लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   gonda,nagar palika,panchyat,expention

गोंडा नपा.से बाहर होंगी 27में से तीन पंचायतें

Lucknow Bureau लखनऊ ब्यूरो
Updated Sat, 24 Sep 2022 11:28 PM IST
गोंडा स्थित नगर पालिका परिषद। -संवाद
गोंडा स्थित नगर पालिका परिषद। -संवाद - फोटो : GONDA
विज्ञापन
ख़बर सुनें
गोंडा। नगर पालिका परिषद के विस्तार में 27 ग्राम पंचायतें शामिल थीं। अब आपत्तियों के निस्तारण के बाद तीन पंचायतें बाहर होंगी। इनकी शहर से दूरी काफी ज्यादा है। ऐसे में शासन को भेजे जाने वाले प्रस्ताव में नगर पालिका गोंडा के विस्तार में 24 पंचायतें शामिल की जाएंगी। प्रस्ताव को मंजूरी मिलते ही वार्डों के गठन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। जिले में मतदाता सूची के पुनरीक्षण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिले में तीन नगर पालिका और चार नगर पंचायतें हैं।

गोंडा नगर पालिका परिषद के विस्तार के लिए विनियमित क्षेत्र की 27 ग्राम पंचायतों को शामिल करने के लिए प्रशासन ने अधिसूचना जारी की गई थी। इसके बाद आपत्तियां आमंत्रित की गईं। राजनीतिक दलों व लोगों की ओर से जो दाखिल आपत्तियों का निस्तारण किया गया। कुछ ग्राम पंचायत की दूरी अधिक होने से परिसीमन से हटाने की मांग की गई थी। प्रशासन ने आपत्तियों का निस्तारण करते हुए दत्तनगर बिसेन, सोनी हरलाल और धनौली ग्राम पंचायतों को परिसीमन से बाहर रखने की रिपोर्ट भेजी है। बता दें कि तीन नई नगर पंचायतों के गठन के साथ गोंडा, करनैलगंज नगर पालिका व कटरा बाजार नगर पंचायत के क्षेत्र विस्तार की प्रक्रिया चल रही है। आपत्तियों का निस्तारण हो चुका है। जबकि करनैलगंज और गोंडा परिसीमन को लेकर उच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई है।

शहर से दूर होने से तीन पंचायतों को बाहर करने की तैयारी
गोंडा नगर पालिका परिषद के विस्तार में तीन गांवों के बाहर करके विस्तार करने की तैयारी हो रही है। पंडरीकृपाल ब्लॉक की ग्राम पंचायत दत्तनगर बिसेन, धनौली और सोनीहरलाल में 80 फीसदी खेती की भूमि है। शहर से इनकी दूरी करीब पांच किलोमीटर है। सोनीहरलाल भी करीब पांच किलोमीटर दूर है। यहां भी 80 फीसदी खेती की भूमि है। यहां की आबादी करीब 2500 है। धनौली की आबादी 35 सौ है। इसकी दूरी भी ज्यादा है।
शहर में शामिल होने से ये होंगे फायदे
शहर के विस्तार से कई तरह के फायदे पंचायतों को होंगे। अभी तक पंचायतों से पक्के कार्य अधिक नहीं हो पाते थे। मनरेगा से कच्चे कार्य पर जोर रहता था। वहीं नालियों की समुचित व्यवस्था नहीं थी। शहर से सटे होने के कारण सीमा का विवाद भी रहता था। शहरी क्षेत्र में शामिल होने से नगर जैसा विकास कार्य होगा। बिजली और पानी की व्यवस्था का विस्तार होगा।
ये पंचायतें नगर पालिका में होंगी शामिल
नगर पालिका में पंचायतों को शामिल किए जाने की अनंतिम अधिसूचना जारी होने के बाद आपत्तियां ली गईं। इसके बाद तीन पंचायतों को बाहर करने पर सहमति बनी है। नगर पालिका में गिर्द गोंडा, जानकी नगर, बड़गांव, इमिलिया गुरुदयाल, छावनी सरकार, परेड सरकार, पथवलिया, बभनी कानूनगो, कटहामाफी, केशवपुर पहड़वा, रुद्रपुर बिसेन, बूढ़ादेवर, पूरेशिवा बख्तावर, इमरिती बिसेन,विमौर, झंझरी, देवरिया चूड़ामणि, लक्ष्मन नगर हरिवंश, उम्मेदजोत, खैरा, शेखापुर, सेमरा दम्मन, रानीजोत व इंद्रापुर को शामिल किया जा रहा है।
नगर पालिका के विस्तार में शामिल पंचायतों के आपत्तियों का निस्तारण की प्रक्रिया पूरी हो गई है। अब शासन से प्रस्ताव को मंजूरी मिलने का इंतजार है। अर्पिता गुप्ता, नगर मजिस्ट्रेट

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00