लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   Jabalpur ›   Tribal girl student murdered after rape in Jabalpur

Crime News: कथित जीजा ने आदिवासी छात्रा संग दुष्कर्म कर हत्या की, तालाब किनारे नग्न अवस्था में मिला शव

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जबलपुर Published by: अरविंद कुमार Updated Thu, 22 Sep 2022 10:37 PM IST
सार

मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले में आदिवासी स्कूली छात्रा के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने का मामला सामने आया है। छात्रा का शव गुरुवार सुबह तालाब के किनारे नग्न अवस्था में मिला।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

जबलपुर जिले में स्कूल से लौट रही छात्रा के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। छात्रा का शव गुरुवार सुबह तालाब के किनारे नग्न अवस्था में मिला। उसके गले में दुपट्टे का फंदा था। छात्रा के स्कूल से वापस नहीं लौटने की सूचना परिजनों ने डायल 100 और पुलिस को दी थी। पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से आक्रोशित ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे पर जाम लगाया।



टिकरिया थाना प्रभारी माधव ठाकुर के मुताबिक, लालीपुर निवासी 13 साल की आदिवासी छात्रा मझगवां गांव स्थित माध्यमिक विद्यालय में पढ़ती थी। स्कूल से छुट्टी होने के बाद छात्रा दूसरे गांव में रहने वाली अपनी सहेली के साथ वापस घर लौट रही थी। रास्ते में छात्रा से अनिल मरकाम (30) नामक व्यक्ति मिला, जिसकी शादी छात्रा के गांव में हुई थी।


थाना प्रभारी के मुताबिक, उसने दोनों छात्राओं को घर छोड़ने की बात कहते हुए अपनी गाड़ी में बैठा लिया। पहले मृतक छात्रा की सहेली को घर छोड़ा। ऐसे में जब आदिवासी छात्रा घर नहीं पहुंची तो उसके परिजनों ने उसके संबंध में पूछताछ की। उसके बाद रात नौ बजे डायल 100 को सूचित किया गया और रात के करीब 12 बजे थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंचे।

वहीं, छात्रा का शव गुरुवार सुबह दूसरे गांव के बाहर तालाब के पास मिला। उसके शरीर पर कपड़े नहीं थे और गले में दुपट्टे का फंदा मिला। पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजवा दिया। पुलिस ने कथित जीजा को अभिरक्षा में लिया है और उससे पूछताछ जारी है। व्यक्ति चेन्नई में रहकर काम करता है और दो दिन पहले ही अपने गांव चंदहरा लौटा था।

मामले को लेकर विधायक डॉ. अशोक मसकोले ने बताया, रात के समय पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने और बच्ची की तलाश करने के बजाए परिजनों को उम्र के संबंध में प्रमाण-पत्र लाने की बात कहते हुए लौटा दिया था। सूचना देने पर डायल 100 भी नहीं पहुंची, जिसके कारण ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे पर जमा लगा दिया। चार घंटे बाद पुलिस अधीक्षक ने पहुंचकर आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया, जिसके बाद गुरुवार शाम करीब 6 बजे चक्काजाम समाप्त हुआ।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00