विज्ञापन
विज्ञापन

पूर्वी यूपी में मायावती का ‘बाहुबली’ दांव,  16 सीटों पर प्रत्याशियों का एलान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Mon, 15 Apr 2019 06:21 AM IST
बसपा सुप्रीमो मायावती
बसपा सुप्रीमो मायावती - फोटो : amar ujala
ख़बर सुनें
बसपा ने लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन में अपने कोटे की बची 16 सीटों पर प्रत्याशियों का एलान कर दिया है। पार्टी ने पूर्वांचल में बाहुबलियों पर भरोसा जताया है। साथ ही समीकरण के हिसाब से सोशल इंजीनियरिंग की भी कोशिश की है। मायावती ने माफिया मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी को गाजीपुर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा के सामने प्रत्याशी बनाया है। अफजाल यहां से एक बार सांसद रह चुके हैं। 
विज्ञापन
विज्ञापन
बसपा ने अतुल राय को घोसी से टिकट दिया है। इनका भी मुख्तार से करीबी रिश्ता बताया जाता है। बाहुबली और पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी के बड़े बेटे भीष्म शंकर उर्फ कुशल तिवारी एक बार फिर संतकबीरनगर से भाग्य आजमाएंगे। वह सांसद रहे हैं। सुल्तानपुर में केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के सामने दबंग छवि के चंद्रभद्र सिंह को प्रत्याशी बनाया गया है। दो रिटायर्ड अफसरों को भी टिकट बसपा ने पूर्व विधायक टी. राम को मछलीशहर सुरक्षित सीट से प्रत्याशी बनाया है। टी. राम लंबे समय तक लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता व विभागाध्यक्ष रहे हैं। इसी तरह रिटायर्ड आईएएस अधिकारी श्याम सिंह यादव को जौनपुर से प्रत्याशी बनाया गया है। यादव यूपी राइफल एसोसिएशन के चेयरमैन भी हैं। 

पश्चिम में मुस्लिम-एससी, पूर्वांचल में पिछड़ा-ब्राह्मण पर जोर 
बसपा ने पश्चिमी यूपी में टिकट वितरण में मुस्लिम व अनुसूचित जातियों के समन्वय पर ध्यान दिया था। पूर्वी यूपी में सोशल इंजीनियरिंग पर लौट आई है। पार्टी ने तीन सुरक्षित सीटों बांसगांव से पूर्व मंत्री सदल प्रसाद, लालगंज से संगीता आजाद (लालगंज विधायक आजाद अरिमर्दन की पत्नी) और मछलीशहर से टी. राम के अलावा चार-चार ब्राह्मण व पिछड़ा वर्ग के प्रत्याशी उतारे हैं। संतकबीरनगर से कुशल तिवारी, प्रतापगढ़ से अशोक त्रिपाठी, अंबेडकरनगर से रितेश पांडेय और भदोही से पूर्व मंत्री रंगनाथ मिश्र को टिकट दिया है।
 
पिछड़ा वर्ग से बसपा प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा को सलेमपुर, पूर्व मंत्री राम प्रसाद चौधरी (कुर्मी) को बस्ती, श्रावस्ती से राम शिरोमणि वर्मा (कुर्मी) और जौनपुर से श्याम सिंह यादव को उतारा गया है। पार्टी ने दो मुस्लिम प्रत्याशी उतारे हैं। इनमें गाजीपुर से अफजाल अंसारी और डुमरियागंज से आफताब आलम शामिल हैं। वैश्य समाज से देवरिया से विनोद कुमार जायसवाल तथा भूमिहार से अतुल राय को घोसी से मौका मिला है।

अब एससी के साथ पिछड़ों को तवज्जो 
बसपा ने अपनी 38 सीटों में सोशल इंजीनियरिंग का नया प्रयोग किया है। कभी ब्राह्मण-मुस्लिम और एससी (बीएमडी) को तवज्जो की सोशल इंजीनियरिंग करने वाली बसपा ने इस बार एससी-ओबीसी को 10-10 सीटें दी हैं। जिताऊ प्रत्याशी के रूप में ब्राह्मण व मुस्लिम व अन्य वर्ग को मौका मिला है। 38 में 10 सुरक्षित सीटों पर एससी, 10 पिछड़ों में 4 कुर्मी, 2-2 यादव व गूजर तथा 1-1 कुशवाहा व जाट हैं। 6-6 ब्राह्मण और मुस्लिम तथा 3 वैश्य, 2 ठाकुर व 1 भूमिहार को टिकट मिला है। 

राजनीति को सही दिशा देने की जिम्मेदारी राजनीतिज्ञों पर है। वे उदासीन बने रहे तो मतदाताओं ने बाहुबलियों को वोट के जरिए हतोत्साहित करना शुरू किया। यही कारण है कि इस बार कई दलों ने बाहुबलियों को टिकट देने में संकोच किया। फिर भी, कुछ दलों ने सिर्फ जीत के लिए बाहुबलियों को तवज्जो दी है। मतदाताओं की जिम्मेदारी है वे स्वस्थ लोकतंत्र में अपनी भूमिका निभाएं। -प्रो. एसके द्विवेदी, राजनीतिशास्त्री

Recommended

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
HP Board 2019

HP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Lucknow

हाई फ्लैक्स इम्प्लांट से घुटना बदलवाने पर मरीजों को राहत

केजीएमयू में सुविधा शुरू, इम्प्लांट से 140 डिग्री तक मुड़ सकता है पैर

21 अप्रैल 2019

विज्ञापन

कानपुर ट्रेन हादसे के बाद का हाल, सुनिए क्या अपडेट्स दे रहीं हैं रेलवे अधिकारी

कानपुर के नजदीक रूमा गांव में एक बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है। हावड़ा से दिल्ली आ रही पूर्वा एक्सरप्रेस के 12 डिब्बेर पटरी से उतर गए। ये ट्रेन हादसा देर रात 1 बजे हुआ, जब ज्याादातर यात्री गहरी नींद में सो रहे थे।

20 अप्रैल 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election