विज्ञापन
विज्ञापन
पारिवारिक जीवन में सुख-समृद्धि प्राप्ति हेतु जगन्नाथ मंदिर में पौष पूर्णिमा पर कराएं विष्णुसहस्रनाम पाठ !
Purnima Special

पारिवारिक जीवन में सुख-समृद्धि प्राप्ति हेतु जगन्नाथ मंदिर में पौष पूर्णिमा पर कराएं विष्णुसहस्रनाम पाठ !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

भोपाल: तेज रफ्तार एसयूवी ने बाइक सवार तीन भाइयों को मारी टक्कर, दो की मौत, एक गंभीर

भोपाल के रातीबड़ थाना इलाके में शनिवार की सुबह तेज रफ्तार एसयूवी ने बाइक पर सवार होकर आ रहे तीन भाइयों को इतनी जोरदार टक्कर मार दी कि उनकी बाइक करीब सौ फीट दूर जा गिरी। इस भीषण सड़क हादसे में बाइक पर सवार दो भाइयों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीसरे की हालत नाजुक बनी हुई है। 

रातीबड़ थाना पुलिस ने बताया कि राजपुरा में बिलकिसगंज का रहने वाला बृजमोहन मीणा और उसका परिवार निर्माणाधीन मकानों में छत ढलाई का ठेका लेते हैं। बृजमोहन शनिवार की सुबह करीब साढ़े आठ बजे अपने बड़े भाई रामबाबू और प्रेमनारायण मीणा के साथ एक ही बाइक पर सवार होकर साइट पर काम करने के लिए निकला था। इस दौरान रातीबड़ से बिलकिसगंज जाने वाली सड़क पर सामने से आ रही तेज रफ्तार एसयूवी ने उनकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी। 

घटनास्थल पर लगे सीसीसटीवी फुटेज को देखने के बाद पुलिस ने बताया कि  कुत्ते को बचाने के लिए ड्राइवर ने एसयूवी सड़क से नीचे उतारी फिर दोबारा सड़क पर लौटते वक्त सामने से आ रहे बाइक सवारों को टक्कर मार दी। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि रामबाबू और प्रेमनारायण 20 फीट ऊपर उछले और सड़क पर आ गिरे। इस कारण मौके पर ही उनकी मौत हो गई। जबिक उनकी बाइक उछल कर करीब सौ फीट दूर जा गिरी। 

पुलिस के अनुसार इस हादसे के पल भर बाद ही एसयूवी ने दूसरी बाइक पर बिलकिसगंज से भोपाल लौट रहे मां-बेटे को भी टक्कर मारकर जख्मी कर दिया। एसयूवी इतनी अनियंत्रित हो चुकी थी कि सड़क किनारे लगे पेड़ से टकरा गई। हादसे के बाद आरोपी ड्राइवर पीछे से आ रही दूसरी कार में सवार होकर फरार हो गया। पुलिस को कार में क्रिकेट का सामान मिला है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि आरोपी फेथ क्रिकेट क्लब में प्रैक्टिस करके लौट रहा होगा।

वहीं, घटना के प्रत्यक्षदर्शियों ने कार में तोड़फोड़ कर दी। इसके पहले कि वे एसयूवी को आग के हवाले कर देते, सूचना मिलते ही  मौके पर पुलिस पहुंच गई और कार को जब्त कर लिया। हादसे में गंभीर रूप से घायल बृजमोहन को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालात गंभीर बनी हुई है। हादसे की सूचना से राजपुरा गांव में मातम मचा हुआ है।


 
... और पढ़ें

भोपाल में जिला प्रशासन को है हड़कंप की आशंका, तीन थाना क्षेत्रों में लगाया कर्फ्यू तो 11 में धारा 144 लागू

भोपाल में आज यानी रविवार को तीन इलाकों में प्रशासन द्वारा कर्फ्यू लगा दिया गया है। यह तीन इलाके जमालपुरा, हनुमानगंज और गौतम नगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं। इतना ही नहीं, शहर के 11 थाना क्षेत्रों में में धारा 144 भी लागू कर दी गई है। यह आदेश रविवार सुबह 9:00 बजे से आगामी आदेश तक लागू रहेगा। दरअसल, आज शहर में एक समुदाय विशेष निर्माण कार्य कर रहा है। इसे देखते हुए एहतियातन जिला प्रशासन ने यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है।

