Cyclone Yaas Live: शुक्रवार सुबह नौ बजे तक बंद रहेगा पटना एयरपोर्ट, खराब मौसम के चलते लिया फैसला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: दीप्ति मिश्रा Updated Thu, 27 May 2021 11:10 PM IST
विज्ञापन

खास बातें

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान यास ने भारी तबाही मचाई है। यास के तांडव से सैकड़ों तटीय गांवों में पानी भर गया और लाखों घर उजड़ गए। इससे पश्चिम बंगाल में तीन और ओडिशा में एक व्यक्ति की मौत हो गई। सिर्फ बंगाल में ही यास से एक करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं। लगातार बारिश से ओडिशा-बंगाल के कई जिले जलमग्न हैं। नदियों का जलस्तर बढ़ गया और सैकड़ों तटबंध टूट गए। राहत एवं बचाव दल लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने में जुटे हैं। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओडिशा और पश्चिम बंगाल में चक्रवात के प्रभाव की जानकारी के लिए शुक्रवार को दोनों राज्यों का दौरा करेंगे।  चक्रवात यास से जुड़ी हर अपडेट यहां पढ़ें....
विज्ञापन

लाइव अपडेट

11:10 PM, 27-May-2021

झारखंड में तूफान से दो की मौत, बड़े पैमाने पर नुकसान

झारखंड में बंगाल की खाड़ी से आए चक्रवाती तूफान ‘यास’ के चलते हुई भारी वर्षा से मकान गिरने की एक घटना में दो लोगों की मौत की सूचना है। जबकि, इसके प्रभाव से राज्य में सात से आठ लाख की आबादी प्रभावित हुई और बड़े पैमाने पर संपत्ति का नुकसान हुआ। राज्य के अनेक इलाकों में पिछले दो दिनों से जारी तेज बारिश के चलते अनेक पहाड़ी नदियों में जलस्तर बढ़ गया जिसके कारण कई स्थानों पर पुल भी बह गए। इनमें से रांची को तमाड़ से जोड़ने वाला पुल भी शामिल है। हालांकि आज शाम तक इसका प्रभाव अब कुछ जिलों में सिर्फ बारिश होने तक सिमट कर रह गया है जिसके शुक्रवार शाम तक समाप्त हो जाने की संभावना जताई गई है।
09:48 PM, 27-May-2021

पटना एयरपोर्ट: शुक्रवार सुबह नौ बजे तक बंद रहेंगी उड़ानें

पटना एयरपोर्ट अधिकारियों ने बताया कि चक्रवात यास की वजह से बने खराब मौसम के चलते उड़ानों के संचालन को शुक्रवार की सुबह नौ बजे तक के लिए स्थगित करने का फैसला किया गया है। इससे पहले गुरुवार की रात 10 बजे तक उड़ानें रद्द करने का फैसला किया गया था।
09:16 PM, 27-May-2021

बंगाल: भोजन और आश्रय की बाट जोह रहे प्रभावित लोग

पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में गुरुवार को भी वर्षा जारी रहने के बीच सैकड़ों लोगों ने शिकायत की कि उन्हें भूखे सोना पड़ रहा है क्योंकि चक्रवात के बाद उनके घरों में पानी भरा हुआ है। चक्रवात ‘यास’ बुधवार को ओडिशा में धामरा के समीप तट पर पहुंचा था। उसने ओडिशा और बंगाल में भारी तबाही मचाई और फिर झारखंड की ओर आगे बढ़ गया। अधिकारियों ने बताया कि प्रशासन जरूरतमंदों तक पहुंचने की भरसक कोशिश कर रहा है लेकिन प्रतिकूल मौसम के कारण कुछ क्षेत्रों में राहत कार्य में बाधा आ रही है। दक्षिण 24 परगना जिले में सुंदरबन के कडूपारा गांव में कमर तक पानी भर गया और ऐसे में लोगों को अपने बच्चों के साथ घर से बाहर शरण लेनी पड़ी।
08:21 PM, 27-May-2021

