लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   Jabalpur ›   Jabalpur stray dogs killed 18 months old girl

जबलपुर: कठौंदा गांव में छोड़े शहर भर के कुत्ते, डेढ़ साल की मासूम को नोंचकर मार डाला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जबलपुर Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Mon, 15 Feb 2021 06:58 PM IST
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मध्य प्रदेश के जबलपुर के कठौंदा गांव में पूरे शहर के आवारा कुत्ते छोड़े जा रहे हैं। इन श्वानों के कारण गांव के बच्चों की जान आफत में है। हद तो तब हो गई जब शुक्रवार को कुत्तों के एक झुंड ने डेढ़ साल की एक मासूम बच्ची की जान ले ली। 


घर के बाहर खेल रही थी मासूम
जबलपुर के मढोताल थाना क्षेत्र के कठौंदा गांव निवासी सुशील श्रीवास्तव की बेटी दीपाली के साथ यह घटना हुई। सुशील शुक्रवार को काम पर चले गए थे। पत्नी वर्षा श्रीवास्तव घर का काम कर रही थी और तीन साल का बेटा विवेक व बेटी दीपाली घर के बाहर खेल रहे थे। तभी कुत्तों का एक झुंड घूमता हुआ आया। बेटे ने उन्हें भगाने की कोशिश की तो कुत्ते उन पर लपक पड़े। विवेक तो भाग गया, लेकिन मासूम दीपाली उनके बीच फंस गई। कुत्तों ने उस पर हमला बोल दिया। उसे बुरी तरह काटा। 


दो दिन इलाज के बाद तोड़ा दम
बेटी की चीख सुनकर मां बाहर आई, लेकिन तब तक वह लहूलुहान हो चुकी थी। पड़ोसियों की मदद से उसे मां अस्पताल लेकर गई। दो दिन तक उसका इलाज चला। शनिवार को ऑपरेशन भी हुआ, खून भी चढ़ाया गया, लेकिन दीपाली को नहीं बचाया जा सका। 

इस वजह से हिंसक हो गए कुत्ते
बेटी की मौत से दुखी सुशील श्रीवास्तव ने आरोप लगाया कि जबलपुर नगर निगम पूरे शहर के कुत्तों को लाकर कठौंदा में छोड़ रहा है। यहां मरे हुए पशुओं का चमड़ा उतारा जाता है। मृत जानवरों का मांस खाने के कारण यहां के कुत्ते ज्यादा हिंसक हो गए हैं। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00