लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   NIA and ATS team raids: Seven in custody related to PFI in Lucknow, interrogation continues

एनआईए व एटीएस की टीम ने की छापेमारी : लखनऊ में बीकेटी व इटौंजा से पीएफआई से जुड़े सात हिरासत में, पूछताछ जारी

माई सिटी रिपोर्टर, अमर उजाला, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Tue, 27 Sep 2022 07:10 PM IST
सार

बीकेटी व इटौंजा इलाके में दबिश के दौरान एनआईए व एटीएस टीम को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वहां संदिग्धों के दरवाजे पर दस्तक देने पर नहीं खुला। तो टीम को सीढ़ी लगाकर अंदर दाखिल होना पड़ा। इसके बाद पूरे घर में सर्च आपरेशन किया गया। फिर संदिग्धों को हिरासत में लिया गया।

एनआईए की छापेमारी
एनआईए की छापेमारी - फोटो : Social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पीएफआई पर सरकार शिकंजा कसता जा रहा है। पिछले एक सप्ताह के अंदर लगातार छापेमारी की जा रही है। इसी कड़ी में मंगलवार तड़के 2-3 बजे एनआईए व एटीएस की संयुक्त टीम ने बीकेटी के अचरा मऊ गांव में छापा डाला। इस दौरान वहां से पीएफआई से जुड़े छह लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं इटौंजा इलाके से भी एक को उठाने की सूचना है। टीम सभी से अलग-अलग पूछताछ कर रही है।



एनआईए व एटीएस के सूत्रों के मुताबिक बीकेटी के अचरा मऊ में प्रधान अरशद की तलाश में गई थी। वहां उसके न मिलने पर उसके भाई फैजान व आरिफ को हिरासत में लिया। इसके अलावा गांव के सलमान, रेहान को पकड़ा है। इसके अलावा सरकारी शिक्षक अब्दुल वाहिद उर्फ आजाद और उसके भाई अब्दुल माजिद उर्फ हैदर को भी हिरासत में लिया है। इन सभी के पास से कई संदिग्ध दस्तावेज, मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, हॉर्डडिस्क व अन्य सामग्री बरामद हुई है। एनआईए व एटीएस के सूत्रों के मुताबिक अब्दुल वाहिद प्राथमिक विद्यालय में सरकारी शिक्षक है। तो वहीं माजिद पीएचडी कर रहा है।


दरवाजा नहीं खुला तो सीढ़ी से घुसी टीम
बीकेटी व इटौंजा इलाके में दबिश के दौरान एनआईए व एटीएस टीम को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वहां संदिग्धों के दरवाजे पर दस्तक देने पर नहीं खुला। तो टीम को सीढ़ी लगाकर अंदर दाखिल होना पड़ा। इसके बाद पूरे घर में सर्च आपरेशन किया गया। फिर संदिग्धों को हिरासत में लिया गया।

बीकेटी में आयोजित हुआ था विशेष प्रशिक्षण शिविर
एनआईए ने  पीएफआई के प्रदेश अध्यक्ष वसीम को गिरफ्तार किया है। उसने संगठन को मजबूत करने के लिए लखनऊ के बीकेटी में विशेष प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया था। सूत्रो के मुताबिक पूछताछ में सामने आया कि इस  शिविर को लगाने में अचरा मऊ के प्रधान अरशद ने मदद की थी। वहीं काफी संख्या में युवकों को जुटाया था। जिनको पीएफआई की सक्रिय सदस्यता भी दिलाई। जो इलाके में घूमकर नेटवर्क फैला रहे हैं। ग्राम प्रधान अरशद फरार है। उसकी तलाश भी की जा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00