Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   Argument breaks out between CRPF and Madhya Pradesh Police outside residence of OSD to CM kamal nath

मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के करीबियों के यहां छापेमारी, 9 करोड़ रुपये नकद जब्त

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल Published by: संदीप भट्ट Updated Sun, 07 Apr 2019 11:43 PM IST
सीआरपीएफ के अधिकारी प्रदीप कुमार
सीआरपीएफ के अधिकारी प्रदीप कुमार - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों के 50 ठिकानों पर आयकर विभाग ने रविवार तड़के 3 बजे छापेमारी की। यह कार्रवाई कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़, सलाहकार रहे आरके मिगलानी, रिश्तेदार रतुल पुरी, दीपक पुरी और मोजरबियर व अमिरा कंपनी के भोपाल, इंदौर, दिल्ली और गोवा स्थित ठिकानों पर की गई। भोपाल में प्लेटिनम प्लाजा स्थित प्रतीक जोशी के घर से 9 करोड़ रुपये नकद बरामद हुए हैं। हालांकि आयकर विभाग ने इसकी आधिकारिक जानकारी नहीं दी है।  



सूत्रों के अनुसार, आयकर विभाग के करीब 300 अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम ने गोपनीय अंदाज में एक साथ कार्रवाई की। इसकी भनक स्थानीय पुलिस और आयकर विभाग को भी नहीं लगने दी गई। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और दिल्ली की आयकर विभाग की टीम ने इसे अंजाम दिया। यहां तक वाहन भी हरियाणा की नंबर प्लेट वाले इस्तेमाल किए गए।

 

भोपाल में तीन ठिकानों पर छापेमारी की गई। कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण के श्यामला हिल्स स्थित निवास और कक्कड़ के नजदीकी प्रतीक जोशी व अश्विनी शर्मा के प्लेटिनम प्लाजा स्थित घरों पर दबिश दी गई। इंदौर में कक्कड़ के छह ठिकानों को निशाना बनाया गया। आयकर टीम ने उनके स्कीम नंबर 74 स्थित घर के अलावा विजय नगर स्थित शोरूम, बीएमसी हाइट्स स्थित ऑफिस, शालीमार टाउनशिप और जलसा गार्डन में छापेमारी की और दस्तावेज जब्त किए। मिगलानी के दिल्ली में ग्रीनपार्क स्थित घर पर भी कार्रवाई की गई।


ये भी पढ़ेंः कमलनाथ के करीबियों के ठिकानों पर आयकर छापों के बाद सियासत तेज

तीन दशकों से कमलनाथ का काम संभाल रहे मिगलानी 

आरके मिगलानी विगत तीन दशकों से भी ज्यादा वक्त से कमलनाथ का पूरा काम संभाल रहे हैं। कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही उन्हें अपना सलाहकार नियुक्त किया था लेकिन चुनाव आचार संहिता के चलते इस्तीफा देना पड़ा। हालांकि वह कमलनाथ के सहयोगी की भूमिका में अब भी हैं। 

कमलनाथ के ओएसडी हैं कक्कड़

प्रवीण कक्कड़ पूर्व पुलिस अधिकारी हैं। उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया था। 2004 में नौकरी छोड़कर वह कांग्रेस नेता कांतिलाल भूरिया के ओएसडी बने। दिसंबर 2018 में कमलनाथ के ओएसडी बन गए। बताया जा रहा है कि नौकरी में रहते हुए उनके खिलाफ कई मामले सामने आए, जिनकी जांच चल रही है।

विकास पर बोलने को कुछ नहीं बचता तो ऐसे हथकंडे अपनाती है भाजपा : कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस मामले पर कहा कि भाजपा के पास विकास पर, अपने काम पर कुछ बोलने को नहीं बचता है तो वह विरोधियों के खिलाफ ऐसे हथकंडे अपनाती है। उसे लोकसभा चुनाव में अपनी हार दिखने लगी है। विधानसभा चुनाव के दौरान भी इसी तरह की कार्रवाई की गई थी लेकिन इसका परिणाम सबको पता है। प्रदेश और देश की जनता सब सच्चाई जानती है और चुनाव में इसका मुंहतोड़ जवाब देगी।

हवाला के बारे में इनपुट मिला था 

सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग को मध्य प्रदेश से दिल्ली हवाला कारोबार के बारे में इनपुट मिला था। इसका लिंक पता करने के बाद आयकर टीम दो दिन पहले से इंदौर व भोपाल में सक्रिय थी।

केंद्र सरकार विरोधियों को कर रही प्रताड़ित : कांग्रेस

कांग्रेस ने मोदी सरकार पर विरोधियों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता माणक अग्रवाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले बदले की भावना से यह छापेमारी की गई है। चुनाव को प्रभावित करने के लिए मोदी सरकार ऐसा करेगी तो केंद्र में कांग्रेस सरकार बनने के बाद अमित शाह के साथ भी ऐसा ही होगा।

चोरों को चौकीदार से शिकायत : विजयवर्गीय

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के निज सचिव के घर से आयकर विभाग के छापे में करोड़ों की काली कमाई बरामद हुई। इससे एक बात तो साफ हो गई, जो चोर हैं उन्हें ही चौकीदार से शिकायत है।

राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से काम कर रहे पीएम मोदी

आयकर विभाग की कार्रवाई पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू और कर्नाटक में एचडी कुमार स्वामी की सरकार को भी इसी तरह परेशान किया गया। अब मध्य प्रदेश सरकार के साथ भी वही किया जा रहा है।

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00