बता दें, हाइकोर्ट ने हाल-फिलहाल में भोपाल के कबाड़खाना क्षेत्र में स्थित लगभग 30 हजार वर्ग फीट भूमि के विवाद को लेकर संघ कार्यालय 'केशव नीडम' के पक्ष में फैसला दिया था। इस फैसले के बाद 'केशव नीडम' के पदाधिकारी आज उक्त जमीन पर चारदीवारी का निर्माण करा रहे हैं। ऐसे में आशंका है कि स्थानीय नागरिक हंगामा कर सकते हैं। इसलिए क्षेत्र में शांति बनाए रखने के लिए यह फैसला लिया गया है। 

इस कड़ी में पुराने भोपाल की कुछ सड़कों को सील कर दिया गया है और चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल पहरा दे रही है। साथ ही लोगों को घरों में ही रहने को कहा गया है। जिला प्रशासन का आदेश है कि इस दौरान सभी व्यावसायिक संस्थान, दुकानें, उद्योग आदि बंद रहेंगे जबकि अस्पताल और दवाइयों की दुकानें खुली रह सकती हैं। 

गौरतलब है कि पुराने भोपाल में कर्फ्यू लगने का असर भारत टॉकिज चौराहा, पुरानी सब्जी मंडी, तलैया थाना क्षेत्र, हमीदिया रोड, शाहजहांनाबाद थाना रोड, सेफिया कॉलेज रोड, रेलवे स्टेशन प्लेटफॉर्म नंबर-6, भारत टॉकिज ओवरब्रिज, निशातपुरा से हनुमानगंज जैसे इलाकों में रहेगा। इन इलाकों की तरफ आने वाले मार्गों पर कोई भी व्यक्ति बिना अति आवश्यक कार्य के नहीं पहुंच पाएगा। 

हालांकि, ये आदेश शासकीय सेवक पुलिसकर्मी सशस्त्र बल पर और शैक्षणिक या प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों पर लागू नहीं होगा। यह आदेश इन परीक्षाओं की ड्यूटी में लगे कर्मचारियों पर भी लागू नहीं होगा। यह लोग प्रवेश पत्र व आइडी कार्ड दिखाने पर आगमन कर सकेंगे।

... और पढ़ें

कोलकाता जा रही इंडिगो की फ्लाइट की भोपाल में आपात लैंडिंग, सभी 172 यात्री सुरक्षित

शहडोल: गाड़ी टकराई तो कांस्टेबल ने मांगे पांच हजार रुपये, इनकार करने पर जड़ा थप्पड़

शहडोल में कांस्टेबल ने बाइक सवार को जड़ा थप्पड़ शहडोल में कांस्टेबल ने बाइक सवार को जड़ा थप्पड़

बैतूल: 13 साल की बच्ची से दुष्कर्म, फिर जिंदा दफन करके चला गया आरोपी

शराब

भोपाल: महिला ने पति को भेजा अनोखा कॉन्ट्रैक्ट, लिखा- प्रेमी संग लिव इन में रहूंगी, नहीं चाहिए संपत्ति

'तांडव' के निर्माताओं के खिलाफ मध्यप्रदेश सरकार दर्ज करेगी मामला, नरोत्तम ने अखिलेश पर किया पलटवार

अली अब्बास जफर की वेब सीरिज तांडव पर विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। जहां भाजपा ने इस सीरिज को बैन करने की मांग की है। वहीं इसपर राजनीतिक बयानबाजी का भी दौर शुरू हो गया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तांडव पर दर्ज हुई एफआईआर के बहाने योगी सरकार पर हमला बोला था। अब इसे लेकर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने उनसे पूछा है कि आखिर हर बार हिंदू धर्म ही क्यों निशाने पर आता है।

नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को कहा, 'जो भी विषय हिंदू धर्म के खिलाफ होता है उस पर अखिलेश यादव जैसे लोग तांडव करते हैं। मेरा उनसे सवाल है कि आज तक जितनी भी फिल्में बनी हिंदू धर्म के अलावा कभी किसी धर्म पर टिप्पणी की गई क्या? आखिर हिंदू धर्म ही हर बार क्यों निशाने पर आता है, इस पर कोई तांडव करता है और हम विरोध करते हैं तो उन्हें क्यों बुरा लगता है इसका जवाब उन्हें देना चाहिए।'
 


