लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow News ›   Bulldozers ran at the miscreants' house: Yogi said - will not allow to spoil the atmosphere, 237 arrested so far in the ruckus after Friday prayers

उपद्रवियों के घर पर चला बुलडोजर : जुमे की नमाज के बाद 9 जिलों में हुए उपद्रव में 13 एफआईआर, 304 गिरफ्तार

अमर उजाला ब्यूरो, लखनऊ Published by: पंकज श्रीवास्‍तव Updated Sun, 12 Jun 2022 12:13 PM IST
सार

मुख्यमंत्री ने सभी पक्षों से संवाद बनाए रखने पर जोर देते हुए कहा कि अधिकारी धर्मगुरुओं तथा समाज के प्रतिष्ठित लोगों से सतत् संवाद-संपर्क बनाए रखें। इसके साथ ही उपद्रवियों के खिलाफ  कार्रवाई भी जारी रखी जाए। प्रदेश में संवाद और सेक्टर स्कीम लागू कर कानून-व्यवस्था कायम रखी जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन

विस्तार

प्रदेश के अलग-अलग जिलों में बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद नूपुर शर्मा के हजरत मोहम्मद के बारे में दिए गए आपत्तिजनक बयान के विरोध के नाम पर हुए उपद्रव में अब तक 13 एफआईआर दर्ज की गई हैं। वहीं 304 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।



एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि सबसे ज्यादा प्रयागराज में 68 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यहां तीन एफ आईआर अलग-अलग दर्ज की गई हैं। इसी तरह सहारनपुर में 64 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यहां भी तीन एफ आईआर दर्ज हुई हैं। इसके अलावा हाथरस में 50, अंबेडकरनगर में 28, मुरादाबाद में 27, फिरोजाबाद में 13, अलीगढ़ में तीन और जालौन में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।




इन जिलों में एक-एक एफ आईआर दर्ज की गई है। एक एफ आईआर लखीमपुर खीरी में भी दर्ज हुई है, लेकिन यहां अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है। प्रशांत कुमार ने बताया कि उपद्रव करने वालों के खिलाफ  सख्ती से निपटने के निर्देश जिलों के अफसरों को दिए गए हैं। हिंसा में शामिल किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

उपद्रवियों के घरों पर बुलडोजर
प्रदेश में शांति-व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ सरकार सख्ती के मूड में आ गई है। जुमे की नमाज के बाद बवाल करने वाले उपद्रवियों के घरों पर बुलडोजर चलना शुरू हो गया है। सहारनपुर में दो उपद्रवियों के घर पर पुलिस प्रशासन ने बुलडोजर चलवा कर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। इससे आरोपियों में हड़कंप मचा हुआ है। अब तक प्रदर्शन, पथराव, तोड़फोड़ में शामिल 237 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए दो टूक कहा कि किसी को भी प्रदेश का माहौल बिगाड़ने नहीं देंगे। उन्होंने निर्देश दिया कि उपद्रवियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करें जो नजीर बने।

सीएम योगी ने शनिवार को मंडलायुक्तों, जिलाधिकारियों व पुलिस कप्तानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों ने प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद, हाथरस, फिरोजाबाद, अंबेडकरनगर में सामाजिक शांति-सौहार्द का माहौल को बिगाड़ने का प्रयास किया। तीन जून को कानपुर में भी ऐसी ही कोशिश की गई थी। तब भी सतर्कता के निर्देश दिए गए थे, जिससे ज्यादातर जिलों में शांति बनी रही। यह शांति व्यवस्था स्थायी रहे, इसके लिए सतर्कता एवं सावधानी बरतनी होगी। साजिशकर्ताओं व अभियुक्तों की पहचान कर यथाशीघ्र गिरफ्तारी की जाए। रासुका अथवा गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की जाए। अगर किसी अपराधी की दोबारा किसी अराजक घटना में संलिप्तता पाई जाए तो चार्जशीट में इसका उल्लेख जरूर करें।

कुत्सित उद्देश्यों के लिए किशोरों को ढाल बनाया... यह दुखद

सीएम योगी ने कहा कि यह दुखद है कि साजिशकर्ताओं ने अपने कुत्सित उद्देश्यों के लिए किशोरवय युवाओं का ढाल बनाया। ऐसे मुख्य साजिशकर्ताओं की पहचान करके उनकी कोशिशों को नाकाम किया जाए। ऐसी कार्रवाई की जाए जो असामाजिक सोच रखने वाले तत्वों के लिए नजीर बने और माहौल बिगाड़ने के बारे में कोई सोच भी न सके।

