के यमराज, देखिए कैसे होती है इनकी ट्रेनिंग

जम्मी कश्मीर में आतंकियों से निपटने के लिए अब एनएसजी कमांडो की तैनात कर दी गई है। आतंकियों के खिलाफ नए सिरे से ऑपरेशन को शुरू करने के लिए गृह मंत्रालय ने ये कदम उठाया गया है।

21 जून 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen