बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 16 हजार के नीचे

Market Updated Wed, 23 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
Declining-trend-in-the-stock-market
ख़बर सुनें
विदेशों से समर्थन के अभाव तथा रुपये के रिकॉर्ड 56 रुपये प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर तक गिरने से सहमे निवेशकों की चौतरफा बिकवाली की मार से घरेलू शेयर बाजार चार महीने से ज्यादा की गिरावट लेकर बंद हुए। बीएसई का सेंसेक्स 78.31 अंक फिसलकर 16 हजार के मनौवैज्ञानिक स्तर से नीचे 15,948.10 अंक पर आ गिरा।एनएसई का निफ्टी 24.85 अंक लुढ़क कर 4,835.65 अंक पर रहा।
विज्ञापन


कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, कैपिटल गुड्स, रीयल्टी, मेटल, ऑटो और पावर समेत बीएसई समूह के सभी वर्ग नुकसान में रहे। सेंसेक्स भारती एयरटेल के शेयरों ने सबसे ज्यादा नुकसान उठाया, जबकि गेल इंडिया के शेयर सबसे ज्यादा लाभ में रहे।


बैंकों और निर्यातकों की ओर से डॉलर की तगड़ी मांग आने से एक डॉलर की तुलना में रुपया लगातार छठे कारोबारी दिवस कमजोर होकर 56 रुपये प्रति डॉलर की सीमा तोड़ता हुआ रिकॉर्ड गिरावट की ओर जाता दिखा। इससे बाजार बिकवाली के दबाव में आ गया। यूरोपीय संकट से विदेशी बाजार भी ढहते नजर आए।

सेंसेक्स और निफ्टी दोनों गिरावट लेकर खुले। सेंसेक्स करीब 30 अंक नीचे 15,995.14 अंक पर खुला। बीच कारोबार में यह 16,002.03 अंक के उच्चतम और 15,847.03 अकं के निचले स्तर तक उतर कर आखिर में पिछले दिवस के 16,026.41 अंक की तुलना में 0.49 प्रतिशत गिरकर 15,948.10 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी ने 16 अंक नीचे 4,843.00 पर शुरुआत की बीच कारोबार में यह 4,853.75 अंक के ऊपर और 4,803.95 अंक के नीचे में रहकर आखिर में पिछले दिवस के 4,860.50 अंक की तुलना में 0.51 प्रतिशत कमजोर रहा। बीएसई का मिडकैप 23.96 अंक नीचे 5,830.22 अंक पर और स्मॉलकैप 36.48 अंक घटकर 6,238.23 अंक पर रहा।

सेंसेक्स में सबसे ज्यादा नुकसान एयरटेल को हुआ। टूजी स्पेक्ट्रम की दोबारा नीलामी के लिए दूरसंचार मंत्रालय की ओर से शुल्क तय करने की खबरों से टेलीकॉम वर्ग के शेयर भारी दबाव में दिखे। इसके साथ ही टाटा पावर 1.99 फीसदी, हीरो मोटोकॉर्प 1.86, जिंदल स्टील 1.84, स्टरलाइट 1.51, बजाज ऑटो 1.37, एचडीएफसी 1.22, टाटा मोटर्स 1.19, डीएलएफ 1.18, एलएंडटी 1.18, सन फार्मा 1.01, सिप्ला 0.88, ओएनजीसी 0.80, टाटा स्टील 0.80, आईसीआईसीआई बैंक 0.64, आरआईएल 0.58, आईटीसी 0.52, एचडीएफसी बैंक 0.42, एनटीपीसी 0.35 और मारुति 0.17 प्रतिशत घाटे में रही।

लाभ कमाने वालों में गेल इंडिया 3.19 प्रतिशत फायदे के साथ सबसे आगे रही। इसके साथ ही आईटी कंपनी विप्रो ने 1.15 प्रतिशत का लाभ कमाया। एसबीआई 0.93 फीसदी, महिंद्रा 0.84, कोल इंडिया 0.72, हिन्दुस्तान यूनि 0.68, हिंडाल्को 0.42, इनफोसिस 0.25, टीसीएस 0.21 और भेल 0.10 प्रतिशत लाभ में रही। यूरोपीय देशों की अगले सप्ताह ब्रसेल्स में होने वाली शिखर बैठक के नतीजों को लेकर बनी आशंका के बीच यूरोप और एशियाई बाजारों में खासी गिरावट रही।

फिच के जापान की रेटिंग घटाने से निक्की दो प्रतिशत कमजोर हुआ। हांगकांग का हैंगसेंग 1.33 फीसदी व चीन का शंघाई कंपोजिट 0.42 प्रतिशत कमजोर पड़ा। ब्रिटेन का एफटीएसई भी करीब दो प्रतिशत की गिरावट में रहा। हालांकि अमेरिकी बाजारों में शुरुआती तेजी देखी गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us