तांडव’ के निर्माताओं के खिलाफ राज्य सरकार दर्ज करेगी मामला
मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को कहा कि ‘अमेजन प्राइम वीडियो’ पर दिखाई जा रही वेब सीरीज ‘तांडव’ के निर्माताओं के खिलाफ प्रदेश सरकार कथित तौर पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का मामला दर्ज करेगी। पत्रकारों द्वारा अमेजन प्राइम की वेब सीरीज ‘तांडव’ के बारे में पूछे जाने पर मिश्रा ने कहा, 'जीशान अयूब, सैफ अली खान और अब्बास जफर ने जिस तरह से हमारे धर्म पर प्रतिक्रिया दी और हमारी भावनाओं को आहत किया, उसकी मैं निंदा करता हूं। मध्यप्रदेश सरकार इस संबंध में एक मामला दर्ज करेगी।'

यह भी पढ़ें- किसानों के मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए भाजपा तांडव पर करा रही ‘तांडव’ : अखिलेश 

इससे पहले, सोमवार को मध्यप्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग और राज्य विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से अपील की थी कि वे हिंदू देवी-देवताओं का कथित तौर पर उपहास उड़ाने के आरोप में अमेजन प्राइम वीडियो की सीरीज 'तांडव' पर प्रतिबंध लगाया जाए।
... और पढ़ें

मध्यप्रदेश में पुलिस बल को मिलेगा साप्ताहिक अवकाश, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने किया यह एलान

‘तांडव’ विवाद : शिवराज सिंह चौहान ने की ओटीटी प्लेफॉर्म पर अंकुश लगाने की वकालत

वेब सीरीज तांडव को लेकर उठे विवाद के बीच मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ओटीटी प्लेटफॉर्म को लेकर सवाल उठाए हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने सोमवार को ओटीटी प्लेटफॉर्म की निगरानी करने और इस पर अंकुश लगाने की वकालत की है। 

शिवराज सिंह चौहान ने अपने बयान में कहा कि हमारी आस्था पर चोट करने का अधिकार किसी को नहीं है। ओटीटी प्लेटफॉर्म पर निगरानी की जरूरत है। इस प्लेटफॉर्म पर जो अश्लीलता परोसी जा रही है, वह हमारे किशोरों को गलत दिशा में ले जा रही है। इस पर अंकुश जरूरी है। उन्होंने कहा कि इसे लेकर भारत सरकार काफी गंभीर है।

बता दें कि अमेजन प्राइम वीडियो पर प्रसारित ‘तांडव’ वेब सीरीज के एक दृश्य को लेकर शुरू हुए विवाद के मामले में इसके निर्माताओं ने सोमवार को बिना शर्त माफी मांगी और कहा कि उनका किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। वेब सीरीज के एक एपिसोड में कथित तौर पर 'धार्मिक भावनाएं' आहत होने की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई गई थी।

‘तांडव’ के कास्ट एवं क्रू की ओर से जारी आधिकारिक वक्तव्य में कहा गया कि वेब सीरीज तांडव पर दर्शकों की प्रतिक्रिया पर हम करीब से नजर रख रहे हैं और आज एक चर्चा के दौरान सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने हमें बताया कि उन्हें वेब सीरीज के विभिन्न पहलुओं को लेकर बड़ी संख्या में शिकायतें और अर्जियां मिली हैं जो इसकी सामग्री द्वारा लोगों की भावनाओं को आहत करने संबंधी गंभीर चिंताओं और आशंकाओं के बारे में हैं।

वक्तव्य में कहा गया है कि तांडव एक काल्पनिक कहानी पर आधारित है और किसी भी गतिविधि, व्यक्ति या घटना से इसकी समानता होना विशुद्ध रूप से संयोग है। इसके निर्माताओं और कलाकारों का किसी व्यक्ति, जाति, समुदाय, धर्म की भावनाओं या धार्मिक आस्थाओं को आहत करने या किसी संस्था, राजनीतिक दल अथवा व्यक्ति (जीवित या मृत) का अपमान करने का कोई इरादा नहीं था।

इसमें कहा गया कि तांडव की पूरी यूनिट लोगों द्वारा जताई गई चिंताओं पर संज्ञान लेती है और यदि इससे गैर-इरादतन तरीके से किसी व्यक्ति की भावनाओं को चोट पहुंची है तो हम बिना शर्त माफी मांगते हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X