दोषियों से ही करें सार्वजनिक संपत्ति की वसूली
सीएम ने कहा कि सार्वजनिक और आम लोगों की संपत्ति को हुई क्षति की वसूली संबंधित दोषी व्यक्ति से ही कराई जाए। प्रयागराज में वसूली की कार्रवाई शुरू हो गई है। जिन जिलों में आने वाले दिनों में माहौल बिगड़ने की आशंका हो वहां आवश्यकतानुसार धारा 144 लागू की जाए।

वीडियो फुटेज से आरोपियों की पहचान
सहारनपुर एसपी सिटी राजेश कुमार ने बताया कि वीडियो फुटेज से आरोपियों की पहचान की जा रही है। ऐसे ही दो आरोपियों अब्दुल वकीर और मुजम्मिल को उनके घरों से गिरफ्तार किया गया। जांच में पाया गया कि दोनों आरोपियों के मकान बिना नक्शा पास कराए अवैध रूप से बनाए गए हैं। इस पर सिटी मजिस्ट्रेट विवेक चतुर्वेदी के नेतृत्व में विकास प्राधिकरण, नगर निगम की टीम ने जेसीबी से ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। उपद्रवियों के खिलाफ रासुका की कार्रवाई होगी।

प्रयागराज बवाल का मुख्य साजिशकर्ता जावेद पंप गिरफ्तार
प्रयागराज में अटाला में जुमे की नमाज के बाद हुए बवाल का मास्टरमाइंड मो. जावेद उर्फ जावेद पंप को शनिवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जावेद को उसके करेली स्थित घर से पकड़ा गया। प्रयागराज में तीन मुकदमों में 95 नामजद व 5450 अज्ञात पर केस दर्ज किया गया है। नामजद लोगों में उन लोगों के नाम भी शामिल हैं, जिन्होंने करीब ढाई साल पहले जिले में सीएए-एनआरसी के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में अहम भूमिका निभाई थी।

निर्दोष को छेड़े नहीं, दोषी को छोड़े नहीं : योगी

प्रदेश में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद कई जिलों में हुए उपद्रव को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी ने शनिवार को कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि शरारतपूर्ण बयान जारी करने वालों के साथ जीरो टॉलरेंस की नीति के साथ कड़ाई से पेश आएं। माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजक तत्वों के साथ पूरी कठोरता बरती जाए। एक भी निर्दोष को छेड़ें नहीं और कोई दोषी छोड़े नहीं। संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। हर दिन शाम को पुलिस बल फुट पेट्रोलिंग जरूर करे। पीआरवी-112 को एक्टिव रखा जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में स्थिति नियंत्रण में है किंतु हमें हर तरह की परिस्थिति के लिए तैयार रहना होगा। पुलिस और प्रशासन सातों दिन 24 घंटे अलर्ट मोड में रहे। असामाजिक तत्वों द्वारा ऐसे प्रयास आने वाले दिनों में फिर से हो सकते हैं। इन लोगों का उद्देश्य प्रदेश के शांति-सौहार्द को बिगाड़ना है। हमें एक टीम के रूप में काम करते हुए ऐसी कोशिशों को नाकाम करना होगा।

मुख्यमंत्री ने सभी पक्षों से संवाद बनाए रखने पर जोर देते हुए कहा कि अधिकारी धर्मगुरुओं तथा समाज के प्रतिष्ठित लोगों से सतत् संवाद-संपर्क बनाए रखें। इसके साथ ही उपद्रवियों के खिलाफ  कार्रवाई भी जारी रखी जाए। प्रदेश में संवाद और सेक्टर स्कीम लागू कर कानून-व्यवस्था कायम रखी जाए। कानून-व्यवस्था मजबूत बनाने के लिए फील्ड के अधिकारियों के पास सभी तरह के निर्णय लेने का अधिकार है। स्थानीय स्थिति-परिस्थिति को देखते हुए अधिकारी यथोचित निर्णय लें। वीडियो कांफ्रेंसिंग में मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एमएसएमई नवनीत सहगल, कृषि उत्पादन आयुक्त मनोज कुमार सिंह, पुलिस महानिदेशक डॉ. डी.एस. चौहान, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।
 
साजिशकर्ताओं के वित्तीय स्रोत की पड़ताल करें
योगी ने निर्देश दिए कि साजिशकर्ताओं व अभियुक्तों के बैंक खातों व संपत्ति आदि का पूरा विवरण एकत्रित किया जाए। इनके वित्तीय स्रोत की गहनता से पड़ताल की जाए। डेडिकेटेड टीम बनाकर जांच कराई जाए। ऐसे प्रकरणों में वरिष्ठ अधिकारी नेतृत्व करें।

सीएम ने कहा...
सीएम योगी ने शनिवार को मंडलायुक्तों, जिलाधिकारियों व पुलिस कप्तानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि असामाजिक तत्वों ने प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद, हाथरस, फिरोजाबाद, अंबेडकरनगर में सामाजिक शांति-सौहार्द का माहौल को बिगाड़ने का प्रयास किया। तीन जून को कानपुर में भी ऐसी ही कोशिश की गई थी। तब भी सतर्कता के निर्देश दिए गए थे, जिससे ज्यादातर जिलों में शांति बनी रही। यह शांति व्यवस्था स्थायी रहे, इसके लिए सतर्कता एवं सावधानी बरतनी होगी। साजिशकर्ताओं व अभियुक्तों की पहचान कर यथाशीघ्र गिरफ्तारी की जाए। अगर किसी अपराधी की दोबारा किसी अराजक घटना में संलिप्तता पाई जाए तो चार्जशीट में इसका उल्लेख जरूर करें। जिन जिलों में आने वाले दिनों में माहौल बिगड़ने की आशंका हो वहां आवश्यकतानुसार धारा 144 लागू की जाए।

गरीब के घर न चले बुलडोजर

मुख्यमंत्री ने कहा कि बुलडोजर की कार्रवाई पेशेवर अपराधियों व माफिया के खिलाफ है। यह कार्रवाई सतत् जारी रखी जाए। प्रदेश में किसी गरीब के घर पर गलती से कोई कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। यदि किसी गरीब, असहाय व्यक्ति ने किन्हीं कारणों से गलत स्थान पर आवास निर्माण करा लिया है तो पहले स्थानीय प्रशासन द्वारा उसका समुचित पुनर्वास किया जाए फिर अन्य कोई कार्रवाई हो। माफिया को संरक्षण देने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाए।

अवैध टैक्सी व बस स्टैंड न संचालित हों
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी जिले में अवैध टैक्सी, बस तथा रिक्शा स्टैंड संचालित न हों। जहां कहीं ऐसी गतिविधियां संचालित हो रही हों, उन्हें तत्काल बंद कराया जाए। टैक्सी स्टैंड के लिए ठेकेदार का चयन करते समय उसका विधिवत पुलिस सत्यापन कराया जाए। इस संबंध में अब तक हुई कार्रवाई की पूरी रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय को उपलब्ध कराने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग के साथ समन्वय बनाते हुए डग्गामार बसों का संचालन बंद कराया जाए।

अधिकारी जनता की शिकायतें व समस्याएं सुनें
मुख्यमंत्री ने अधिकारी लगातार जनता की शिकायतें व समस्याएं सुनें और उसका निराकरण कराएं। तहसीलों व प्राधिकरणों आदि में जनहित से सीधे जुड़ाव रखने वाले कार्यालयों में प्रत्येक दिन एक घंटे जनसुनवाई के लिए नियत है। इस अवधि में अधिकारी जनता से मिलें। आईजीआरएस, सीएम हेल्पलाइन जनता की समस्याओं के निदान का अच्छा माध्यम बन कर उभरे हैं। इससे संबंधित प्रकरण लंबित न रहें। इनकी हर कार्यालय में सतत समीक्षा होनी चाहिए।

जुमे की नमाज के बाद उपद्रव मामले में अब तक 237 गिरफ्तार

शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज समेत प्रदेश के कई जिलों में हुई उपद्रव और पत्थरबाजी की घटना में पुलिस ने अब तक 237 लोगों को गिरफ्तार किया है। उपद्रवियों की पहचान करके उनकी गिरफ्तारी का सिलसिला अभी जारी है। सरकार ने कानून-व्यवस्था बिगाड़ने वाले उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद शुरू हुई हिंसक घटनाओं पर काबू करने के बाद पुलिस उपद्रवियों की गिरफ्तारी में जुटी है। अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि शनिवार को भी उपद्रवियों की गिरफ्तारी का सिलसिला जारी रहा। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 237 लोगों की गिरफ्तारी की गई है।

प्रयागराज में 68, सहारनपुर में 55, हाथरस में 50, अंबेडकरनगर में 28, मुरादाबाद में 25 तथा अलीगढ़ में तीन लोग गिरफ्तार किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सभी जिलों में कानून-व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वाले तत्वों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे तत्वों को चिह्नित करके कड़ी कार्रवाई करने को कहा गया है। निर्देश दिए गए हैं कि अशांति फैलाने वालों के साथ किसी तरह की कोई रियायत न बरती जाए और इनसे सख्ती से निपटा जाए।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00