जाम में भी आसान होगा सफर, शहर में जल्द नजर आएगी बाइक-टैक्सी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Sat, 10 Feb 2018 10:06 AM IST
ola and uber will provide the bike taxi facility in lucknow soon
bike taxi
जल्द ही राजधानी में बाइक टैक्सी के संचालन का रास्ता खुल जाएगा। रोड टैक्स को लेकर जो रोड़े थे, उन्हें सुलझा लिया गया है। इस बाबत शुक्रवार को ट्रांसपोर्टनगर स्थित आरटीओ कार्यालय में ओला-उबर कैब संचालकों से बातचीत हुई।
इसमें एक साल का रोड टैक्स एक साथ जमा करने पर सहमति बनी है। सोमवार से आरटीओ कार्यालय से पत्रावलियों की जांच के बाद परमिट जारी किए जाएंगे।

बता दें कि करीब सात सौ बाइक टैक्सी चलाने की तैयारी है। आरटीओ(प्रशासन) एके सिंह ने बताया कि परमिट मंजूरी के वक्त बाइक टैक्सी का रोड टैक्स एक मुश्त पांच वर्ष के लिए जमा कराने की शर्त रखी गई है। जिसे लेकर आपत्ति थी।

अब साल भर का टैक्स एकमुश्त जमा करवाया जाएगा। जोकि 7,050 रुपए होगा। जबकि पंजीकरण शुल्क 300 रुपये लिया जाएगा। गर, अगले साल टैक्स नहीं जमा किया तो परमिट निरस्त कर दिया जाएगा।

वहीं दूसरी ओर आरटीओ कार्यालय में दस हजार से ज्यादा मोटर कैब का रजिस्ट्रेशन है। इनमें आधे से ज्यादा मोटर कैब टैक्स के बकाए में चल रहे है। इन पर लगाम लगाने के लिए कैब मालिकों को नोटिस जारी की जाएगी। बता दें कि करीब साढ़े छह हजार मोटर-कैब बगैर टैक्स जमा किए संचालित हो रहे हैं।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Kanpur

कैंची न मिलने पर आगबबूला हुए सांसद जोशी, अधिकारियों को जमकर लताड़ा

कानपुर कलक्ट्रेट में विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान सांसद मुरली मनोहर जोशी ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। 

22 फरवरी 2018

Related Videos

साइबर क्राइम को लेकर ये बोले राजनाथ सिंह

यूपी इनवेस्टर्स समिट में शामिल होने पहुंचे गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने यूपी सरकार की तारीफ की। राजनाथ सिंह ने बताया कि प्रदेश की सरकार अपराध और भ्रष्टाचार पर कार्रवाई कर रही है। वहीं राजनाथ सिंह ने साइबर क्राइम को भी खत्म करने की बात की।

22 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen