बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

उत्तर प्रदेश चुनाव: क्या योगी आदित्यनाथ को रोकने के लिए बन पाएगी सपा-बसपा-कांग्रेस की तिकड़ी?

Amit Sharma Digital अमित शर्मा
Updated Tue, 03 Aug 2021 04:49 PM IST

सार

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि विपक्ष के साथ समग्र गठबंधन की कोई संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि पूरे पांच साल के दौरान कांग्रेस ने अकेले दम पर सड़कों पर भाजपा का विरोध किया है। मजदूरों, छात्रों और महिलाओं के लिए हमेशा कांग्रेस ने ही लड़ाई लड़ी। वह अकेले दम पर ही जनता के बीच जाएगी...
विज्ञापन
सपा, बसपा, कांग्रेस
सपा, बसपा, कांग्रेस - फोटो : Amar Ujala (File)
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे करीब आ रहा है, प्रदेश में राजनीतिक हलचल तेज होने लगी है। एक तरफ भाजपा ओमप्रकाश राजभर जैसे अपने पुराने सहयोगियों की नाराजगी दूर कर एक बार फिर उन्हें साथ लाने में जुट गई है तो वहीं विपक्ष भी अपनी धार को तेज करने के लिए लगातार सक्रिय है। उत्तर प्रदेश में भी महागठबंधन बनाकर गैर-भाजपाई वोटों को बंटने से रोकने की कोशिशें शुरू हो चुकी हैं।
विज्ञापन

पश्चिम बंगाल के प्रयोग से विपक्ष उत्साहित

माना जाता है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 के दौरान भाजपा अपने सर्वश्रेष्ठ लोकप्रियता पर थी। उस प्रचंड लोकप्रियता में भी भाजपा को केवल 39.67 फीसदी ही मत प्राप्त हुए थे। यानी उस दौरान भी 60 फीसदी से ज्यादा मतदाताओं ने गैर-भाजपाई विकल्प को ही प्राथमिकता दी थी। विपक्ष के रणनीतिकारों का मानना है कि अगर इन वोटरों को एक साथ लाने में सफलता पाई जा सके तो भाजपा को रोकना संभव हो सकता है।


कोरोना महामारी के दौरान राज्य सरकार का कुप्रबंधन, युवाओं में लगातार बढ़ रही बेरोजगारी, किसानों-शिक्षकों की नाराजगी और अन्य कारणों से माना जा रहा है कि इस बार भाजपा का ग्राफ नीचे ही जाएगा। ऐसे में विपक्षी दलों की रणनीति है कि अगर वोटों को बिखरने से रोका जा सके तो भाजपा को हराया जा सकता है।

अखिलेश यादव के बयान को इसी संदर्भ में देखा जा रहा है। उन्होंने बसपा और कांग्रेस से कहा कि उन्हें यह तय करना चाहिए कि उन्हें सपा से लड़ना है या भाजपा से। राजनीतिक हलकों में माना जा रहा है कि यह अखिलेश यादव का संकेत था कि विपक्षी दलों को साथ आकर गैर-भाजपाई वोटरों को एक साथ लाने की कोशिश की जानी चाहिए।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X