Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   Lakhimpur uproar: The amount of compensation sent to the account of the relatives of all the eight deceased, strict action will be taken against those who viral fake messages

लखीमपुर बवाल : सभी आठ मृतक के परिजनों के खाते में भेजी गई मुआवजे की रकम, फर्जी मैसेज वायरल करने वालों पर भी होगी सख्त कार्रवाई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Thu, 07 Oct 2021 02:05 PM IST

सार

प्रशांत कुमार ने कहा कि राजनैतिक दलों के नेताओं को लखीमपुर जाने से रोकने के दो कारण थे। पहला कारण वीआईपी को खतरा था और दूसरा कारण घटना के फौरन बाद पहुंचने से वहां कानून व्यवस्था की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती थी।
बहराइच में मृतकों के परिजनों को चेक सौंपते अधिकारी
बहराइच में मृतकों के परिजनों को चेक सौंपते अधिकारी - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

लखीमपुर खीरी बवाल में अपनी जान गंवाने वाले सभी 8 मृतकों के परिजनों के खातों में मुआवजे की रकम जमा कर दी गई। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को मृतकों के परिजनों को 45-45 लाख रुपये देने की घोषणा की गई थी। उसी क्रम में त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी प्रक्रिया को पूरा किया गया और 48 घंटे के भीतर सभी आठ मृतकों के परिजनों के खातों में पैसे आनलाइन ट्रांसफर कर दिए गए।

विज्ञापन

    
उधर, अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि इस मामले में दोनों ओर से एफआईआर दर्ज कराई गई है। दोनों एफआईआर की विवेचना पर निगरानी के लिए अपर पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में सात सदस्यीय टीम बनाई गई है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में जो भी दोषी होगा वह बख्शा नहीं जाएगा वह चाहे जितना ताकतवर क्यों न हो। प्रशांत कुमार ने बताया कि लखीमपुर की घटना को लेकर कई मार्फ वीडियो या दूसरे स्थानों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किए जा रहे हैं। उन्होंने ऐसे लोगों से बाज आने को कहा है। प्रशांत कुमार ने कहा है कि अफवाह फैलाने वालों पर भी नजर रखी जा रही है और उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।


लखीमपुर जाने से रोकने पर दी सफाई
प्रशांत कुमार ने कहा कि राजनैतिक दलों के नेताओं को लखीमपुर जाने से रोकने के दो कारण थे। पहला कारण वीआईपी को खतरा था और दूसरा कारण घटना के फौरन बाद पहुंचने से वहां कानून व्यवस्था की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती थी। अब वहां स्थिति सामान्य हो गई है, इस लिए जाने दिया गया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00