औद्योगिक उत्पादन के पटरी पर लौटने की उम्मीद

Market Updated Wed, 30 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
Industrial-production-is-expected-to-return-to-track
ख़बर सुनें
देश की अर्थव्यवस्था पर पैनी निगाह रखने वाली संस्था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन एकोनामी (सीएमआईई) का मानना है कि विशेषकर खनन और बिजली क्षेत्र में सुधार से चालू वित्त वर्ष के दौरान औद्योगिक उत्पादन फिर से पटरी पर लौटेगा। संस्था की राय में 2011-12 के 3.9 प्रतिशत के मुकाबले 2012-13 में औद्योगिक उत्पादन की गति 6.9 प्रतिशत पर पहुंचने का अनुमान है।
विज्ञापन

संस्था की नवीनतम रिपोर्ट में कहा गया है कि आपूर्ति संबंधी बाधाएं खासकर खनन क्षेत्र में तेजी से सुधरेंगी। बिजली का उत्पादन भी बढे़गा, जो औद्योगिक उत्पादन को गति पकड़ने में खासकर मददगार होगा। चालू वित्त वर्ष के दौरान शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में क्रय शक्ति बढ़ने-कच्चे माल की सहज उपलब्धता और क्षमता विस्तार से विनिर्माण क्षेत्र में अभूतपूर्व सुधार देखने को मिलेगा।
खनन क्षेत्र जो समाप्त वित्त वर्ष में दो प्रतिशत नकारात्मक रहा था, इसके 5.5 प्रतिशत की गति पकड़ने की उम्मीद है। इसमें कोयला क्षेत्र का अहम योगदान होगा। कोयला क्षेत्र में आठ प्रतिशत वृद्धि का अनुमान है। तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) के क्षमता विस्तार से कच्चे तेल क्षेत्र में साढे़ छह प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद है। विनिर्माण क्षेत्र के 3.9 प्रतिशत के मुकाबले 5.8 प्रतिशत और ऊर्जा क्षेत्र में आठ की तुलना में 13.2 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us