चक्रवात के प्रभाव की वजह से उत्तरी ओडिशा में भारी बारिश

चक्रवात ‘यास’ के प्रभाव की वजह से उत्तरी ओडिशा के कई जिलों में भारी बारिश हुई। भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र ने बताया कि क्योंझर के जोडा में पिछले 24 घंटे में 268.6 मिमी बारिश दर्ज की गई। इसके बाद मयूरभंज जिले के जशीपुर इलाके में 254.8 मिमी बारिश हुई। केंद्र ने बताया सुंदरगढ़ के लाठीकाटा में 213 मिमी, भद्रक के वासुदेवपुर में 195, जाजपुर के चंडीखोल में 177 मिमी और देवगढ़ में 131 मिमी बारिश हुई।

07:33 PM, 27-May-2021

ओडिशा: चंदाबबली ब्लॉक में 300 मिलीमीटर बारिश

ओडिशा में भद्रक जिले के कलेक्टर ज्ञान दास ने कहा कि भारी बारिश ते चलते अखुआपाड़ा जिले में बैतरानी नदी में जल स्तर काफी बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि भारी बारिश के चलते मध्यम वर्षा होने का अनुमान है। हम आस-पास के इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रहे हैं। दास ने कहा कि चंदाबबली ब्लॉक यास से सर्वाधिक प्रभावित हुआ है। यहां करीब 300 मिलीमीटर बारिश हुई है। कई खेत और करीब 122 गांव बाढ़ में डूब गए हैं। किसी की मौत की जानकारी नहीं है।
07:15 PM, 27-May-2021

ऑक्सीजन आपूर्ति और इस्पात उत्पादन पर यास का असर नहीं

केंद्र सरकार ने गुरुवार को कहा कि यास तूफान के चलते इस्पात विनिर्माण तथा ऑक्सीजन आपूर्ति में कोई बाधा नहीं आई। इस्पात मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘इसकी पुष्टि हो गई है कि ओडिशा के अंगुल, कलिंगनगर तथा राऊरकेला स्थित किसी भी इस्पात संयंत्र में बिजली आपूर्ति में कोई बाधा नहीं हुई। टाटा के प्रतिनिधियों ने भी बताया कि टाटा स्टील संयंत्रों में तरल मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) के उत्पादन पर यास तूफान का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। कलिंगनगर, जमशेदपुर तथा अंगुल में सभी संबद्ध ऑक्सीजन संयंत्रों से एलएमओ की रवानगी बिना किसी बाधा के आम दिनों की तरह जारी है।’
06:48 PM, 27-May-2021

पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को चक्रवाती तूफान ‘यास’ के व्यापक प्रभावों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने केंद्र व राज्यों की एजेंसियों से सामान्य जनजीवन जल्द-से-जल्द बहाल करने को कहा। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक इस अवसर पर अधिकारियों ने प्रधानमंत्री के समक्ष चक्रवाती तूफान से निपटने की तैयारियों के विभिन्न पहलुओं, तूफान से हुए नुकसान के आकलन और संबंधित विषयों पर एक विस्तृत प्रस्तुति दी।

06:28 PM, 27-May-2021

ओडिशा: तूफान के दौरान 300 बच्चों का जन्म, कुछ का नाम 'यास' रखा

चक्रवाती तूफान के दौरान ओडिशा में 300 से अधिक बच्चों ने जन्म लिया। जानकारी के अनुसार कुछ परिवारों ने बच्चों का नाम 'यास' रखा है।
 
06:14 PM, 27-May-2021

बिहार: अगले 48 घंटों तक बारिश का अनुमान

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विवेक सिन्हा ने कहा कि चक्रवात यास कम दबाव वाले क्षेत्र में फैल गया है और इसके प्रभाव से अगले 48 घंटों तक राज्य में हल्की से मध्यम बारिश होगी। उन्होंने कहा कि कुछ इलाकों के लिए अलर्ट जारी किया गया है, जहां भारी बारिश हो सकती है।
06:08 PM, 27-May-2021

