बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

यूपी के पचास लाख परिवारों को मिलेगा जल कनेक्शन : शेखावत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Sun, 07 Feb 2021 09:26 AM IST
विज्ञापन
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत - फोटो : ANI
ख़बर सुनें
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत आगामी वित्त वर्ष में यूपी के 50 लाख 45 हजार परिवारों को पेयजल कनेक्शन दिए जाएंगे। वहीं बजट में यूपी में विभिन्न परियोजनाओं के लिए एक लाख 91 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के बजट 2021-22 से उत्तर प्रदेश में नई रेल परियोजनाएं शुरू होने के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर, जल संसाधन, चिकित्सा और शिक्षा के क्षेत्र में विकास होगा।
विज्ञापन


शेखावत ने शनिवार को भाजपा प्रदेश मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश के जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह की मौजूदगी में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यूपी में जलजीवन मिशन में 2.63 करोड़ ग्रामीण परिवारों में से केवल 5.16 लाख ग्रामीण घरों में ही नल कनेक्शन दिया था। लेकिन, बीते चार वर्ष में 23 लाख 77 हजार घरों में नल कनेक्शन दिया गया है। उन्होंने कहा कि हर घर जल के लिए बजट में 50 हजार करोड़ का प्रावधान किया है। इसमें से 5500 करोड़ रुपये यूपी को दिए जाएंगे। इससे 50 लाख 45 हजार परिवारों को पानी के कनेक्शन दिए जाएंगे। 


इस वर्ष शुरू होगा कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण
शेखावत ने बताया कि कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का निर्माण भी 2021 में शुरू किया जाएगा। वहीं यूपी में 4529 किमी लंबी सड़कों के लिए 84 हजार 441 करोड़, आगरा मेट्रो के लिए 1172 करोड़, कानपुर मेट्रो के लिए 1562 करोड़ रुपये, 22 किमी लंबे अलीगढ़-हरदुआगंज फ्लाईओवर के लिए 1273 करोड़ और दिल्ली से गाजियाबाद व मेरठ को जोड़ने के लिए रिजनल रैपिड रेल प्रोजेक्ट के लिए 4472 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

पूर्वी डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर यूपी में सहारनपुर, मुजफ्फर नगर, मेरठ, बुलंदशहर, खुर्जा, दादरा, अलीगढ़ में करीब 1051 किलोमीटर लंबा होगा। इसके लिए 1 लाख 10 हजार करोड़ का प्रावधान है। वहीं बजट में यूपी की रेल परियोजनाओं के लिए 8590 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि यूपी के सभी 75 जिलों में इंटीग्रेटेड लैब की स्थापना की जाएगी। 

केंद्रीय करों में यूपी की हिस्सेदारी घटी
शेखावत ने कहा कि इस वर्ष केंद्रीय करों में यूपी की हिस्सेदारी करीब 21 हजार करोड़ रुपये घटी है। 2020-21 में केंद्रीय करों में यूपी की हिस्सेदारी 98,618 करोड़ रुपये थी।  2021-22 में केंद्रीय करों में यूपी की हिस्सेदारी को 1 लाख 19 हजार करोड़ रुपये अनुमानित की गई है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

इंफ्रास्ट्रक्चर, स्वास्थ्य सुविधा में बढ़ोत्तरी और किसान के बेटे को उद्यमी बनाने वाला बजट

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us