लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   News Archives ›   Business archives ›   Just-do-not-go-diesel-LPG-prices

अभी नहीं बढ़ेंगे डीजल, रसोई गैस के दाम

Market Updated Fri, 25 May 2012 12:00 PM IST
Just-do-not-go-diesel-LPG-prices
विज्ञापन
पेट्रोल के दाम बढ़ने से चौतरफा आलोचना झेल रही सरकार फिलहाल डीजल, रसोई गैस और किरोसीन के दाम नहीं बढ़ाएगी। पेट्रोल पर गर्मायी सियासत को देखते हुए वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी की अध्यक्षता वाली अधिकार प्राप्त मंत्रियों के समूह (ईजीओएम) की शुक्रवार को होने वाली प्रस्तावित बैठक टाल दी गई है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक पहले शुक्रवार को बैठक तय की गई थी।


लेकिन बृहस्पतिवार शाम तक वित्त मंत्री या पेट्रोलियम मंत्रीके कार्यक्रमों में इसका उल्लेख नहीं किया गया है। ऐसे में बैठक की संभावना नहीं है। हालांकि इस बीच अपने तय कार्यक्रम को छोड़ पेट्रोलियम मंत्री जयपाल रेड्डी तुर्कमेनिस्तान से वापस आ चुके हैं। लेकिन उन्होंने पेट्रोल की बढ़ी कीमतों के साथ ईजीओएम की बैठक पर चुप्पी साध रखी है।


तेल कंपनियों को 512 करोड़ के घाटे का अनुमान
उल्लेखनीय है कि ईजीओएम की बैठक पिछले एक साल से नहीं हुई है। रुपए की कमजोरी और आयात बिल में बढ़ोतरी के बावजूद इस दौरान केवल पेट्रोल के दाम बढ़ाए गए हैं। इस वजह से शेष ईंधन बिक्री पर तेल कंपनियों का घाटा और सरकार पर सब्सिडी बोझ बढ़ा है। तेल कंपनियों को डीजल, एलपीजी और किरोसीन बिक्री पर अनुमानित तौर पर 512 करोड़ रुपए का घाटा हो रहा है।

तेल कंपनियों ने कहा, ईंधनों की कीमत बढ़ाना जरूरी
जबकि एक लीटर डीजल बिक्री पर कंपनियों का घाटा 15.35 रुपए, किरोसीन पर 32.98 रुपए प्रति लीटर और रसोई गैस पर 479 रुपए का नुकसान झेलना पड़ रहा है। तेल कंपनियों का मानना है कि अगर जल्द ईंधनों के दाम नहीं बढ़ाए गए तो चालू वित्त वर्ष में उन्हें 1,93,880 करोड़ रुपए का नुकसान हो सकता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00