बंगाल: पुरबा मेदिनीपुर में भी नुकसान

बंगाल के पुरबा मेदिनीपुर में एक गांव में चक्रवार यास के चलते कई मकान और दुकानों को नुकसान पहुंचा है। एक स्थानीय निवासी ने कहा कि इससे हमें भारी नुकसान पहुंचा है। हमारे घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। प्रशासन की ओर से हमें अभी तक कोई मदद नहीं मिली है।
 
05:40 PM, 27-May-2021

झारखंड की ओर बड़ा रहा चक्रवात यास

चक्रवात यास कमजोर होकर अब झारखंड की तरफ बढ़ रहा है और यहां अलग-अलग आश्रय स्थलों में शरण लिए लोग अपने घरों की तरफ लौटने लगे हैं। हालांकि कोविड-19 के खतरे के बीच इस तूफान की वजह से अपने घरों से बाहर निकलने को विवश लोगों के संक्रमित होने का खतरा और ज्यादा बढ़ गया है।
05:28 PM, 27-May-2021

पूर्वी उत्तर प्रदेश के 25 जिलों में भारी बारिश की संभावना

भारतीय तटों से टकराने के बाद चक्रवाती तूफान 'यास' भले ही कुछ कमजोर पड़ गया हो लेकिन उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अगले एक-दो दिन में भारी बारिश के रूप में इसका असर पड़ने की प्रबल संभावना है। लखनऊ स्थित मौसम केंद्र ने शुक्रवार और शनिवार को राज्य के पूर्वी हिस्सों के 19 जिलों में बहुत भारी बारिश होने तथा छह जिलों में सामान्य से भारी वर्षा होने का अनुमान लगाया है ।

श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थ नगर, बस्ती, संत कबीर नगर, महराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, वाराणसी, चंदौली और सोनभद्र जिलों तथा उनके आसपास के इलाकों में तेज हवा चलने और भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है। इसके अलावा अयोध्या, सुल्तानपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, संत रविदास नगर और मिर्जापुर जिलों तथा उनके आसपास के क्षेत्रों में भी तेज हवा चलने तथा सामान्य से भारी वर्षा होने की संभावना है।
05:16 PM, 27-May-2021

ओडिशा: नौकाओं को नुकसान, वित्तीय मदद की मांग

ओडिशा के वासुदेवपुर में चक्रवात यास की वजह से बड़ी संख्या में नौकाओं को नुकसान पहुंचा है। एक मछुआरे ने कहा कि करीब 300 से 500 नौकाओं को नुकसान पहुंचा है। प्रशासन से अगर वित्ती सहायता मिलती है तो यह हमारे लिए मददगार होगा।
 
04:57 PM, 27-May-2021

ओडिशा: वासुदेवपुर में बिगड़े हालात

ओडिशा के भद्रक जिले में वासुदेवपुर के कई इलाके बाढ़ की चपेट में आ गए हैं, सड़कों पर पानी भर गया है और कई मकानों को क्षति पहुंची है। वासुदेवपुर के निवासी दिलीप मैती ने कहा कि हमारे पास कुछ नहीं बचा है। सबकुछ बारिश में भीग गया है। हमें दो दिन से खाना नहीं मिल पाया है। मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि मेरा घर फिर बनाया जाए और हमें कुछ खाने के लिए दिया जाए।
 
03:59 PM, 27-May-2021

बचाव और मदद के काम में जुटी नौसेना

पश्चिम बंगाल में नौसेना अधिकारी प्रभारी कमोडोर रितुराज साहू ने कहा कि हमारे पास दो गोताखोर दल और पांच बाढ़ राहत दल हैं। धामरा के पास चार युद्धपोत तैनात हैं। अगर जरूरत पड़ी तो वे मदद करने के लिए तैयार हैं। हमारे पास बेघर लोगों की मदद के लिए पास भोजन सामग्री और कपड़े हैं। कमोडोर साहू ने कहा कि हमारे राहत दल दीघा, फ्रासेरगंज और कोंताई में लोगों को बचाने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00